• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

‘बाहुबली’ फिल्म की याद दिलाता है छत्तीसगढ़ का खूबसूरत हांदावाड़ा वॉटरफॉल

छत्तीसगढ़ राज्य अपने खूबसूरत झरनों के लिए जाना जाता है। यहां पर अभी भी कई ऐसी जगहें मौजूद हैं, जिनके बारे में ज्यादा लोगों को नहीं पता है। 
Published -01 Jun 2022, 14:48 ISTUpdated -01 Jun 2022, 15:29 IST
Next
Article
waterfalls

‘बाहूबली’ फिल्म यकीनन आप सभी को याद होगी। आलीशान सेट और वीएफएक्स के अलावा फिल्म की लोकेशन से भी खूब वाहवाही बटोरी थी। फिल्म में जलप्रपात का दृश्य दिखाया गया है जो कि बेहद खूबसूरत नजर आता है। छत्तीसगढ़ में हुबहू एक ऐसा ही वॉटरफॉल स्थित है। यह वॉटरफॉल नारायणपुर जिला के ओरछा ब्लाक के अंतर्गत हांदावाड़ा जलप्रपात इस भू-भाग का सबसे खूबसूरत और सबसे ऊंचा जलप्रपात है। जो कि बिल्कुल ‘बाहुबली’ फिल्म के वॉटरफॉल की तरह दिखता है। 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको इस छत्तीसगढ़ के इस खूबसूरत वॉटरफॉल के बारे में बताएंगे, जिसे आपको जरूर एक्सप्लोर करना चाहिए। तो देर किस बात की, आइए जानते हैं इस खूबसूरत वॉटरफॉल के बारे में- अबूझमाड़ के मैदानों से बहकर आया एक नाला धारा डोंगरी पहुंचकर एक जलप्रपात बनाता है। इस जलप्रपात को हांदावाड़ा जलप्रपात के नाम से जाना जाता है। यह खूबसूरत वॉटरफॉल की ऊंचाई करीब 300 फीट है। प्रपात के ठीक ऊपर कुश फूलों के बीच एक और जलप्रपात है। 

अबूझमाड़ के यह खूबसूरत जलप्रपात लोगों को बाहुबली फिल्म की याद दिलाता है। इस नजारे को देखकर यकीन करना मुश्किल है कि यह नजारा बस्तर का है। 

फिल्म बाहुबली की होने वाली थी शूटिंग- 

famous waterfall in chhattisgarh

दैनिक जागरण की खबर के अनुसार इस वॉटरफॉल पर पहले फिल्म ‘बाहुबली’ के पहाड़ वाले सीन को दर्शाया जाता था। लेकिन नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण फिल्म मेकर्स को शूटिंग की अनुमति नहीं दी कई। जिस वजह से फिल्म की लोकेशन चेंज की गई। 

इसे भी पढें- कितना जानते हैं आप भारत के इन 6 सबसे खूबसूरत और बड़ी वॉटरफॉल्स के बारे में

300 फीट की ऊंचाई से गिरता है झरना- 

Places To Visit In Chhattisgarh

बारिश के दिनों में हांदावाड़ा वाटरफॉल का नजारा देखने लायक होता है। यहां पर स्थित अबूझमाड़ के घने जंगलों में कई तरह जानवरों और पक्षियों का घर है। यही वजह है कि प्राकृतिक खूबसूरती और दिलकश नजारे देखने के लिए यह जगह बिल्कुल परफेक्ट है।

बेहद कठिन है रास्ता- 

Chhattisgarh Famous Waterfall

इस जलप्रपात तक पहुंचने का रास्ता बिल्कुल भी आसान नहीं है। यहां का रास्ता नक्सल क्षेत्रों में गिना जाता है, जहां अक्सर जान का खतरा रहता है। यहां पर इंद्रावती नाम की एक नदी है, जो 6 महीने तक पानी लबालब भरी रहती है, जिस कारण डोंगी की मदद से नदी पार करनी पड़ती है। इसके बाद पहाड़ पार करने के लिए आपको एक लंबा रास्ता तय करना पड़ता है, जो कि पैदल होता था। इस कारण यहां ज्यादा टूरिस्ट नहीं पहुंच पाते हैं। 

 इसे भी पढ़ें - ऋषिकेश में ये वॉटरफॉल्स हैं बेहद खूबसूरत, वीकेंड पर बनाएं यहां जाने का प्लान

फिसलन भरी सड़क-

 

यहां के जंगलों में फिसलन भरी पगडंडियां हैं, जिन्हें पार करना हर किसी के बस की बात नहीं। रास्ते में कच्ची सड़कें हैं, जिन पर कीचड़ है। इसके अलावा यहां पर मांडरी नाला पड़ता है, जहां बारिश के दिनों में पानी गले तक भर जाता है। 

इस जगह आदिवासियों द्वारा बांस की खपच्चियों को तार से बांधकर पैदल चलने वाला झूला पुल बनाया है। इसके आगे करीब 15 किलोमीटर तक पैदल सफर करना होता है। रास्ते में कई छोटे-छोटे गांव आते हैं। यात्रा का पहला पड़ाव हांदावाड़ा गांव है, यहां से 5 किलोमीटर दूरी पर वॉटरफॉल स्थित है। जहां आप प्राकृतिक दृश्यों का लुफ्त उठाया जा सकता है।

तो ये थी हांदावाड़ा वॉटरफॉल से जुड़ी जानकारियां, जिनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए। आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी के साथ। 

Image Credit- wikipedia and freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।