• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

BCG 2022: भारत की बेटियों ने रचा इतिहास, महिला टीम ने लॉन बॉल में हासिल किया स्वर्ण पदक

बर्मिंघम में चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की महिला खिलाड़ी लगातार उम्दा प्रदर्शन कर रही हैं।   
author-profile
  • Geetu Katyal
  • Editorial
Published -01 Aug 2022, 14:48 ISTUpdated -03 Aug 2022, 10:04 IST
Next
Article
indian women lawn ball team won gold medal

बर्मिंघम में 28 जुलाई को कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत हुई थी। भारत के खिलाड़ी भी गेम्स में बढ़चढ़कर कर हिस्सा ले रहे हैं और अब तक 10 मेडल हासिल कर चुके हैं। इस साल के कॉमनवेल्थ गेम्स में इंडिया की तरफ से कुल 213 खिलाड़ी गए हैं जो अलग-अलग खेलों में भाग लेंगे। पहले कुल खिलाड़ियों की संख्या 215 थी लेकिन नीरज चोपड़ा इंजरी और ऐश्वर्या के डोप टेस्ट को पार करने में असफल होने की वजह से दोनों खिलाड़ी बाहर हो हैं। बता दें कि कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रही हैं। देश के लिए पहला गोल्ड मेडल मीराबाई चानू ने ही हासिल किया है।

लॉन बॉल टीम ने रचा इतिहास

भारत की महिला टीम ने लॉन बॉल में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। भारत ने न्यूजीलैंड को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। भारतीय टीम न्यूजीलैंड को 16-13 से हराकर पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में पहुंची थी। फाइनल मैच में अफ्रीकी टीम से मुकाबला हुआ जिसमें 17-10 से हराकर भारत ने मेडल अपने नाम किया है।

हरजिंदर ने जीता ब्रॉन्ज मेडल

हरजिंदर कौर ने स्नैच में 93 किलो और क्लीन एंड जर्क में 119 किग्रा का वजन उठाकर कुल 212 किग्रा भार उठाकर भारत की झोली में ब्रॉन्ज मेडल डाला है। वेटलिफ्टर हरजिंदर कौर की संपूर्ण भारत प्रशंसा कर रहा है। 

बिंद्यारानी देवी ने किया सिल्वर पर कब्जा

मीराबाई चानू के अलावा बिंद्यारानी देवी ने भी सिल्वर मेडल जीत लिया है। उन्होंने 55 किलो वर्ग में सिल्वर मेडल हासिल किया है। बिंद्यारानी ने पहले प्रयास में 81 किग्रा भारोत्तोलन के साथ शुरुआत की थी। उन्होंने दूसरे प्रयास में 84 किलो और तीसरे प्रयास में 86 किलो वजन उठाया था। पीएम मोदी ने उन्हें बधाई देते हुए ट्विटर पर लिखा "बर्मिंघम में रजत पदक जीतने के लिए बिंद्यारानी देवी को बधाई। यह उपलब्धि उनके तप की अभिव्यक्ति है और इससे प्रत्येक भारतीय बहुत प्रसन्न हुआ है। मैं उनके भविष्य के प्रयासों के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।" (देश के लिए 2 ओलंपिक मेडल लाने वाली खिलाड़ी पीवी सिंधु की इंस्पायरिंग कहानी)

मीराबाई चानू ने रचा इतिहास 

वेटलिफ्टिंग में शानदार प्रदर्शन करके भारत की मीराबाई चानू ने पहला गोल्ड मेडल दिलाया है। उन्होंने टोटल 201 किलो का वजन उठाया। जहां दूसरे वेटलिफ्टर्स 60 किग्रा से शुरुआत की वहीं 27 साल की मीराबाई चानू ने पहले ही प्रयास में 84 किग्रा वजन उठाया। मीराबाई चानु को आम नागरिक से लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक हर कोई बधाई दे रहा है। पीएम मोदी ने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए लिखा, "मीराबाई चानू ने  भारत को एक बार फिर गौरवान्वित किया! हर भारतीय इस बात से खुश है कि उन्होंने बर्मिंघम खेलों में स्वर्ण पदक जीता और एक नया राष्ट्रमंडल रिकॉर्ड बनाया। उनकी सफलता कई भारतीयों को  प्रेरित करती है, खासकर युवा एथलीटों को।" 

इसे भी पढेंः गोल्डन गर्ल अवनि लेखरा के बारे में जानें, जिन्होंने पैरा ओलंपिक में लगातार 2 मेडल जीतकर बनाया इतिहास

इसे भी पढेंः मिलिए भारत की पहली महिला लेफ्टिनेंट जनरल पुनीता अरोड़ा से

भारत ने हासिल किए 10 मेडल

  • 4 स्वर्ण
  • 3 रजत
  • 3 कांस्य

हर कोई महिला खिलाडियों के परिश्रम की प्रशंसा कर रहा है। फिर चाहे मीराबाई चानू हो बिंद्यारानी देवी या लॉन बॉल टीम। 

Recommended Video

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Photo Credit: PM Modi/Twitter

 

 

 

 

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।