अगर आपको साउथ इंडियान डिश पसंद है तो डोसा भी आपका फेवरेट होगा। यह बेहद लाइट और टेस्‍टी फूड होता है। डोसे की सबसे खास बात होती है कि इसे संभर और कई सारी चटनियों के साथ परोसा जाता है। डोसे के साथ टमाटर, मूंगफली और गरी की चटनी परोसी जाती। सभ चटनियों के स्‍वाद भी अलग होते हैं और सभी स्‍वादिष्‍ट भी होती हैं। मगर, सबसे ज्‍यादा लोगों को गरी की चटनी ही प्रिय होती है। वैसे आपको बता दें कि यह चटनी जितनी स्‍वादिष्‍ट होती हैं इसे बनाने का तरीका उतना ही अलग होता है। यह तरीका कठिन तो नहीं मगर, अन्‍य च‍टनियों को बनाने से भिन्‍न जरूर है। इसे आप घर पर ही आसानी से बना सकती हैं। इस चटनी को बनाने की आसन विधि हम आपको बताएंगे। 

इसे जरूर पढ़ें:व्रत के खाने के टेस्ट को बढ़ा देगी कुछ ही मिनटों में तैयार हरी चटनी

kerala coconut chutney

सामग्री 

  • 250 ग्राम दही 
  • 3 इंच सूखे नारियल का तुकड़ा 
  • बारीक कटी धनिया पत्‍ती 
  • 10 दाने चने 
  • 1 इंच अदरका का तुकड़ा 
  • 1 चम्‍मच राई दाना 
  • 1 बड़ा चम्‍म्‍च तेल 
  • 4-5 करी पत्‍ता 
  • 2 सूखी लाल मिर्च 
 
coconut chutney recipe

विधि 

  • सबसे पहले सूखे नारियल के टुकड़े को छोटे पीस में काटें और कुछ देर के लिए पानी में भिगो दें। इसके साथ चने भी भिगो दें। (कुंदरू की चटनी को बनाने की आसान घेरलू रेसिपी)
  • अब धनिया पत्‍ती को बारीक काटें। इसके साथ अदर को हरी मिर्च के टुकड़े भी काट लें। 
  • पानी में भीगे नारियल और चने को निकालें और धनिया, मिर्चा और अदरक के साथ मिला कर उसमें 2 बड़े चम्‍मच दही डालें और फिर उसे मिक्‍सर में पीस लें। 
  • मिक्‍सर में बारीक पीसने के बाद इस मिश्रण को बाकी बचे हुए दही में मिलाएं। 
  • अब तड़के की तैयारी करें। इसके लिए कढ़ाई में तेल डालें। फिर इसमें राई दाना डालें। इसके बाद करी पत्‍ता और सूखी लाल मिर्च डालें। इस तड़के को चटनी में मिला दें। (खट्टे देसी टमाटर की मीठी चटनी बनाने की रेसिपी )
  • आख्रिर में काला नमक और भुना हींग जीरा चटनी में मिलाएं। चटनी को थोड़ा ठंडा होने के लिए फ्रिज में रख दें। 
  • इस चटनी को आप केवल 2 दिन तक ही फ्रिज में रख कर खा सकती हैं। इसके बाद इसका स्‍वाद खराब हो जाता है।