हिमालय पर्वत एक नहीं बल्कि कई रहस्यमयी कहानियों का घर है, ये बोलना कोई गलत बात नहीं है। असीम खूबसूरती समेटे हिमालय पर्वत तिब्बती पठार से भारतीय उपमहाद्वीप तक फैली हुई है। भारत में विश्व की कई ऊंची चोटियां इसी हिमालय रेंज में मौजूद है। आज यह हिमालय सिर्फ खूबसूरती के मामले में ही नहीं बल्कि, उंची-उंची चोटियों के साथ-साथ कुछ रहस्यमयी कहानियों का घर भी हैं, जिससे अभी तक बहुत कम लोग ही रूबरू होंगे। यहां मौजूद कुछ रहस्यमयी जगहें देखकर पर्यटकों से लेकर वैज्ञानिक तक भी आश्चर्यचकित हो उठते हैं। इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी ही रहस्यमयी जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, तो आइए जानते हैं।

रूपकुंड झील

unsolved mysteries of himalayas roopkund lekh inside

इस लिस्ट में पहले नंबर पर मौजूद है रूपकुंड झील, जो कंकालों की झील के नाम से भी प्रचलित है। उत्तराखंड के चमोली जिले मौजूद रूपकुंड झील हिमालय की सबसे रहस्यमयी जगहों में से एक है। आपकी जानकरी के बता दें कि अतीत में इस झील में लगभग 200 मनुष्यों के कंकाल देखने को मिले थे। कई शोधों के अनुसार यह कंकाल लगभग हज़ार साल पहले से भी अधिक प्राचीन माने जाते हैं। आज भी झील का पनी पिघलने लगता है तो चारों तरफ कंकाल ही कंकाल दिखाई देते हैं। 

इसे भी पढ़े: प्राकृतिक भंडार की असीम खूबसूरती से भरपूर हैं भारत की ये जगहें

गंगखर पुनसुम

unsolved mysteries of himalayas gangsar inside

गंगखर पुनसुम सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनियां भर में सबसे ऊंचे पहाड़ो में से एक है। यह पहाड़ एक नहीं बल्कि कई रहस्यमयी कहानियों को अपने अंदर समेटे हुए हैं। गंगखर पुनसुम की सबसे रहस्यमयी कहानियों में ये शामिल है कि इस पर्वत को कभी भी नापा नहीं जा सका है। जी हां, इस पर्वत को आज तक नापा नहीं जा सकता है क्योंकि, जब भी इस पहाड़ को नापा जाता है तो आकड़े अलग-अलग होते हैं। इसके अलावा यह पहाड़ भूटान तक फैला हुआ है और भूटान के लोगों का मानना है कि यहां हिम मानव रहते हैं।

Recommended Video

गुरुडोंग्मार लेक

unsolved mysteries of himalayas inside

हिमालय में मौजूद दुनिया की एक ऐसी झील जो झील के कुछ हिस्से को छोड़कर झील का बाकी हिस्सा पूरे साल बर्फ से जम जाती है। जी हां, ऐसा बहुत कम ही देखा जाता है कि किसी झील के कुछ हिस्से में पानी और कुछ हिस्से में बर्फ मौजूद हो। इसके पीछे कहानी ये है कि एक विशिष्ट गुरु तिब्बत की यात्रा पर थे और लोगों को प्यास लगी थी लेकिन, आसपास पानी नहीं था, तब उन्होंने झील के एक हिस्से में अपने हाथों को रखा जिसके बाद वो हिस्सा पानी में तब्दील हो गया और बाकी के हिस्सों में बर्फ जमे रहे।   

इसे भी पढ़े: पूर्वोत्तर भारत के ये खूबसूरत पहाड़ प्रकृति प्रेमियों के लिए हैं जन्नत     

फुगताल मठ 

unsolved mysteries of himalayas inside

लद्दाख की दुर्गम पहाड़ियों में बना फुगताल मठ अपनी संरचना के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है। हिमालय की पहाड़ियों पर निर्मित फुगताल मठ किसी चमत्कार से कम नहीं है। मठ का इतिहास पच्‍चीस सौ साल पुराना है और उस समय लगभग दो सौ बौद्ध भिक्षु रहते हैं। खड़ी चट्टान पर मठ का निर्माण किसी रहस्यमयी चमत्कार से कम नही है। मठ की दीवारों पर आज भी प्राचीन पौराणिक अनुयायियों की छवि भी देखने को मिलती है।

यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit:(@hz,researchgate.net)