Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इन महिलाओं को किया पद्म भूषण और पद्मश्री से सम्मानित

    हम उन महिलाओं की बात करने जा रहे हैं जिन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद्म भूषण और पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया। 
    author-profile
    • Kirti Jiturekha
    • Editorial
    Updated at - 2019-03-17,17:57 IST
    Next
    Article
    padma shri and  padma bhushan  award

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को साल 2019 के लिए दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में पद्म भूषण और पद्मश्री पुरस्कार प्रदान किए। पुरस्कार पाने वाले में कलाकार, खिलाड़ी, साहित्य जगत के साथ अन्य क्षेत्रों के लोग भी शामिल रहें। हम उन महिलाओं की बात करने जा रहे हैं जिन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद्म भूषण और पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया। 

    तीजन बाई 

    padma shri and  padma bhushan  award

    प्रसिद्ध पंडवानी गायिका तीजन बाई को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया। तीजन बाई छत्तीसगढ़ राज्य के पंडवानी लोक गीत-नाट्य की पहली महिला कलाकार हैं। देश-विदेश में अपनी कला का प्रदर्शन करने वाली तीजनबाई को बिलासपुर विश्वविद्यालय द्वारा डी लिट की मानद उपाधि से सम्मानित भी किया जा चुका है। 

    इसे जरूर पढ़ें: दो वक्त की रोटी मिलती थी मुश्किल से आज दुनिया ‘किसान चाची’ के नाम से जानती है

    कमला पुजारी

    padma shri and  padma bhushan  award

    कमला पुजारी पद्म श्री से सम्मानित किया गया। कमला पुजारी विलुप्त प्रजाति के धान की किस्म की सुरक्षा के लिए वर्षों से काम कर रही हैं। 

    बछेंद्री पाल 

    padma shri and  padma bhushan  award

    महिला पर्वतारोही बछेंद्री पाल को पद्म भूषण अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। वह माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली भारतीय महिला हैं और दुनिया की 5वीं महिला पर्वतारोही हैं। वर्तमान में वे इस्पात कंपनी टाटा स्टील में कार्यरत हैं।

    इसे जरूर पढ़ें: पोलाची यौन उत्पीड़न केस में 50 से ज्यादा लड़कियां हैं पीड़ित

    प्रशांति सिंह 

    padma shri and  padma bhushan  award

    यूपी की रहने वाली प्रशांति सिंह ने बास्केटबॉल खेलने की शुरुआत स्कूली दिनों से की थी। महज 13 साल की उम्र में प्रशांति का चयन बनारस की जोनल टीम के लिए हुआ था। एक समय  प्रशांति की बड़ी बहन दिव्या सिंह का चयन राष्ट्रीय बास्केटबॉल टीम के लिए हुआ तो छोटी बहनों को भी प्रेरणा मिली। प्रशांति के साथ बहन दिव्या सिंह, आकांक्षा सिंह और प्रतिमा सिंह बास्केटबॉल में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। वहीं इनकी सबसे बड़ी बहन प्रियंका सिंह यूपी की बास्केटबॉल टीम की सदस्य रह चुकी हैं।

    बोम्बायला देवी लैशराम 

    padma shri and  padma bhushan  award

    भारतीय तीरंदाज महिला खिलाड़ी बोम्बायला देवी लैशराम को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। साल 2007 में बोम्बायला देवी ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में खेली थीं और 2016 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में इन्होंने भारत का प्रतिनिधित्व किया था। बोम्बायला मूलरूप से मणिपुर की रहने वाली हैं और इन्होंने अपने करियर की शुरुआत 1997 में की थी।

    Recommended Video

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।