चांदनी चौक की परांठेवाली गली सदियों पुरानी है। क्या आप जानते हैं कि चांदनी चौक को मुगल सम्राट शाह जहां की बेटी राजकुमारी जहांआरा बेगम ने design किया है। चांदनी चौक सन 1650 में लाल किले के साथ ही बनवाया गया था। यहां पर पहले चांदी की दुकाने होती थी बाद में यहां धीरे-धीरे और गहने कपड़ों की दुकाने बढ़ती गई। सन 1872 में पंडित गया प्रसाद परांठावाला से चांदनी चौक में परांठे वाली गली की शुरूआत हुई थी। सन 1960 तक यहां पर 20 परांठे वाली दुकान हो चुकी हैं। आपको बता दें कि ये सारी दुकानें एक ही खानदान की हैं। 1875 में पंडित कन्हैया लाल दुर्गाप्रसाद दीक्षित, 1882 में पंडित दयानंद शिवचरन और 1886 में पंडित बाबूराम देवीदयाल परांठेवाला ने यहां एक-एक कर दुकानें खोली। पिछली 6 पीढियों से यहां पंराठेवाली दुकान को उनकी फैमिली चला रही है। वैसे आपको ये भी बता दें की इस गली का नाम सन 1911 में बदलकर छोटा दरीबा हो चुका है लेकिन आज भी ये गली परांठा वाली गली के नाम से जानी जाती है। 

यहां कौन-कौन से परांठे मिलते हैं? 

delhi chandni chowk gali paranthe wali

Image Courtesy: Capertravelindia/Blogspots.com

परांठा वाली गली में आज भी उसी पुरानी तरह से पंराठे बनाए जाते हैं। आपको ये बताना बहुत ही जरूरी है कि यहां पर सिर्फ शुद्ध शाकाहारी परांठे ही मिलते हैं इनमें प्याज और लहसुन तक नहीं डाला जाता वजह है कि इन दुकानों को पंडित बिरादरी के लोगों ने खोला था और तब से उन्ही के खानदान इस परंपरा को उन्ही की तरह आगे बढ़ा रहे हैं। यहां पर ब्राह्मीण तौर-तरीकों से खाना बनाया जाता है। परांठों को और exotic बनाने के लिए उसमें काजू, बादाम जैसे सूखे मेवे भी डाले जाते हैं। यहां पर आपको परांठो की तरह-तरह की कई variety मिलेंगी।

Read more: सर्दी जाने से पहले जरूर खाकर देखिए बथुये के पराठे

यहां ये famous लोग भी परांठे खाने आ चुके हैं

chandni chowk gali paranthe wali celebs

अज़ादी के बाद भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और विजया लक्ष्मी पंडित के साथ यहां एक बार परांठे खाने के लिए आए थे। उनकी ये तस्वीर आज भी इस परांठे वाली गली में  दुकान में लगी हुई है। देश के पहले प्रधानमंत्री से लेकर बॉलीवुड के सुपरस्टार रनबीर कपूर तक सब यहां पर ये परांठे खा चुके हैं। इनके स्वाद की चर्चा इतनी दूर-दूर तक है कि लोग यहां एक बार परांठे खाने के बाद जिससे भी मिलते हैं उससे इनकी तारीफ जरूर करते हैं। ऐसे ही ये दुकाने यहां पर सदियों से मशहूर नही है। इनके स्वाद में तब से लेकर अब तक कोई अंतर भी नहीं आया है।

Read more: वजन बढ़ने के डर से नहीं खाती हैं चीनी का परांठा तो खाएं गुड़ का परांठा

परांठो के साथ और क्या serve किया जाता है? 

delhi chandni chowk gali paranthe wali all

Image Courtesy: Pinterest.com

मिक्स वेज परांठे, रबड़ी, खोया परांठा, गोभी परांठा, परत परांठा जैसे कई तरह के परांठे यहां पर आपको खाने के लिए मिलते हैं। यहां परांठे को रायते और सिर्फ अचार के साथ ही serve नहीं किया जाता बल्कि यहां पर आपको इनके साथ इमली की चटनी, धनिया-पुदीने की चटनी, सब्जियों का मिक्स अचार, आलू-पनीर की सब्जी, आलू मेथी की सब्जी, और सीताफल की सब्जी भी परोसा जाता है।

Read more: ऐसे बनता है 81 लेयर वाला वरकी परांठा जिसे लच्छेदार चुरचुर परांठा भी कहते हैं

delhi chandni chowk gali paranthe wali deep fry

Image Courtesy: Saichintala/Wordpress.com

यहां पर जो परांठे बनाए जाते हैं उन्हे खाने से पहले आप कम तेल घी की उम्मीद बिल्कुल भी ना रखें। क्योंकि यहां पर घी में परांठो को deep fry किया जाता है। यकीन मानिए इतना तला भुना खाने के बाद भी आपका मन और खाने का करता है। पेट भले ही भर जाए लेकिन इन परांठों के स्वाद की भूख खत्म नहीं होती।

अगर आप कभी चांदनी चौक घूमने जा रहे है या आप दिल्ली में हैं और आपका कुछ अच्छा खाने का मन कर रहा है तो आपको एक बार तो यहां आकर इस गली में परांठे जरूर खाने चाहिए। ऐसा स्वाद आपको किसी बड़े महंगे रेस्टोरेंट और होटल में भी नहीं मिलेगा। आपको आज भी यहां पर पुराने भारत की झलक ही दिखेगी। खाने के जायके से लेकर यहां के लोगों के व्यवहार तक आपको सब अपनी तरफ खींचेंगें। 

Read more: नरेंद्र मोदी के साथ royal dinner में इवांका ट्रंप ने क्या खाया?

  • Inna Khosla
  • Her Zindagi Editorial