वो कहानी या फिल्म तो अपने ज़रूरत देखी होगी जिसमें एक व्यक्ति घड़ी के सहारे कभी भविष्य में चला जाता है तो कभी भूतकाल में चला जाता है। शायद, आप यह सोच रहे होंगे कि ऐसी विचित्र घड़ी सिर्फ फिल्मों में ही हो सकती है। असल दुनिया में ऐसी विचित्र घड़ी का मिलना संभव ही नहीं है। आप सही सोच रहे हैं लेकिन, विश्व के एक देश में एक ऐसी विचित्र घड़ी मौजूद है जिसमें पिछले कई वर्षों से किसी ने भी 12 बजाते हुए देखा ही नहीं है।

जी हां, इस विचित्र घड़ी में 10, 11 तो बजाते हैं लेकिन, 11 के बाद सीधा 1 बजता है यानि 12 इसमें बजाते ही नहीं है। आज इस लेख में हम आपको इस विचित्र घड़ी के बारे में करीब से बताने जा रहे हैं कि आखिर इस घड़ी में 12 क्यों नहीं बजते हैं और इसके पीछे की कहानी क्या है? तो आइए जानते हैं।

इसे भी पढ़ें: समुद्र के अंदर खोजी गई हैं ये 7 अद्भुत चीज़ें

कहां है ये विचित्र घड़ी?

clock in switzerland that never strikes  inside

आपको जानकर हैरानी नहीं होनी चाहिए कि ये घड़ी दुनिया की सबसे सुन्दर जगहों में शुमार स्विटजरलैंड में मौजूद है। जी हां, ये स्विटजरलैंड के एक शहर सोलोथर्न के टाउन स्क्वेयर पर घड़ी लगी है, जिसमें घड़ी के घंटे के सिसाब से 11 ही अंक है यानि 12 नंबर का अंक गायब है इस टाउन स्क्वेयर लगी घड़ी का। हालांकि, कहा जाता है कि इस शहर में मौजूद सिर्फ इसी घड़ी में नहीं बल्कि शहर के लगभग हर घड़ी में 12 नंबर का अंक गायब है।

Recommended Video

क्या है इसके पीछे की कहानी?

clock in switzerland that never strikes  inside

दरअसल, इस घड़ी के पीछे की कहानी बेहद ही दिलचस्प है। कहा जाता है कि इस शहर के लोगों को 11 नंबर से बेहद ही प्यार है। इस शहर में मौजूद चर्च की संख्या भी लगभग 11 ही है। इसके अलावा संग्रहालय, टावर आदि के नाम और संख्या भी 11 ही है। एक अन्य दिलचस्प कहानी यह है कि यहां सबसे प्रसिद्ध चर्च पर टिन सीढ़ियों का सेट है और हर सेट में 11 पंक्तियां हैं।

इसे भी पढ़ें: बिहार की 10 सबसे प्रसिद्ध और ऐतिहासिक जगहों की झलक आप भी देखें इन तस्वीरों में

जन्मदिन से भी जुड़ी है ये घड़ी

clock in switzerland that never strikes  in

इस शहर के लोग किसी अन्य वर्ष को जन्मदिन सेलिब्रेट करें या न करें लेकिन, जब भी कई 11 वर्ष का होता है बर्थ डे बड़े ही धूमधाम से मानते हैं और आसपास के सभी लोगों को केक भी खिलाते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्राचीन काल में खासकर स्विटजरलैंड में जिनके पास अलौकिक और अद्भुत शक्तियां होती थीं उन्हें एल्फ कहा जाता है, इसी शब्द से 11 संख्या को आज भी यहां के लोग जोड़कर देखते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@yupthatexists.com,ychef.files.bbci.co.uk)