भारत में धारा 377 को 6 सितंबर 2018 को खारिज किया गया था। सुप्रीम कोर्ट का ये ऐतिहासिक फैसला कुछ ऐसा था कि लाखों लोगों ने इसका खुल कर स्वागत किया था। पर इसके खारिज होने के बाद भी एक साल में भी इसे लेकर ठोस कानून नहीं बन पाए हैं। Vidhi Centre for Legal Policy की एक स्टडी में ये बात सामने आई है कि अभी भी इसके लागू होने पर संशय है और इस समुदाय को परेशानी उठानी पड़ रही है। जहां एक ओर भारत में इतनी सारी बातें चल रही हैं वहीं दूसरी ओर अमेरिका में एक भारतीय और पाकिस्तानी जोड़े ने शादी की और पूरी रस्में भी निभाईं।  

कैलिफोर्निया में हुई ये शादी कई मायनों में खास थी। पहला तो इसलिए क्योंकि भारत अभी भी Article 377 को लेकर एक नई शुरुआत की ओर बढ़ रहा है। और दूसरा इसलिए कि ये भारत और पाकिस्तान दोनों के लिए एक मिसाल है। HerZindagi की तरफ से इस जोड़े को ढेर सारी बधाई।  

lesbian couple india

इसे जरूर पढ़ें- महिलाओं को संरक्षण देने वाले एडल्टरी कानून पर सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने पूछा, 'आखिर इसे क्यों माना जाए अपराध' 

बियांका और साइमा की कहानी-  

बियांका मैली और साइमा अहमद दोनों ने अपने परिवार और दोस्तों के सामने एक दूसरे को अपना बनाया। ये पूरी शादी 4 दिन के फंक्शन में हुई थी। बियांका कोलंबिया और भारत के बैकग्राउंड से आती हैं और साइमा पाकिस्तानी मुस्लिम हैं। ये दोनों 2014 में मिले थे और एक इवेंट जिसका नाम था ‘Coming Out Muslim’ उसमें ये दोनों ही स्पीकर थे।  

india and pakistan wedding article

पहली मुलाकात में ही ये दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे, लेकिन ये जानने में दोनों को एक साल लग गया कि दोनों को एक दूसरे के साथ जिंदगी भर रहना है। इस जोड़े ने अपनी रिलेशनशिप में कई तरह की मुश्किलें झेलीं। पर फिर भी डटे रहे। परिवार, समाज सभी के आगे डटकर खड़े हुए। 

wedding story

ऐसे प्रपोज किया था एक दूसरे को-  

दरअसल, साइमा चाहती थीं कि वो बियांका को प्रपोज़ करें। उनके लिए उनकी पसंद की अंगूठी भी लाना चाहती थीं। लेकिन इससे पहले कि साइमा कुछ कहतीं कोलंबिया ट्रिप पर बियांका ने ही साइमा को प्रपोज कर दिया।  

इसे जरूर पढ़ें- हर महिला जानें अपने इन कानूनी अधिकारों के बारे में और इस्तेमाल करें क्योंकि अब समझौता नहीं कर सकते 

ऐसे हुई शादी- 

शादी की रस्मों और फंक्शन को लेकर भी इस जोड़े ने एक दूसरे के साथ सब तय किया। बियांका के पिता के बागीचे में 200 लोगों के लिए खूबसूरत डेकोरेशन और पार्टी का इंतज़ाम किया गया। ये शादी ऐसी थी जिसे देखकर साफ समझ आता है कि प्यार किसी भी मुश्किल को हल कर लेता है। शादी की 4 रस्में हुईं और दोनों ने एक दूसरे के साथ मैचिंग आउटफिट खरीदे। बियांका ने दुल्हन का लहंगा पहना और साइमा ने शेरवानी पहनी। 

शादी की थीम गोल्ड और व्हाइट रंग की थी। बियांका ने खूबसूरत तरीके से शादी के वेन्यू को सजाया। सभी दोस्तों और परिवार वालों ने इस शादी को स्पेशल बनाने में मदद की। हर रस्म का कलर कॉम्बिनेशन अलग रखा गया था। 

बहुत से लोगों ने इनकी शादी को लेकर बधाइयां दी हैं। हां, कुछ ऐसे लोग भी थे जिन्होंने इन तस्वीरों पर बुरे कमेंट किए, लेकिन फिर अच्छाई और बुराई तो हर जगह होती है न। यही थी बियांका और साइमा की कहानी। 

धारा 377 और LGBTQ कम्युनिटी को लेकर भारत में कई तरह की बातें होती रहती हैं। ऐसे में ये एक अच्छी मिसाल है। ये ऐतिहासिक इसलिए भी है क्योंकि भारत में अभी भी समलैंगिक जोड़ों को शादी करने की कानूनी मान्यता नहीं दी गई है। अभी लड़ाई काफी लंबी है।