गर्मियों की छुट्टियों में ब्रेक लेने और अच्छे डेस्टिनेशन्स पर जाने की हर महिला की इच्छा होती है, लेकिन फैमिली के साथ दूर-दराज के डेस्टिनेशन्स पर जाना काफी मशक्कत का काम होता है। कहीं बाहर जाने के लिए पहले से हवाई यात्रा या रेल यात्रा के लिए प्लानिंग करनी पड़ती है। गर्मियों की छुट्टियों में बाहर ट्रिप जाने के लिए टिकट बुकिंग भी बहुत मुश्किल होती है। अगर छोटे बच्चे के साथ जाना हो तो उसके लिए भी सफर से पहले काफी तैयारी करनी पड़ती है। इन सभी कामों में खर्च भी काफी ज्यादा हो जाता है। इन चीजों के मद्देनजर अगर आपको आगरा का ताजमहल देखने की चाहत है, लेकिन आप गर्मी में ट्रैवलिंग की मुश्किल से खुद को बचाना भी चाहती हैं तो दिल्ले के ताजमहल में घूमने जा सकती हैं। दिल्ली में यह शानदार टूरिस्ट डेस्टिनेशन है Waste To Wonder Park में, जिसे खुले हुए कुछ ही महीने हुए हैं। आइए इस वेस्ट टू वंडर पार्क में बने ताजमहल के बारे में जानते हैं-

बेकार चीजों से बना है दिल्ली का ताजमहल

waste to wonder delhi historical monuments

दिल्ली के सराय काले खां में बने 'वेस्ट टु वंडर पार्क' में यह ताजमहल स्थित है। शाहजहां ने आगरा में संगमरमर का ताजमहल बनवाया था, जिसकी कीमत आज के समय में अरबों रुपये में है। लेकिन इस पार्क में बने ताजमहल की खासियत यह है कि यह स्क्रैप यानी बेकार हो चुके सामान से बना है। आमतौर पर पुराना और बेकार पड़ा सामान कबाड़ में चला जाता है, लेकिन उसी कबाड़ से यहां खूबसूरत ताजमहल तैयार किया गया है।

इसे जरूर पढ़ें: दिल्ली की शान हैं ये 5 महल और हवेलियां, मुगलों की शाही जीवनशैली देखने के लिए यहां जरूर आएं

 

ये ताजमहल बेकार हो चुके लोहे की वेल्डिंग करके बनाया गया है। आगरे के ताजमहल में जहां संगरमर पर खूबसूरत आर्टवर्क देखने को मिलता है, वहीं दिल्ली का ताजमहल में अलग ही तरह की क्रिएटिविटी नजर आती है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दिल्ली के ताजमहल का पूरा ढांचा आगरा के ताजमहल की रेप्लिका है। इसे लोहे की जाली से तैयारी किया गया है और ये लोहा पूरी तरह से स्क्रैप मटीरियल है। यानी ऐसा लोहा, जो बेकार हो चुका था, उसे नए सिरे से जोड़कर मॉन्यूमेंट की शक्ल दी गई है। 

इसे जरूर पढ़ें: 'मिनी इंडिया' में घूमने और शॉपिंग करने के साथ मिलेगा टेस्टी खाने का मजा

Waste To Wonder Park में हैं दुनिया के 7 अजूबे

waste to wonder park delhi

इस पार्क में आपको ताजमहल जैसे दुनिया के 6 अजूबे और देखने को मिलेंगे। इनमें स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी (न्यूयार्क), गीजा का पिरामिड (मिस्र), एफिल टॉवर (पेरिस, फ्रांस), क्राइस्ट दी रिडीमर (ब्राजील), लीनिंग टावर ऑफ पीसा (इटली), कोलोजियम ऑफ रोम जैसी इमारतों की रेप्लिका शामिल हैं। इन सभी स्ट्रक्चर्स को तैयार करने के लिए 150 टन कचरे की रीसाइकिल किया गया है।

दिल्ली वासियों के लिए घूमने का अच्छा ऑप्शन

अगर आप दिल्ली की रहने वाला हैं और छुट्टी में दोस्तों के साथ घूमने या परिवार के साथ आउटिंग का प्लान बना रही हैं तो वेस्ट टू वंडर पार्क इसके लिए अच्छा ऑप्शन हो सकता है। वैसे तो ये पार्क दिन में भी देखा जा सकता है, लेकिन हम आपको सलाह देंगे कि आप यहां रात में घूमने जाएं। यहां रात में मॉन्यूमेंट्स पर पड़ने वाली लाइट इन स्ट्रक्टर्स को और भी खूबसूरत लुक देती है।

अगर आपको सेल्फी क्लिक करने का शौक है तो आप यहां पर अच्छी सेल्फीज क्लिक करने में कामयाब होंगी। हालांकि इस पार्क को खुले हुए अभी कुछ ही महीने हुए हैं, लेकिन यहां घूमने को लेकर दिल्ली और आसपास के इलाकों में रहने वालों में काफी एक्साइटमेंट देखने को मिलता है। खासतौर पर वीकेंड्स में इस पार्क में सैलानियों का तांता लगा रहता है। इस पार्क में मॉन्यूमेंट्स के आसपास काफी हरियाली है। अगर आप कुदरती माहौल में रिलैक्स्ड फील करती हैं तो आपको यहां आसपास हरियाली भी नजर आएगी।