हिमाचल अपनी अद्भुत खूबसूरती के लिए जाना जाता है। हिमाचल का नाम सुनते ही आंखों के सामने ऊंचे-ऊंचे बर्फ से ढके पहाड़ नजर आने लगते हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि हिमाचल में एक मिनी कश्मीर है। अगर आप कश्मीर घूमना चाहती हैं तो आपको हिमाचल के तोष गांव की यात्रा जरूर करनी चाहिए। यहां आपको ऐसा एहसास होगा कि मानों आप सच में कश्मीर पहुंच गई हों। तोष गांव की खूबसूरती हर किसी का मनमोह लेती है। इसलिए इस बार अपने ट्रैवल डेस्टिनेशन में तोष गांव को जरूर शामिल करें। 

तोष गांव की खूबसूरती 

must visit himachal mini kashmir tosh

तोष गावं हिमाचल प्रदेश की प्राकृतिक सुंदरता का उदाहरण है। यह गांव पार्वती घाटी पर स्थित है। यह गांव समुद्रतल से करीब 7,900 ऊंचाई पर स्थित है। यह गांव तेज रफ्तार जीवन से बहुत दूर हैं इसलिए यहां आकर आपको शांति और सुकुन महसूस होगा। इस गांव को मिनी कश्मीर भी कहा जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि कश्मीर की तरह ही यहां पर आपको बर्फ से ढके पहाड़, झील, झरने देखने को मिलेंगे। इस गांव में जाकर आपको ऐसा लगेगा जैसे आप स्वर्ग में आ गए हों। 

पार्टी करें

tosh mini kashmir of himachal

अगर आप असली पार्टी का मजा लेना चाहती हैं तो आपको तोष जरूर जाना चाहिए। यहां कि पार्टी का अपना ही एक अलग मजा है। ठंड के साथ बर्फ से ढके पहाड़ देखकर आपकी पार्टी का मजा दोगुना हो जाएगा। अगर आप तोष जाती हैं तो यहां पर होने वाली लोकल पार्टी में जरूर जाएं। यहां की पार्टी आपको एक नया एक्सपीरियंस देगी। 

इसे भी पढ़ें: हिमाचल की ये खूबसूरत जगह जहां आपको मिलेगा एडवेंचर का मजा

ट्रैकिंग करें

treking in tosh

अगर आपको ट्रैकिंग करना पसंद है तो आपको तोष जरूर जाना चाहिए। ट्रैकिंग लवर्स के लिए यह  जगह एक दम सही है। आप खीरगंगा और कसोल जाने के लिए ट्रैकिंग कर सकती हैं। कच्चे और संकरे रास्ते आपकी ट्रैकिंग को और मजेदार बना देंगे। साथ ही ट्रैकिंग करते वक्त आपको ऊंचे-ऊंचे पहाड़, झरने और बर्फ से ढकी हिमालय के चोटियां भी देखने को मिलेगी। 

इसे भी पढ़ें: प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर है हिमाचल का पुल्गा गांव, यहां जाने के लिए करनी होती है ट्रेकिंग

जमदग्नि ऋषि मन्दिर जाएं

tosh famous temple

हिमाचल प्रदेश में कई लोकप्रिय मंदिर हैं। लेकिन अगर आप तोष जा रही हैं तो जमदग्नि ऋषि मन्दिर को देखने जरूर जाएं। ये मंदिर साल में केवल जनवरी और फरवरी के महीने में कुछ दिनों के लिए ही खोला जाता है। यह मंदिर बर्फ के पहाड़ों से घिरा हुआ है । जब आप इस मंदिर के बरामदे में जाएंगी तब आपको चारों ओर केवल बर्फ से ढके पहाड़ ही देखने को मिलेंगे। साथ ही जब आप इस मंदिर के बरामदे से खड़ी होकर चिल्लाएंगी तो आपको आपकी आवाज वापस सुनाई देगी।

घूमने का सही समय

tosh village

हालांकि तोष गांव में आपको पूरे साल बर्फ देखने को मिलेगी। यह गांव बेहद ऊंचाई पर बसा हुआ है। जिसकी वजह से यहां पहुंचना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। अगर आपको तोष घूमने जाना है तो अप्रैल से अक्तूबर का समय एकदम सही रहेगा। इस समय में दूसरे महीनों के मुकाबले कम ठंड होती है। 

उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पंसद आया होगा। ट्रैवल से जुड़े ऐसे ही अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़ें रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।

 

Recommended Video