• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

आजादी के सालों बाद भारत को मिली उसकी पहली महिला लोकसभा स्पीकर, जानें कौन हैं मीरा कुमार

भारतीय संसद में महिलाएं काफी पहले से सक्रिय थीं। मगर देश को पहली महिला स्पीकर काफी देर से मिली।
author-profile
Published -06 Jul 2022, 19:29 ISTUpdated -27 Jul 2022, 19:39 IST
Next
Article
lok sabha meira kumar india

अगर आपने कभी टीवी पर लोकसभा संसद की कार्यवाही देखी है। तो आप कुर्सी पर बैठा एक स्पीकर भी देखा होगा। भारत में जब संसद बनी, उसकी कार्यवाही को मैनेज करने के लिए संसद का स्पीकर नियुक्त किए गए। लंबे समय तक इस पद पर कोई भी महिला नहीं थी, आखिर साल 2009 में देश को उसकी पहली महिला लोकसभा स्पीकर मिली। जिनका नाम है मीरा कुमार। 

आज के आर्टिकल में हम आपको मीरा कुमार और उनके जीवन के बारे में बताएंगे। तो देर किस बात की, आइए जानते हैं मीरा कुमार और उनके जीवन के बारे में-

विरासत में मिली राजनीति

who was first indian woman speaker of lok sabha

बता दें कि मीरा कुमार कांग्रेस की दिग्गज पॉलीशियन्स में से एक हैं। उनके पिता स्वर्गीय जगजीवन राम भी हमेशा से राजनीति में थे, ऐसे में आप यह कह सकते हैं कि मीरा को राजनीति विरासत में मिली। रगों में राजनीति होने के भारतीय विदेश सेवा की नौकरी छोड़कर मीरा ने राजनीति में आने का फैसला लिया।

मीरा कुमारी का बचपन

31 मार्च,1945 को बिहार के सासाराम में बाबू जगजीवन राम और इंद्राणी देवी के घर नन्ही बच्ची का जन्म हुआ। उनकी शुरुआती शिक्षा बिहार के महारानी गायत्री देवी स्कूल में हुई। वहीं एम ए और एल एल बी की शिक्षा मीरा ने इन्द्रप्रस्थ और मिरांडा हाउस कॉलेज से पूरी की।

इसे भी पढें- राजनीतिक परिवार से ताल्‍लुक रखने वाली मीरा कुमार के बारे में जानें रोचक तथ्‍य

छोड़ी IFS की नौकरी

मीरा कुमा होनहार छात्रों में से एक थीं। शिक्षा पूरी करने के बाद साल 1973 में उन्हें IFS की नौकरी मिली। कई सालों तक मीरा ने स्पेन, ब्रिटेन और मॉरीशस के उच्चायुक्त के रूप में काम किया। कुछ समय काम करने के बाद उन्होंने यह नौकरी छोड़ दी और राजनीति में कदम रखा।

साल 1968 में मीरा बिहार की कैबिनेट मंत्री सुमित्रा देवी के बड़े बेटे मंजुल कुमार के साथ शादी के बंधन में बंधी। जिनसे उन्हें 1 बेटा और 2 बेटियां हुई। 

मीरा का राजनीतिक करियर

first indian woman speaker lok sabha india

मीरा कुमार ने अपना राजनीतिक सफर उत्तर प्रदेश से शुरू हुआ। साल 1985 में मीरा को उत्तर प्रदेश के बिजनौर से पहली बार चुनावी टिकट मिला। जहां उन्होंने मायावती और रामविलास पासवान को हराकर राजनीतिक करियर अपनी दमदार शुरुआत की। हालांकि कि अगले चुनाव में वो बिजनौर से हारी भी। 11 वें और 12वें लोकसभा चुनाव में मीरा दिल्ली के करोल बाग से संसदीय चुनाव में खड़ी हुईं। इसी के साथ वो संसद तक पहुंच गईं।

रहीं कांग्रेस कमेटी की महासचिव

समय के साथ मीरा कुमार राजनीति में और भी उभर कर सामने आईं। जहां साल 1990 में उन्हें कांग्रेस कमेटी का महासचिव बनाया गया। इसके बाद 1996 वो दोबारा सांसद बनीं।

इसे भी पढ़ें- मिलिए देश की पहली महिला IAS अन्ना राजम मल्होत्रा से, 1951 में ऐसे किया था संघर्ष 

क्रेंद तक पहुंची मीरा कुमार

meira kumar biography

साल 2004 में मीरा ने बिहार के सासाराम से चुनाव जीत कर केंद्र मंत्री का पद भी संभाला। जहां कांग्रेस कार्यकाल में उन्हें सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्रालय सौंपा गया। इसके बाद 2 बार चुनाव जीतकर उन्होंने केंद्र संसाधन मंत्रालय का कार्य संभाला। 

बनीं देश की पहली महिला स्पीकर

who is meira kumar

इससे पहले भारत में किसी महिला संसद में लोकसभा स्पीकर के पद नहीं संभाला था। 187 लोकतांत्रिक देशों में से केवल 32 देशों में ही महिलाओं ने अब तक स्पीकर का पद संभाला है। ऐसे यह गर्व की बात है कि मीरा कुमार देश की पहली महिला स्पीकर बनकर सामने आईं। 

आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी जानकारियों जुड़े रहें हर जिंदगी के साथ।

Image Credit- wikipedia and twitter

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।