आजकल जीन्स सिर्फ फैशन स्टेटमेंट नहीं बल्कि एक एसेंशियल आइटम हो गई है। शहर ही नहीं गांव-गांव में भी जीन्स ने अपनी जगह बना ली है। अगर आप मार्केट में देखें तो स्किनी, स्किनी फिट, ब्वॉयफ्रेंड, पैरलल, लूज फिट, लो वेस्ट, मिड वेस्ट, हाई वेस्ट, एंकल लेंथ और न जाने कितने तरह की जीन्स आपको मिल जाएगी। ये आपकी च्वाइस पर निर्भर करता है कि आखिर आपको किस तरह की जीन्स चाहिए। जहां तक जीन्स का सवाल है तो महिलाओं और पुरुषों की जीन्स की बनावट में आपको काफी अंतर देखने को मिल जाएगा। 

सबसे पहला अंतर तो यही है कि पुरुषों की जीन्स की जेब काफी बड़ी होती है और महिलाओं की जीन्स में या तो जेब होती ही नहीं है या फिर बहुत ही छोटी जेब होती है। इस अंतर के पीछे भी फैशन इंडस्ट्री की एक बहुत बड़ी सोच थी कि महिलाओं का फिगर जेब में रखे सामान के कारण खराब दिखेगा और इसलिए महिलाओं की जीन्स की जेब छोटी होती चली गई। 

jeans and front zipper

ये तो थी जेब की बात, लेकिन क्या आप जानते हैं कि महिलाओं की जीन्स में जिपर क्यों होते हैं? अधिकतर लोगों को लगता है कि ये डिजाइन शुरुआत से चला आ रहा है और यही कारण है कि महिलाओं की जीन्स में जिपर भी होता है, लेकिन महिलाओं की जीन्स में जिपर का एक महत्वपूर्ण काम होता है। 

इसे जरूर पढ़ें- क्या आप जानते हैं महिलाओं की जीन्स में क्यों नहीं होतीं पुरुषों की तरह गहरी पॉकेट

आखिर क्यों जिपर दिया जाता है महिलाओं की जीन्स में-

आपने शायद एक बात का ध्यान दिया हो कि महिलाओं की जीन्स में जो जिपर होता है उसका साइज थोड़ा छोटा होता है और ये पतला भी होता है। स्किनी फिट जीन्स में तो ये और भी ज्यादा पतला दिखता है। ये सिर्फ फैशन एक्सेसरी नहीं है बल्कि जीन्स को महिलाओं के लिए लचीला बनाने के लिए है। 

दरअसल, 1800 के समय जब जीन्स को मजदूरों के लिए बनाया गया था तब महिलाएं ज्यादातर मजदूरी के काम नहीं किया करती थीं, लेकिन धीरे-धीरे ये भी शुरू हुआ। महिलाओं के शरीर की बनावट पुरुषों के शरीर से अलग हुआ करती थी और महिलाओं की कमर का साइज भी बड़ा होता था। शुरुआत में जो जीन्स बनाई जाती थी वो लचीली बहुत कम होती थी और इसलिए जीन्स को महिलाओं के फिगर के हिसाब से रखने के लिए ये जिपर दिया गया ताकि वो आसानी से महिलाओं के हिप्स के ऊपर चढ़े और उतरे और उन्हें ज्यादा तकलीफ न हो। 

jeans and zip

ये अब जीन्स की बनावट के आधार पर छोटा या बड़ा दिया जाता है, लेकिन ये होता जरूर है।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- आखिर क्यों जीन्स की पॉकेट पर होते हैं छोटे बटन, जानें  

जिपर के पतले होने का कारण क्या  है? 

यहां भी महिलाओं के फिगर की बात आती है। अगर जिपर पुरुषों की जीन्स की तरह बड़ा और मोटा दिया जाएगा तो महिलाओं के लोअर एब्डॉमन और वेजाइना का हिस्सा भी फूला हुआ दिखेगा। ये देखने में अच्छा नहीं लगेगा और इसलिए महिलाओं के जिपर को सिर्फ उतना ही रखा जाता है जिससे उनके हिप्स से जीन्स आसानी से चढ़ जाए और महिलाओं का फिगर फूला हुआ सा न दिखे। जीन्स की बनावट में जेब को और छोटा भी इसीलिए रखा जाता है।  

अब क्योंकि महिलाओं के फिगर के हिसाब से अलग-अलग तरह की जीन्स आने लगी हैं इसलिए उनकी बनावट में जेब और जिपर की जगह और उनका शेप भी बदलता जा रहा है।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।