अमिताभ बच्चन कभी अपने अभिनय, तो कभी अपने व्यक्तित्व की खूबियों की वजह से हमेशा चर्चा में रहते हैं। लेकिन इस बार बिग बी के घर जलसा की एक फैमिली फोटो लोगों के बीच आकर्षण का विषय बनी हुई है। दरअसल, बिग बी ने अपने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर शेयर की है जिसमें अमिताभ और जया समेत घर के अन्य सदस्य भी मौजूद हैं। लेकिन इससे ज्यादा आकर्षण की वजह है उनकी  फैमिली फोटो के पीछे बने एक बैल की पेंटिंग।

जी हां, अमिताभ के द्वारा शेयर की गयी तस्वीर में बैल की तस्वीर सबको सोचने पर मजबूर कर रही है कि आखिर ऐसी तस्वीर लगाने का मतलब क्या है और ये पेंटिंग आखिर किस बात की ओर इशारा करती है। इस बारे में हमने प्रसिद्ध एस्ट्रोलॉजर सोनिया मलिक, जानी मानी वास्तु एक्सपर्ट Dr. Madhu Kotiya और Artist Akash Choyal से बात की। आइए जानें क्या है इस बैल की पेंटिंग्स के बारे में एक्सपर्ट्स की राय और इस पेंटिंग का क्या महत्व है।   

फैमिली फोटो में क्या है ख़ास 

amitabh bachchan home jalsa pic image

अमिताभ के इंस्टाग्राम पर पोस्ट की गई इस फैमिली फोटो में  अभिषेक बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन, आराध्या बच्चन, श्वेता बच्चन नंदा, अगस्त्य नंदा नव्या नवेली नंदा, अमिताभ बच्चन और जया बच्चन मुख्य फ्रेम में हैं और साथ ही उनके बैकग्राउंड में एक बैल की तस्वीर नज़र आ रही है। वास्तव में ये बैल की तस्वीर तेजी से अमिताभ के फैंस का ध्यान अपनी और खींच रही है। 

इसे जरूर पढ़ें:Vastu Tips: घर के बेडरूम में भूलकर भी न लगाएं ऐसी तस्वीरें, बन सकती हैं झगड़े का कारण

बैल की पेंटिंग ने किया सभी को आकर्षित 

bull painting significance

जब से फोटो सोशल मीडिया पर आई है, तब से हर कोई पेंटिंग के बारे में जानने के लिए उत्सुक है। जहां कुछ ने तस्वीर से मजेदार मीम्स तैयार किए, वहीं कुछ लोग बिग बी के घर में बड़ी पेंटिंग का महत्व और कीमत जानना चाहते हैं।

बैल की पेंटिंग की खासियत 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अमिताभ बच्चन के घर में बुल पेंटिंग मंजीत बावा (1941-2008) की पेंटिंग है, जो धूरी, पंजाब के एक कलाकार थे। इस कलाकार ने कथित तौर पर अपने काम के लिए भारतीय पौराणिक कथाओं और सूफी दर्शन से प्रेरणा ली थी। प्रमुख रूप से, उनके विषयों में भगवान शिव, देवी काली, प्रकृति, जानवरों जैसे अन्य लोगों के आंकड़े शामिल थे। कथित तौर पर, वह एक कस्टम रंग पैलेट से जुड़े रहते थे, जिसमें लाल, गुलाबी, बैंगनी जैसे रंग होते थे। मंजीत बावा ने बांसुरी बजाना सीखा था और तभी से बांसुरी के रूपांकन भी उनकी कला का हिस्सा बन गए थे। अमिताभ बच्चन के घर में बैल की पेंटिंग की कीमत 4 करोड़ रुपये बताई जा रही है। (ना रखें हनुमान जी की ऐसी तस्वीरें)

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Amitabh Bachchan (@amitabhbachchan)

बैल की पेंटिंग के लिए क्या कहता है ज्योतिष 

अमिताभ जी के घर में लगी इस खास पेंटिंग का महत्व आप सभी जानना चाहते होंगे। इसलिए हमने ज्योतिष एक्सपर्ट सोनिया मलिक से बात की और उन्होंने बताया कि दौड़ते हुए बैल की इस तरह की तस्वीर रखने से परिवार में शांति और खुशी बनाए रखने में मदद मिलती है। यह परिवार के सदस्यों के बीच किसी भी अनावश्यक बहस, विद्वेष को रोकती है। दौड़ते हुए बैल की तेज चाल जीवन में प्रगति को दर्शाती है। सोनिया मलिक बताती हैं कि जब भी कोई अपने घरों में इस तरह की तस्वीर का उपयोग करना चाहता है, तो उसे यह सुनिश्चित करना चाहिए कि तस्वीर में हलचल दिखाई दे। इससे परिवार के सभी सदस्यों को अपने लक्ष्य के प्रति निरंतर प्रेरित रहने में मदद मिलेगी।

इसे जरूर पढ़ें:Vastu Tips: जीवन में खुशियां और धन लाभ के लिए इन वास्तु दोषों से रहें दूर

Recommended Video


बैल की पेंटिंग के लिए क्या कहता है वास्तु 

vastu expert madhu kotiya

अमिताभ के घर में लगी हुई बैल की पेंटिंग के बारे में Dr. Madhu Kotiya ,Tarot mentor, Numerologist and Vastu Expert बताती हैं कि बैल शक्ति, गति और आशावाद का प्रतीक होता है। बैल न केवल आपको नकारात्मक ऊर्जाओं से बचाता है बल्कि धन संचय करने वाला भी है। धन की प्राप्ति के लिए घर में बैल की पेंटिंग लगाने के लिए सबसे अच्छी दिशा या तो दक्षिण-पूर्व का कोना होता है या उत्तर दिशा है। इन दिशाओं में बैल की पेंटिंग लगाने से घर की आर्थिक स्थिति ठीक रहती है। इसलिए पेंटिंग लगाते समय दिशा का ध्यान जरूर रखें। 

बैल की पेंटिंग के लिए क्या है आर्टिस्ट की राय 

artist akash choyal

इस पेंटिंग के बारे में प्रसिद्ध  Artist Akash Choyal का कहना है कि भारतीय संस्कृति में पशु बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और उनमें से कुछ को दिव्य माना जाता है। बैल या नंदी भगवान शिव का वाहन है जो सबसे शक्तिशाली और सबसे मजबूत भगवान होने के साथ संहारक हैं। बैल अपनी शक्ति के लिए भी जाना जाता है और भारत में उनकी पूजा की जाती है क्योंकि वे हमारे भगवान को प्रिय हैं। ऐसा माना जाता है कि अगर आप नंदी के कानों में अपनी इच्छा व्यक्त करते हैं, तो वह सीधे शिव धाम तक पहुंच जाती है और पूरी हो जाती है। भारतीय कला हमेशा प्रकृति, जानवरों और देवी-देवताओं के इर्द-गिर्द घूमती रही है और भारतीय कला में बैल हमेशा से बहुत ही प्रमुख रहा है।

इस प्रकार घर में दौड़ते हुए बैल की तस्वीर रखना बहुत शुभ माना जाता है क्योंकि ये घर की आर्थिक स्थिति ठीक करने के साथ घर के लोगों के बीच सामंजस्य भी स्थापित करता है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: instagram.com @amitabhbachchan