Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    रेड वाइन से हेल्‍थ को हो सकते हैं अद्भुत फायदे, लेकिन ध्‍यान रखें ये बात

    आज हम आपको रेड वाइन के हेल्‍थ से जुड़े कुछ फायदों के बारे में आर्टिकल के माध्‍यम से विस्‍तार से बता रहे हैं। 
    author-profile
    Updated at - 2022-11-11,15:44 IST
    Next
    Article
    red wine benefits

    सभी अल्कोहलिक ड्रिंक्‍स में रेड वाइन को एक हेल्‍दी विकल्प माना जाता है। रेड वाइन गहरे रंग के साबुत अंगूरों को फॉर्मेटिंग करके बनाई जाती है। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है। अंगूर कई एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। इनमें रेस्वेराट्रोल, कैटेचिन, एपिक्टिन और प्रोएथोसायनिडिन शामिल हैं।

    माना जाता है कि ये एंटीऑक्सीडेंट, विशेष रूप से रेस्वेराट्रोल और प्रोएंथोसायनिडिन, रेड वाइन के स्वास्थ्य लाभों के लिए जिम्मेदार माने जाते हैं। लेकिन इन फायदों को पाने के लिए फल खाना हमेशा फायदेमंद होता है लेकिन फिर भी अगर आपको अल्‍कोहल का सेवन करना है तो कम मात्रा में रेड वाइन एक बेहतर विकल्प है।

    रेड वाइन में पावरफुल प्‍लांट कंपाउंड को कई हेल्‍थ बेनिफिट्स से जोड़ा गया है, जिनमें सूजन कम करना, हार्ट रोग और कैंसर का कम जोखिम और विस्तारित जीवनकाल शामिल है। रेड वाइन को मॉडरेट तरीके से पीना पर कई स्वास्थ्य समस्याओं को कम करने में मदद मिल सकती है। 

    रेड वाइन के फायदों के बारे में हमें न्यूट्रिशनिस्ट मेघा मुखीजा जी बता रही हैं। मेघा मुखीजा 2016 से Health Mania में चीफ डा‍इटीशियन और फाउंडर हैं। आइए इसके बारे में आर्टिकल के माध्‍यम से विस्‍तार में जानें-

    wine health expert quote

    1. हार्ट रोग के जोखिम को करता है कम 

    जो लोग एक दिन में लगभग 150 मिलीलीटर रेड वाइन पीते हैं, उनमें नॉन-ड्रिंर्क्‍स की तुलना में हार्ट रोग का जोखिम लगभग 32% कम होता है। हालांकि, अधिक सेवन से हार्ट रोग का खतरा नाटकीय रूप से बढ़ जाता है।

    रेड वाइन की थोड़ी मात्रा पीने से गुड एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को बनाए रखने में मदद करके हार्ट रोग का खतरा कम हो सकता है। ऑक्सीडेटिव डैमेज और बैड एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के ऑक्सीकरण को भी 50% तक कम किया जा सकता है।

    इसे जरूर पढ़ें: रेड वाइन पीने से शरीर को मिलते हैं ये 5 जबरदस्त फायदे

    2. कैंसर का कम जोखिम

    red wine for cancer

    रेड वाइन में रेस्वेराट्रोल और अन्य एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं। इसलिए यह माना जाता है कि मॉडरेट वाइन लेने से कोलन, लंग, ब्रेस्‍ट, ओवरी और प्रोस्टेट कैंसर सहित कई तरह के कैंसर का जोखिम कम होता है।

    3. डिमेंशिया का कम जोखिम 

    वाइन में मौजूद पॉलीफेनोल्स के न्यूरो प्रोटेक्‍टिव प्रभाव सूजन को कम कर सकते हैं और डिमेंशिया और अल्जाइमर रोग के जोखिम को कम कर सकते हैं।

    4. डिप्रेशन का जोखिम होता है कम 

    मध्यम आयु वर्ग और बुजुर्ग लोगों के एक अध्ययन से पता चला है कि जो लोग प्रति सप्ताह 2-7 गिलास अल्‍कोहल पीते थे, उनके डिप्रेस होने की संभावना कम थी। वाइन में मौजूद रेस्वेराट्रोल ब्रेन में सेरोटोनिन को बढ़ाता है जिससे मूड अच्छा होता है।

    5. दर्द से राहत, विशेष रूप से रूमेटाइड अर्थराइटिस में 

    rheumatoid arthritis

    रेड वाइन में रेस्वेराट्रोल नामक एक यौगिक होता है, जिसमें अच्छी तरह से स्थापित एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव होता है। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि मॉडरेट वाइन के सेवन से रूमेटाइड अर्थराइटिस के कम जोखिम और बेहतर दर्द प्रबंधन से जुड़ी है।

    चेतावनी

    अल्‍कोहल के सेवन से कुछ स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, लेकिन बहुत अधिक अल्‍कोहल पीने से स्वास्थ्य जोखिम बढ़ सकते हैं।

    आप भी यह फायदे पाने के लिए रेड वाइन का सेवन थोड़ी मात्रा में कर सकती हैं। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही कमेंट भी करें। डाइट से जुड़े ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

    Image Credit: Freepik 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।