चाहे घर में साथ बैठकर मैच देखना हो या टीवी, उसका असली मजा तब तक नहीं आता, जब तक उसके साथ खाने के लिए पॉपकॉर्न न मिले। वैसे भी पॉपकॉर्न को सेहत के लिए काफी लाभदायक माना जाता है। इसके कई तरह के पोषक तत्व, फाइबर, पॉलीफेनोलिक कंपाउंड, एंटीऑक्‍सीडेंट, विटामिन बी कॉम्‍पलेक्‍स, मैंगनीज, आयरन और मैगनीशियम आदि पाया जाता है जो व्यक्ति को हेल्दी रहने में मदद करती है। वैसे भी पॉपकॉर्न की गिनती एक हेल्दी स्नैक्स में होती है और हल्की भूख के दौरान इसे खाने की सलाह दी जाती है। लेकिन यह केवल तभी संभव हो सकता है, जब इसे बाजार से लाकर खाने की बजाय घर पर बनाया जाए और बनाते समय कुछ गलतियों से बचा जाए। जैसे कुछ महिलाएं इसे बनाते समय अधिक नमक या तेल का इस्तेमाल करती हैं, जिससे इसके सभी पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं। अगर आप भी पॉपकॉर्न के स्वाद के साथ-साथ सेहत के लाभ भी उठाना चाहती हैं तो इसे बनाते समय कुछ गलतियों से बचें-

मकई का चुनाव

inside  popcorn mistakes story

पॉपकॉर्न बनाने के लिए एक अलग किस्म की मकई का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन एक गलती जो अधिकतर महिलाएं करती हैं, वत है मकई की क्वालिटी पर ध्यान न देना। बासी और पुराने मकई के दाने अपना मॉइश्चर खो चुके होते हैं, जिसके कारण वह सही तरह से नहीं बनते। इसलिए जब भी आप बाजार से मकई खरीदने जाएं तो सुनिश्चित करें कि वह अच्छी तरह से सील हों ताकि उनकी शेल्फ लाइफ बरकरार रहे।

नमक का इस्तेमाल

inside  popcorn mistakes story

पॉपकॉर्न बनाते समय नमक पर भी ध्यान देना बेहद जरूरी है। सबसे पहले तो इसमें बहुत अधिक नमक का प्रयोग न करें, यह सेहत के लिहाज से उचित नहीं है। दूसरा, पॉपकॉर्न बनाते समय रेग्युलर नमक का इस्तेमाल न करें। इसके दाने काफी मोटे होते हैं, जो पॉपकॉर्न पर चिपकते नहीं है और आपको नमक का अलग से स्वाद आता है, जिससे पॉपकॉर्न का टेस्ट खराब होता है। आजकल मार्केट में अलग से पॉपकॉर्न नमक मिलता है, आप उसका इस्तेमाल कर सकती हैं और अगर आप ऐसा नहीं करना चाहतीं तो एक बार अपने रेग्युलर नमक को ग्राइंड कर लें ताकि वह थोड़ा बारीक हो जाए।

इसे जरूर पढ़ें: पार्टी के लिए ऐसे कुरकुरे सूजी वेज कटलेट बनाएं, जानिए रेसिपी

बहुत अधिक पॉपकॉर्न 

inside  popcorn mistakes story

कुछ महिलाएं कुकर में पॉपर्न बनाते समय एक ही कई मकई के दाने डाल देती हैं और फिर तब तक इंतजार करती हैं, जब तक सभी दाने फूट न जाएं। लेकिन ऐसा करने से शुरूआत में पके हुए पॉपकॉर्न हल्के जल जाते हैं और उनका टेस्ट खराब हो जाता है। इसलिए इस स्थिति से बचने का उपाय है कि आप थोड़ा-थोड़ा करके ही पॉपकॉर्न बनाएं, ताकि हर दाना फूटे और कोई भी जले नहीं।

इसे जरूर पढ़ें: घर पर बनाएं झुरी आलू भाजा, जानें बनाने का आसान तरीका

गलत तेल का प्रयोग

inside  popcorn mistakes story

मकई का दाना तभी पॉप करता है, जब पैन का तापमान अधिक होता है इसलिए यह बेहद जरूरी है कि आप उसी के अनुरूप तेल का चयन करें। हमें उसी के अनुसार पकाने वाले तेल का चयन करना होगा। उदाहरण के लिए, कुछ महिलाएं पॉपकॉर्न को टेस्टी बनाने के लिए मक्खन का प्रयोग करती हैं, लेकिन उसका हीटिंग प्वाइंट कम होता है और पॉपकॉर्न बनाने के लिए उसका प्रयोग करने से उसका सारा स्वाद खराब हो जाता है। आप पॉपकॉर्न बनाने के लिए सनफ्लॉवर, कैनोला, कॉर्न या ग्रेपसीड ऑयल का प्रयोग कर सकती हैं। अगर आप पॉपकॉर्न में मक्खन का स्वाद एड करना चाहती हैं तो पॉपकॉर्न बनने के बाद इसका इस्तेमाल करें।