• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

कौन हैं क्रिएटिव ऑवर्स के यूट्यूब इन्फ्लूएंसर देबारती धर और अम्लान भट्टाचार्य, जिनके क्राफ्ट आइडियाज हैं चारों तरफ चर्चा में

आइए जानें अपने सपनों को पंख देने वाले यूट्यूब इन्फ्लूएंसर देबारती धर और अम्लान भट्टाचार्य के बारे में जिनका चैनल क्रिएटिव ऑवर्स हमें कई क्राफ्ट आइडिया...
author-profile
Next
Article
diy creative idea

आंखों में सपने और कुछ कर गुजरने का जज्बा किसी भी व्यक्ति को उसके असली मुकाम तक पहुंचाता है। अगर कोई चाह ले तो बड़ी से बड़ी उपलब्धि भी हासिल की जा सकती है। ऐसी ही कुछ कहानी है 'क्रिएटिव ऑवर्स' यूट्यूब चैनल की देबारती धर और अम्लान भट्टाचार्य की। क्राफ्ट की जब भी बात आती है इनका नाम जरूर याद आता है। यूट्यूब चैनल क्रिएटिव ऑवर्स में न जाने कितने DIY आइडियाज मिलते हैं जिनसे आप घर में रखी हुई चीजों से ही घर को सजा सकती हैं। इन दोनों ने मिलकर क्राफ्ट को एक नया आयाम दिया और लोगों को अपने आइडिया से प्रेरणा दी कि घर की कोई भी वस्तु आपके लिए उपयोगी हो सकती है और आप उसके इस्तेमाल से नई चीजें बना सकते हैं।

दरअसल ये दोनों ऐसे यूट्यूब इन्फ्लूएंसर हैं जिन्होंने अपना सफर बहुत छोटे से आइडिया से शुरू किया और आज इनके यूट्यूब चैनल के 9 लाख से भी ज्यादा सब्सक्राइबर और फेसबुक पर करीब 3.5 लाख फॉलोवर्स हैं। ये दोनों उन लोगों में से हैं जो किसी छोटी सी उपलब्धि से संतुष्ट न होकर हमेशा कुछ बड़ा करना चाहते हैं। हमने भी उनके संघर्ष और उपलब्धियों की कहानी जानने के लिए उनसे बातें की। आइए आपको बताते हैं क्रिएटिव ऑवर्स DIY यूट्यूब चैनल के जन्म की कहानी इन्फ्लूएंसर देबारती धर और अम्लान भट्टाचार्य की जुबानी।    

कुछ अपने बारे में बताएं, आपकी पढ़ाई, आपके शौक और आपकी रुचियां 

creative hours debarati amlan

हम दोनों अम्लान भट्टाचार्य और देबारती धर पश्चिम बंगाल के एक छोटे से शहर बरहामपुर के यूट्यूबर हैं। हम दो दोस्त हैं और हम फुलटाइम यूट्यूबर्स की तरह काम करते हैं। जहां एक तरफ देबारती का शौक है ड्राइंग, क्राफ्टिंग, किताबें पढ़ना वहीं अम्लान को फोटोग्राफी, गार्डनिंग और ट्रेवलिंग में रूचि है। हमारे यूट्यूब चैनल क्रिएटिव ऑवर्स की बात की जाए तो हमारे चैनल के लिए सभी DIY क्राफ्ट्स देबारती ही बनाती हैं और मैं यानी अम्लान सभी वीडियोज को एडिट करके अपलोड करता हूं। 

क्रिएटिव ऑवर्स की शुरुआत कब हुई और अभी कितने लोग आपकी टीम में जुड़े हैं ?

क्रिएटिव ऑवर्स की शुरुआत 3 अप्रैल 2018 को हुई थी। इस चैनल के लिए मुख्य रूप से हम दोनों यानी देबारती और मैं ही काम करते हैं। इस काम में हमारी मदद देबारती के भाई और बहन भी करते हैं। यूं कहा जाए कि हमारी एक छोटी सी टीम है जिसमें सिर्फ 4 लोग ही हैं।  

इसे जरूर पढ़ें:मिलिए यूट्यूब इन्फ्लूएंसर उत्तरा मुंग्रे से जिनके क्राफ्ट की होती है हर जगह तारीफ

आपको यूट्यूब चैनल शुरू करने की प्रेरणा कैसे मिली?

creative hours youtube channel diy

वैसे इसकी कहानी बहुत बड़ी है लेकिन मैं आपको इसे छोटा करके बताता हूं। दरअसल देबारती को हमेशा से ही आर्ट और क्राफ्ट के साथ स्टडी करने का शौक था और उसे पेंटिंग करना भी बहुत पसंद था। वहीं मुझे फोटोग्राफी और एडिटिंग के साथ स्टडी करना अच्छा लगता था। लेकिन एक मिडिल क्लास फैमिली में इस तरह से पढ़ाई करने की अनुमति नहीं होती है इसलिए फैमिली प्रेशर से देबारती, बॉटनी ऑनर्स कर रही थी और मैं इंजीनीरिंग कर रहा था। हम दोनों साल 2009 में एक साथ ट्यूशन पढ़ते थे लेकिन ज्यादा अच्छे दोस्त नहीं थे। लेकिन हम दोबारा साल 2016 में अचानक से मिले और बहुत अच्छे दोस्त बन गए। तब हम दोनों का ग्रेजुएशन पूरा हो चुका था और हम नौकरी की तलाश में थे। हम दोनों स्वतंत्र तरीके से काम करना चाहते थे लेकिन तब भी हमारे ऊपर जॉब प्रेशर था। हालांकि मैं  एक प्राइवेट जॉब कर रहा था लेकिन मेरा मन कुछ अलग करने का था। कुछ अलग करने के लिए  देबारती ड्राइंग बनाकर बेचती थी और एक टाइम ऐसा आया जब उसे सिर्फ 70 रुपये में बड़ी पेंटिंग बेचनी पड़ी। हम दोनों बहुत ज्यादा परेशान थे। धीरे- धीरे पता चला कि मुझे एडिटिंग और छोटे-छोटे सिनेमेटिक वीडियो बनाने का बहुत ज्यादा शौक है और देबारती को वेस्ट मटेरियल से क्राफ्ट बनाना बहुत पसंद है। फिर हम दोनों ने ये निर्णय लिया कि क्यों न हम दोनों एक यूट्यूब चैनल खोलें जिसमें देबारती क्राफ्ट बनाए और मैं उसके वीडियोज बनाकर एडिट करके चैनल पर अपलोड करूं। तो इस तरह हमारे छोटे से यूट्यूब चैनल क्रिएटिव ऑवर्स की शुरुआत हुई और हम दोनों दोस्त ही एक दूसरे की प्रेरणा बने। 

क्या आप कोई ऐसे छोटे-छोटे टिप्स और ट्रिक्स बता सकते हैं जो हमें DIY में याद रखनी चाहिए?

दरअसल हमें ऐसे कुछ ख़ास टिप्स और ट्रिक्स के बारे में पता नहीं है लेकिन हम बस यही कहना चाहेंगे कि क्रिएटिविटी किसी के भीतर से ही आती है। हर एक इंसान का दिमाग क्रिएटिव होता है बस उसे पहचाने की देर होती है। अगर एक बार किसी का काम देखकर प्रेरणा मिले तो हमें क्रिएटिव काम करते समय ये याद रखना चाहिए कि उनका काम कॉपी न करें बल्कि उनसे प्रेरणा लें तभी आपकी असली क्रिएटिविटी सामने आएगी। 

आप लोग मुख्य रूप से किस तरह के DIY बनाते हैं और बची हुई चीज़ों का इस्तेमाल कैसे करते हैं ?

हम लोग ज्यादातर ऑर्गेनाइजर की तरह के DIY क्राफ्ट बनाते हैं, जैसे डेस्क ऑर्गेनाइजर, ज्वेलरी ऑर्गेनाइजर, किचन ऑर्गेनाइजर, पेंसिल बॉक्स, पेन स्टैंड जैसी घरेलू चीजें। हम लोग कोई भी मैटीरियल कूड़े की तरह फेंकते नहीं हैं। कार्डबोर्ड बॉक्स से लेकर प्लास्टिक बोतल तक सब कुछ कलेक्ट करके रखते हैं और जैसे ही कोई नया आइडिया आता है उनका इस्तेमाल करते हैं। उदाहरण के लिए 2-3 प्लास्टिक बोतल से हम एक गुलदस्ता बना सकते हैं या फिर इसे बारीकी से काटकर इसका पेन स्टैंड बना सकते हैं।  

बतौर इन्फ्लूएंसर आपको सबसे जरूरी चीज क्या लगती है?

दरअसल हम अभी भी ऐसा नहीं मानते हैं कि हम इन्फ्लूएंसर बन गए हैं, क्योंकि अभी भी हम बहुत से लोगों से प्रेरणा लेते हैं। लेकिन यदि सच में हमसे कोई प्रभावित होता है तो हम ये मानते हैं कि बस अपना काम करते रहो और दूसरे लोग क्या कहते हैं इस बात को सोचने में समय बर्बाद मत करो। हमेशा अपने काम को और ज्यादा इम्प्रूव करने की कोशिश करनी चाहिए क्योंकि हमेशा प्रयास करते रहना ही सफलता की निशानी है। 

आपका अभी तक का सबसे बड़ा अचीवमेंट क्या है?

achievemnet of crative hours

हमारे सबसे बड़े अचीवमेंट की बात करें तो अभी तक हमने अपने दो चैनल मिलाकर यूट्यूब में लगभग 9.7 लाख सब्सक्राइबर बनाए हैं और फेसबुक पर हमारे करीब 3.5 लाख फॉलोवर्स हैं। हम दोनों सिल्वर प्ले बटन हासिल कर चुके हैं। बस दो छोटे यूट्यूबर्स के लिए इतना अचीवमेंट ही काफी है शायद। हमने कभी नहीं सोचा था कि घर में बेकार पड़ी हुई चीजों से कुछ काम की चीजें बनाकर हम कभी लोगों का इतना प्यार बटोर पाएंगे।  

इसे जरूर पढ़ें:छोटी-छोटी चीजों से घर को सजाएं, जानें होम डेकोर के आसान आइडियाज

दिनभर के ढेर काम के साथ आप दोनों अपना टाइम कैसे मैनेज करते हैं ?

सच में टाइम मैनेजमेंट करना थोड़ा मुश्किल होता है। अपने दोनों चैनल में हम एक दिन छोड़कर ही वीडियो अपलोड करते हैं इसलिए हमें 9 से 5 का कोई फिक्स जॉब नहीं करना होता है, बल्कि उससे कहीं ज्यादा काम करना पड़ता है। हम सुबह उठकर साइक्लिंग और थोड़े शारीरिक व्यायाम के बाद अपना काम 11 बजे तक शुरू कर देते हैं। छुट्टियों या किसी खास अवसर पर हमारा काम थोड़ा ज्यादा बढ़ जाता है। मुख्य रूप से जब कोई ऐसा अवसर होता है जो बच्चों से रिलेटेड होता है जैसे चिल्ड्रन डे, टीचर्स डे, इंडिपेंडेंस डे, क्रिसमस या न्यू ईयर तब काम और ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि हमें बच्चों के लिए नए आइडियाज क्रिएट करने होते हैं। यूं कहिए कि जब सब लोग छुट्टियां मनाते हैं तब हम क्राफ्ट बनाते हैं। फिर भी हम किसी तरह टाइम मैनेज करते हैं क्योंकि हमें इस काम में मजा आता है। 

Recommended Video

क्या आप हमारे पाठकों के साथ कुछ शेयर करना चाहेंगे ?

हम हर जिंदगी के पाठकों से बस यही कहना चाहेंगे कि हम बहुत ही मिडिल क्लास फैमिली से हैं। हमारे पास पास महंगे कैमरा, ट्राइपॉड कुछ भी नहीं हैं लेकिन हमारे सिर्फ दो सपने थे और हम दोनों ने उन सपनों का पीछा कभी नहीं छोड़ा। हमें सपोर्ट करने के लिए कोई भी नहीं था फिर भी सपनों को पूरा करने के लिए प्रयास करते रहे। कभी हमारे साथ लाइट की समस्या आती थी तो कभी हमारा फोन बंद हो जाता था ऐसी बहुत सी समस्याएं आती थीं लेकिन हम दोनों डटकर काम करते थे। हम आपको ऐसा इसलिए बता रहे हैं क्योंकि अगर आपके भी कोई सपने हैं तो उन्हें पूरा करने के लिए अपना जी जान लगा दीजिए। फैमिली प्रेशर में या किसी और को देखकर कुछ करने की बजाय खुद को पहचानें। आप खुद को अच्छी तरह से पहचानें और अपने हुनर की पहचान करके आगे बढ़ें। कभी भी आपको अपने सपनों के लिए काम करते हुए थकान महसूस नहीं होगी और एक दिन आपका सपना भी जरूर पूरा होगा। 

वास्तव में क्रिएटिव ऑवर्स के यूट्यूब इन्फ्लूएंसर देबारती धर और अम्लान भट्टाचार्य हम सभी के लिए एक प्रेरणास्रोत हैं और वास्तव में उनके DIY क्रिएटिव आइडियाज हमें भी चीजों का सही इस्तेमाल करना सिखाते हैं। अगर आप इनका यूट्यूब चैनल क्रिएटिव ऑवर्स देखना चाहें तो यहां से देख सकती हैं। 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।