भारतीय सिनेमा में ऐसी कितनी एक्ट्रेस हैं, जो आज अपने दम पर किसी मुकाम तक पहुंची हैं। कहा जाता है कि बॉलीवुड में एक एक्ट्रेस का करियर बहुत ज्यादा नहीं होता, लेकिन कुछ ने इसे गलत साबित कर दिखाया। वे अपने दम पर न सिर्फ बुलंदी पर पहुंची, बल्कि अपने उसूलों पर चलकर कई उदाहरण भी सेट किए। अपने उसूलों पर, अपनी नियम व शर्तों पर ही उन्होंने काम किया। कुछ ने बॉलीवुड में रहकर ही धमाल मचाया, तो कुछ एक अलग राह पर निकल पड़ीं। तो चलिए जानते हैं बॉलीवुड की उन शीरोज के बारे में जिन्होंने अपने लिए खुद रूल्स भी बनाएं और उसी के चलते इंडस्ट्री पर दबदबा भी बनाया।

ट्विंकल खन्ना

Twinkle khanna

एक सुपरस्टार की बेटी और पत्नी होना किस अभिनेत्री के लिए बड़ी बात नहीं होगी। ट्विंकल खन्ना ने कुछ समय तक फिल्में करने के बाद, इंडस्ट्री को छोड़ दिया था। वह दूसरों से कुछ अलग करना चाहती थीं, इसलिए पहले इंटीरियर डिजाइनिंग और फिल्म निर्माता के तौर पर काम किया। पढ़ने लिखने का शौक और चाहत बचपन से थी, तो फिर एक जाने-माने न्यूजपेपर में बतौर कॉलमनिस्ट लिखने लगीं। साल 2015 में, लॉन्च हुई उनकी पहली नॉन-फिक्शन बुक ‘Mrs Funnybones: She’s Just Like You And A Lot More Like Me’ बेस्टसेलर थी। वहीं उनकी दूसरी किताब ‘The Legend of Lakshmi Prasad’ एक सामाजिक उद्यमी अरुणाचलम मुरुगनंथम से प्रेरित थी, जिन पर आधारित बायोपिक ‘पैडमेन’ बनी। उन्होंने 2016 में अपना प्रोडक्शन हाउस Mrs Funnybones भी खोला। उनके पहले उपन्यास ‘Pyjamas Are Forgiving’ ने उन्हें 2018 में भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली महिला ऑथर बनाया। वहीं 2019 में, उन्होंने महिलाओं के लिए बाइलिंगुअल डिजिटल मीडियो प्लेटफॉर्म ‘ट्वीक इंडिया’ लॉन्च किया। ये सभी चीजें यह साबित करती हैं कि ट्विंकल उन लोगों में से हैं, जो अपने मन की सुनकर काम करते हैं, और वह एक ऐसी लाइफ जीने में विश्वास करती हैं, जिसमें क्रिएटिविटी की कोई कमी न हो।

इसे भी पढ़ें :वेडिंग पार्टी में दिखना है एकदम खास, तो बॉलीवुड एक्ट्रेस के इन एथनिक लुक्स को करें फॉलो

सुष्मिता सेन

sushmita sen

सुष्मिता सेन ने एक बहुत ही शानदार जीवन जिया और उन्होंने कभी उसे फॉर ग्रांटेड नहीं लिया। सारी भविष्यवाणियों को गलत साबित करते हुए, उन्होंने 18 साल की उम्र में मिस यूनिवर्स का खिताब जीता। एक सफल अभिनेत्री होने के अलावा, उन्होंने 2000 और 2010 में दो बच्चियों को गोद लेकर एक सोशल चेंजमेकर के रूप में नाम बनाया। वह 2014 में एडिसन बीमारी, एक ऐसी स्थिति जो शरीर में एड्रेनल ग्लैंड को प्रभावित करती है, से जूझ रही थीं। हालांकि उन्होंने इससे जंग न सिर्फ लड़ी बल्कि जीती भी और स्वस्थ होकर लौटीं। साल 2020 में एक हिट ओटीटी सीरिज ‘आर्या’ के साथ एक अभिनेत्री के रूप में वापसी की। उनका व्यक्तिगत जीवन हो या पेशेवर, सुष्मिता ने हमेशा बेमिसाल ग्रेस और गरिमा के साथ अपनी हर लड़ाई जीती है।

इसे भी पढ़ें :बॉलीवुड के इन 5 कपल्‍स की लवस्‍टोरी से आप भी हो जाएंगी इंस्‍पायर्ड

Recommended Video

विद्या बालन

vidya balan

अभिनेत्री विद्या बालन ने टीवी से अपने करियर की शुरुआत की थी। बॉलीवुड में ‘परिणीता’ के साथ फिल्मी सफर शुरू किया और उसके बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। विद्या ने अपने फिल्मी सफर के दौरान कई आलोचनाओं का सामना भी किया। लोगों ने कभी उनके ड्रेसिंग सेंस पर तो कभी बॉडी वेट को लेकर टिप्पणियां की। मगर इस सबसे परे, उन्होंने अपना काम अपनी शर्तों पर करना जारी रखा। उन्होंने हमेशा लीक से हटकर फिल्में कीं। उनके काम, उनकी फिल्मों ने यह साबित किया कि उन्हें अपनी फिल्मों की सफलता के लिए किसी बड़े हीरो की जरूरत नहीं है। अपने काम के दम पर आज उन्होंने एक अलग पहचान बनाई है। 

करीना कपूर खान

kareena kapoor khan

करीना कपूर खान ने साबित कर दिया है कि फिल्म उद्योग में दो दशकों से ज्यादा सर्वाइव करने के लिए परिवार का नाम ही काफी नहीं है। जबरदस्त एक्टिंग के लिए उन्हें मिले छह फिल्मफेयर अवॉर्ड्स इस बात की गवाही देते हैं कि आज भी उन्हें फिल्म की लीडिंग लेडी की भूमिकाओं पर लेने के लिए निर्माताओं की होड़ क्यों लगी है। साल 2000 में ‘रिफ्यूजी’ के साथ अभिनय की शुरुआत करने के बाद,  उन्होंने कई फिल्मों में काम किया और अपनी स्टार पावर और बहुमुखी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। स्क्रीन से दूर रहकर भी वह काम करती रहीं। उन्होंने निडरता के साथ अपने व्यक्तिगत फैसले लिए। इस ग्लैमरस इंडस्ट्री में दो बार प्रेग्नेंसी के दौरान भी काम करती रहीं। अब वह एक किताब भी लिख रही हैं। वहीं, 2014 से यूनिसेफ के साथ मिलकर वह लड़कियों की शिक्षा के लिए एक एडवोकेट के रूप में काम कर रही हैं।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो, तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें। ऐसी अन्य स्टोरीज पढ़ने के के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी के साथ।

Image credit : Instagram