बच्चों के साथ मम्मी का जो सबसे बड़ा टास्क होता है, वह है उन्हें सही समय पर सुलाना ताकि उनकी नींद पूरी हो जाए और वह अगले दिन पूरी तरह फ्रेश होकर उठें। वहीं दूसरी ओर बच्चे ज्यादा से ज्यादा देर तक खेलना चाहते हैं और जब उन्हें रात में सोने के लिए कहा जाता है तो उनका एक ही जवाब होता है कि मम्मी थोड़ी देर और। ऐसे में मम्मी को यह समझ नहीं आता कि उन्हें समय पर कैसे सुलाया जाए।

अगर आप भी हर दिन अपने घर में बच्चों के साथ बेडटाइम को लेकर स्ट्रगल करती हैं तो चलिए आज हम आपको ऐसे कुछ आसान तरीकों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप बच्चों को रात में समय पर सुला सकती हैं-

इसे भी पढ़ें: Parenting Tips: इस तरह प्यार से समझाएंगी तो आपका चंचल और शरारती बच्चा भी रहेगा खुश

बनाएं शेड्यूल

win the bedtime battle with young kids and teens INSIDE

अगर आप बच्चों को समय पर सुलाना चाहती हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आप घर में एक शेड्यूल बनाएं। कोशिश करें कि आप उस शेड्यूल के अनुसार बच्चों के कार्य पूरे करके बिस्तर पर लिटा दें। जब आप हर दिन एक तय समय पर बच्चों को बिस्तर पर लिटाएंगी तो कुछ ही दिनों में उन्हें खुद ब खुद उस समय पर नींद आने लगेगी।

न हो कोई डिस्ट्रैक्शन 

win the bedtime battle with young kids and teens INSIDE

अधिकतर बच्चों के समय पर न सोने का एक मुख्य कारण उनके आसपास का माहौल होता है। मसलन, अगर उनके कमरे में अगर टीवी चल रहा है या फिर आप फोन पर बिजी हैं, तो बच्चों का ध्यान भी उस ओर ही जाता है और फिर वह सोते नहीं है। इसलिए बेडटाइम पर स्क्रीन को बंद कर दें और बच्चों को आराम से सोने दें।

बनाएं माहौल

win the bedtime battle with young kids and teens INSIDE

बच्चों को सुलाने के लिए आप कमरे का माहौल भी उस तरह से बनाएं। इसके लिए आप कमरे की लाइट बंद कर दें और ध्यान रखें कि कमरे में शांति हो। इस तरह के माहौल से उनके मस्तिष्क में मैसेज जाता है कि अब उन्हें सोना है और उन्हें जल्दी नींद आती है।

इसे भी पढ़ें: बच्चों को बनाना है इमोशनली स्ट्रॉन्ग, इन बातों पर करें जरा गौर

सुनाएं कहानी

win the bedtime battle with young kids and teens INSIDE

कुछ बच्चों को अंधेरे से डर लगता है तो कुछ बच्चे अकेले नहीं सो पाते हैं। ऐसे बच्चों को सुलाने के लिए कहानियों का सहारा लिया जा सकता है। आप बच्चों को लिटाकर उनके पास बैठें और उन्हें कहानी सुनाएं। अक्सर देखा जाता है कि छोटे बच्चों को कहानी सुनना पसंद होता है और वह कहानी सुनते-सुनते ही सो जाते हैं।

गर्म दूध

win the bedtime battle with young kids and teens INSIDE

यह भी बच्चों को सुलाने का एक अच्छा तरीका है। आप बच्चों को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध दें। इससे नर्वस सिस्टम रिलैक्स होता है और रात में अच्छी नींद आती है। जिन लोगों को अनिद्रा की समस्या है, वह भी अगर रात में गर्म दूध का सेवन करते हैं तो इससे उन्हें नींद आने में सहायता मिलती है।