भारत में प्रसिद्ध मंदिरों और किले के अलावा ऐसे कई प्रसिद्ध और खुबसूरत गुरुद्वारा भी मौजूद है, जिनके बारे में बहुत कम लोगों को मालूम है। अक्सर, पवित्र और खुबसूरत गुरूद्वारे की बात होती हैं, तो सबसे पहले पंजाब में मौजूद स्वर्ण मंदिर का जिक्र होता है, लेकिन स्वर्ण मंदिर के अलावा भी ऐसे कई गुरुद्वारा मौजूद है, जिनका इतिहास हजारों साल पुराना है। आज भी ये गुरूद्वारे लाखों पर्यटकों के लिए सबसे पसंदीदा जगहों में एक है, यहीं वजह है कि हर साल हजारों सिख भक्तों के अलावा हजारों टूरिस्ट्स भी अपनी फैमली के साथ यहां घूमने जाते हैं। आज इस लेख में हम आपको भारत के कुछ प्रमुख गुरुद्वारों के बारे में बताने जा रहे हैं, तो चलिए इस सफ़र की शुरुआत करते हैं-

गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब

famous gurdwaras of India inside

गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में स्थित है। कहा जाता है कि गुरु गोबिंद सिंह ने अपने जीवन के चार साल यहां बिताए और इसी जगह दशम ग्रन्थ की रचना की थी। हिमाचल में यमुना नदी के किनारे स्थित यह गुरुद्वारा सिख भक्तों के लिए बेहद ही खास है। ऐसी मान्यता है कि यमुना नदी बहते हुए बहुत शोर से बहती थी, तब गुरु गोबिंद सिंह जी के अनुरोध पर यमुना नदी शांत बहने लगी। पहाड़ों के बीच स्थित यह गुरुद्वारा बेहद खुबसूरत भी है।

इसे भी पढ़ें: इंडिया के अलावा पाकिस्तान, दुबई और लंदन में भी हैं वर्ल्ड फेमस गुरुद्वारे

तख़्त श्री हरिमंदिर जी

some famous gurdwaras of India inside

गंगा नदी के किनारे बसा बिहार के पटना शहर में सिख भक्तों के लिए तख़्त श्री हरिमंदिर जी बेहद ही पवित्र धर्मिक जगह है, क्यूंकि कहा जाता है कि यह गुरुद्वारा सिखों के अंतिम गुरु यानि गुरु गोबिंद सिंह की जन्मस्थली है। यहां हर साल दूर-दूर से लाखों सिख श्रद्धालु घूमने आते हैं। खासकर बैसाखी के दिन यहां और भी अधिक सैलानी गोबिंद सिंह के दर्शन के लिए आते हैं। आपकी जानकरी के लिए बता दे कि यह गुरुद्वारा पटना रेलवे स्टेशन के ठीक बगल में स्थित है।

Recommended Video

तखत श्री केसगढ़ साहिब

about some famous gurdwaras of India inside

शिवालिक पर्वत के किनारे मौजूद श्री केसगढ़ साहिब पंजाब के रोपड़ शहर में स्थति है। इस गुरूद्वारे के बारे कहा जाता है, कि यह वह जगह है, जहां 9वें सिख गुरु, गुरु तेग बहादुर और 10वें गुरु गोबिंद सिंह ने पंज प्यारों की उपाधि और खालसा पंथ की स्थापना की थी। इस गुरुद्वारा को पांच सबसे पवित्र गुरुद्वारा में से एक और सबसे अहम् तख़्त में से भी एक माना जाता है।

इसे भी पढ़ें: एफएसएसएआई के मानक पर खरे उतरे दिल्ली के गुरुद्वारे, लंगर में खिलाया जाता है हेल्दी फूड

हेमकुंट साहिब

some famous gurdwaras of India INSIDE

मिहालय में स्थित हेमकुंट साहिब सिखों के सबसे पवित्र स्थानों में से एक माना जाता है। यह गुरुद्वारा लगभग 4650 मीटर की ऊंचाई पर तिब्बत और नेपाल की सीमा से सटे उत्तराखंड के चमोली जिला में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि इस जगह पर गुरु गोबिंद सिंह ने कई साल तक महाकाल की आराधना की थी। यह जगह पवित्र स्थान होने के साथ-साथ सैलानियों के घूमने के लिए भी परफेक्ट जगह मानी जाती है।   

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें, और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit:(@i.ytimg.com,www.jagranimages.com,upload.wikimedia.org)