हिमाचल प्रदेश में दूर-दूर तक फैली हरी-भरी घाटियां, बर्फ से ढकी पहाड़ियां, हरे-भरे घास के मैदान, बहती नदियां और झरने यहां की खूबसूरती बया करते हैं। सबसे पसंदीदा हिल स्टेशन में शामिल हिमाचल की खूबसूरत वादियां, सुहाना मौसम और पहाड़ी लोगों का अपनापन टूरिस्टों को सुकून देता है और अपनी ओर आकर्षित करता है। हवा में ताजगी, वातावरण में शांति हिमाचल की खूबी है जो लोगों को अपनी ओर खींचती है। यहां का प्राकृतिक सौंदर्य देख मन यहीं बस जाने को करता है। हिमाचल के ज्यादातर शहर टूरिस्ट प्लेस के रूप में विकसित हैं। यहां अलग-अलग जगहों से आने वाले टूरिस्टों के लिए सड़क के किनारे कैफे और रेस्टोरेंट की भरमार है, जहां हर तरह के फूड और रेसिपीज मिलते हैं।

Food of himachal inside

इसे जरूर पढ़ें: हिमाचल की ये 4 जगहें जो ज्यादा मशहूर नहीं लेकिन यहां जाने के बाद कुछ याद नहीं रहता

लेकिन आप अगर हिमाचल घूमने का मन बना रहे हैं या आपका कोई दोस्त हिमाचल से है तो आप एक बार यहां के ट्रेडिशनल फूड्स का स्वाद जरूर चखें, यकीन मानिएं आप अपना दिल दे बैठेंगे। आइएं हम आपको बताते हैं हिमाचल की कुछ ऐसी ही ट्रेडिशनल और स्पेशल रेसिपीज के बारे में।

1. धाम

धाम हिमाचल प्रदेश की शादियों और त्‍यौहारों में बनने वाली रेसिपी है। धाम को बनाने में किसी भी प्रकार की सब्‍जियों का इस्तेमाल नहीं किया जाता। इस रेसिपी को तरह-तरह के दालों और डेयरी उत्‍पादों से बनाया जाता हैं। धाम को बनाने के लिए एक दिन पहले से तैयारी की जाती हैं। धाम बनाने के लिए तांबे के बर्तनों का इस्‍तेमाल किया जाता है जिन्हें यहां चरोटी कहते हैं। यह बर्तन घड़े के आकार का होता हैं। चरोटी में बनाया गया खाना अधिक समय तक गर्म रहता हैं। चरोटी में खाना बनाने के लिए जमीन में गड्ढ़ा खोदकर उसमें आग जलाई जाती हैं। उसके बाद उसमें सभी व्‍यंजन पकाये जाते हैं। इसलिए इस रेसिपी में एक लजीज स्वाद होता है। हिमाचल प्रदेश में काँगड़ा जिले की धाम को सबसे बेहतर धाम में गिना जाता है यह धाम बहुत फेमस हैं। काँगड़ा धाम को चने की दाल, माह उड़द, मदरा,पनीर मटर, राजमा, बनाया जाता हैं। वहीं, शिमला की धाम में उड़द मूंग की दाल, चने की दाल, दही, सफेद चने, आलू, जिमीकंद, पनीर बनाया जाता हैं। बिलासपुर जिले की धाम में धुली उड़द की दाल, काले चने, तरी वाले आलू, पालके डाला जाता है। वहीं, हमीरपुर जिले की धाम में अधिकतर दालें ही बनाई जाती हैं। कुल्लू जिले की धाम को पारंपरिक तौर पर सबसे पुरानी धाम में माना जाता हैं।

Food of himachal inside

इसे जरूर पढ़ें: हिमाचल की ये जगह शिमला और मनाली से ज्यादा है खूबसूरत

2. चना मद्रा

चना मद्रा मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले से संबंधित है। यह हिमाचल की फेमस डिश है। चना मद्रा दही और चने से बनती है और यह ग्रेवी वाली डिश होती है। इस डिश में मुख्य रूप से भिगोए हुए चने या सब्जियाँ होती हैं, जिन्हें तेल में अच्छी तरह पकाया जाता है और लौंग, दालचीनी, इलायची, जीरा, धनिया पाउडर और हल्दी पाउडर जैसे मसाले डाले जाते हैं। मद्रा एक ऐसा व्यंजन है जो हिमाचल प्रदेश की खाद्य संस्कृति का प्रतिनिधित्व करता है। यहां हर घर में हर अवसर और त्यौहार पर मद्रा बनाया जाता है।

Food of himachal inside

3. तुदुकि भथ

यह एक तरह का पुलाव होता है जो दाल, प्याज, आलू, लहसुन, अदरक और दही, इलायची, लाल मिर्च पाउडर, दालचीनी के साथ पकाया जाता है। यह आम तौर पर मश दाल के साथ परोसा जाता है।

इसे जरूर पढ़ें: हिमाचल के कांगड़ा में ये जगह जरुर घूमकर आएं

4. भै (मसालेदार लोटस के तने)

यह हिमाचली लोगों के घरों में जमकर खाया जाता है। यह एक शाकाहारी रेसिपी है। इस लजीज डिश को कमल के तने से बनाया जाता। कमल के तनों को अदरक-लहसुन पेस्ट, प्याज, आटा, लाल मिर्च और अन्य मसालों के साथ तला जाता है। जब आप इसे खायेंगे तो आपको लगेगा की आप नॉन वेज खा रहे हैं।

(Photo courtesy- Twitter)


Loading...
Loading...