कोरोना की वजह से पैदा हुए गंभीर हालतों ने हर एक इंसान के जीवन में उथल पुथल मचा दी। काफी कोशिशों के बाद अभी भी स्तिथि नियंत्रण के बाहर ही है। निश्चित रूप से यह साल लोगों के जीवन में बहुत से बदलाव लेकर आया है। गर्मियां आने साथ ही हम सब गर्मी की छुट्टी में बाहर जाने का प्लान किया करते थे।आज आलम यह कि हम सब इंतज़ार कर रहे हैं कि कब इस महामारी का अंत होगा और हम खुद को रिफ्रेश करने के लिए घूमने जा सकेंगे। हालांकि अभी तो यह कहना भी मुश्किल है कि ट्रेवलिंग स्टार्ट कब होगी। लेकिन जब भी होगी यह पहले जैसे नहीं होगी। आने वाले समय में आपको अपनी डेस्टिनेशन और मोड ऑफ़ ट्रांसपोर्ट के अनुसार अनेक बदलाव देखने को मिल सकते हैं। 

मिल सकते हैं नए दिशा-निर्देश  

traveling after lockdown inside

अपने देश के बाहर international trip पर जाना अब पहले जैसा आसान नहीं होगा। अब लोगों को विदेश यात्रा पर जाने के लिए मेडिकल सर्टिफिकेट की जरूरत होगी। जो इस बात की पुष्टि होगी कि आप पूरी तरह स्वस्थ्य हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार जल्द ही एयरपोर्ट ऑफिशियल्स, डॉक्टर्स  सरकारी वकीलों की टीम इससे जुड़े कुछ नए दिशा निर्देश निश्चित करेगी। जिसके अनुसार फ्लाइट में बैठने से पहले ग्लव्स, मास्क और डिस्पोजेबल कैप पहनना जरूरी होगा।

Recommended Video

इसे भी पढ़ें: ज्योतिरादित्य सिंधिया और पत्नी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया के 'जय विलास पैलेस' के बारे में जानें

पहले से महंगे होंगे होटल 

traveling after lockdown inside

ज्यादातर सभी लोग गर्मियों की छुट्टियों में बाहर घूमने जाने का प्लान करते हैं। फैमिली और बच्चों के साथ घूमने जाने के पहले हम अच्छा होटल भी बुक करते हैं। जहां हम सभी सुख -सुविधाओं का भरपूर मज़ा ले सकें। लेकिन अब ट्रेवलिंग गाइड लाइन्स में आपको कुछ बदलाव देखने को मिल सकते हैं। अब आपको अच्छा और हाइजीनिक होटल तलाश करना होगा। जहां अच्छे से सैनिटाइजेशन का ख्याल रखा जाता हो। जिसके चलते होटल और रिसॉर्ट्स अपने बुकिंग प्राइस बढ़ा सकते हैं। मतलब अब बाहर घूमने जाना आपको पहले से महंगा पड़ सकता है। 

इसे भी पढ़ें: साउथ इंडिया के किसी पर्यटन स्थल पर घूमने जा रहे हैं तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

कार से जाना होगा ज्यादा सुरक्षित 

traveling after lockdown inside

बड़े बड़े ऑफिस और कॉलिज आए दिन group outing प्लान करते हैं। जिसमें 50 से 100 लोग एक साथ घूमने जाते थे। लेकिन अब शायद यह सब इतना आसान नहीं होगा। ग्रुप आउटिंग कुछ समय के लिए सपने जैसा होगा। national flight में आने जाने के लिए भी सैनिटाइजेशन का ख़ास ख्याल रखना होगा। अगर आप लॉक डाउन के बाद कोई आउटिंग प्लान कर रहे हैं तो आपका अपनी कार से जाना ज्यादा सुरक्षित होगा। 

हालांकि यह सब तो लॉक डाउन के बाद ही तय होगा कि जिंदगी किस तरह पटरी पर लौटेगी। लेकिन हमारे जीवन में बहुत से बदलाव आने वाले हैं। जिनको अपनाने के लिए हमको अभी से मानसिक रूप से तैयार होना होगा।