Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    Holy River Bathing: इस कारण से किया जाता है पवित्र नदी में स्नान, जानें नियम और लाभ

    आज हम आपको पवित्र नदियों में स्नान के कारण, लाभ, नियम और प्रकार बताने जा रहे हैं।  
    author-profile
    • Gaveshna Sharma
    • Editorial
    Updated at - 2022-12-09,15:39 IST
    Next
    Article
    nadi mein snan

    Holy River Bathing: हिन्दू धर्म में नदियों को पवित्र और नदी में स्नान करने को पुण्यदायी माना गया है। ऐसे में हमारे ज्योतिष एक्सपर्ट डॉ राधाकांत वत्स द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर आज हम आपको पवित्र नदियों में स्नान के नियम, लाभ, महत्व और प्रकार बताने जा रहे हैं।

    नदी में स्नान करने का महत्व (Holy River Bathing Significance)

    Holy River Bathing Significance

    • नदी में स्नान करने का अत्यंत महत्व है।
    • नदी में स्नान करने से दुष्ट विचार नहीं पनपते।
    • नदी में स्नान करने से तन और मन शुद्ध होता है।
    • नदी में स्नान करने से नकारात्मक ऊर्जा (नकारात्मक ऊर्जा हटाने के उपाय) नष्ट होती है।
    • नदी में स्नान करने से पापों से मुक्ति मिल जाती है।
    • नदी में स्नान करने से रूप, तेज और बल की प्राप्ति होती है।
    • नदी में स्नान करने से तप और मेधा जैसे गुणों का संचार होता है।
    • नदी में स्नान करने से आरोग्य जीवन मिलता है।

    नदी में स्नान करने के नियम (Holy River Bathing Rules)

    • नदी में स्नान हमेशा ब्रह्म मुहूर्त में किया जाना चाहिए।
    • स्नान के दौरान साबुन या शैम्पू का इस्तेमाल नदी में बिलकुल भी नहीं करना चाहिए।
    • नदी में मैले वस्त्रों के साथ स्नान नहीं करना चाहिए।
    • नदी में स्नान के दौरान मंत्रोच्चार अवश्य करना चाहिए।
    • नदी में स्नान के बाद यज्ञ का विधान विशेष माना गया है।
    • नदी में स्नान के दौरान सूर्य अर्घ्य अवश्य देना चाहिए।
    Holy River Bathing Rules

    नदी में स्नान करने के प्रकार (Holy River Bathing Types)

    • मंत्र स्नान- स्नान के दौरान मंत्रोच्चार करना।
    • भोम स्नान- स्नान से पूर्व मिट्टी से शरीर को भिगाना।
    • अग्नि स्नान- यह स्नान तांत्रिकों द्वारा किया जाता है। इसमें भस्म का प्रयोग होता है।
    • वायव्य स्नान- गाय (गाय को रोटी खिलाने के फायदे) के खुर की धुली शरीर पर लगाना।
    • दिव्य स्नान- सूर्य की किरणों को शरीर पर महसूस करते हुए स्नान करना।
    • वरुण स्नान- जल में डुबकी लगाकर स्नान करना।
    • मानसिक स्नान- पवित्र नदी के अभाव में आत्म ध्यान या नदी का स्मरण करते हुए घर पर स्नान करना।

    नदी में स्नान करने के लाभ (Holy River Bathing Benefits)

    Holy River Bathing Benefits

    • पवित्र नदी में स्नान करने से भगवान की कृपा प्राप्त होती है।
    • नदी में स्नान से अंतर्मन शांत होता है और व्यक्ति के दोष दूर होते हैं।
    • नदी में स्नान से ग्रह दशा में भी सुधार आता है।

    तो ये थे नदी में स्नान का महत्व, नियम, लाभ और प्रकार। अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। आपका इस बारे में क्या ख्याल है? हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

    Image Credit: Shutterstock, Pinterest

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।