तमिलनाडु में कई सारी ऐसी जगह हैं जो परफेक्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन सकती हैं और ऐसे ही केरल में भी ऐसी कई जगह हैं जिन्हें देखकर आपको लगेगा कि बस यहीं बस जाएं। हालांकि, दोनों का मौसम काफी अलग हो सकता है, लेकिन अगर आप दक्षिण भारत में जा रही हैं तो फिर आपके लिए बहुत रोड ट्रिप का एक उपाय है। दरअसल, दक्षिण भारत में कोडाइकनाल और मुन्नार के बीच दूरी ज्यादा नहीं है और ये एक बेहतरीन रोड ट्रिप हो सकती है। 

खूबसूरत वादियों को देखना और बेहद खूबसूरत हरियाली से भरे इलाके देखने का मन किसका नहीं होगा। आपके लिए ये रोड ट्रिप बहुत ही खूबसूरत हो सकती है और इसमें 5-6 घंटे से लेकर 10-12 घंटे तक लगाए जा सकते हैं अगर आप रास्ते में तस्वीरें क्लिक करवाना चाहें तो। ये भारत की सबसे खूबसूरत रोड ट्रिप्स में से एक हो सकती है। भले ही ये इतनी ज्यादा फेमस नहीं है, लेकिन फिर भी इसकी खूबसूरती को कम समझना सही नहीं होगा। 

इसे जरूर पढ़ें- इस हिल स्टेशन पर मौजूद है 350 साल पुराना शिव मंदिर, यहां दिखेंगी हिमालय की खूबसूरत वादियां 

कितनी है दूरी- 

कोडाइकनाल और मुन्नार के बीच 156 किलोमीटर की दूरी है, लेकिन यहां देर काफी लगती है क्योंकि आपके लिए ये रास्ता थोड़ा मुश्किल हो सकता है। कारण ये है कि ये हिल स्टेशन की ओर जाने वाला रास्ता है और गाड़ियां काफी घुमावदार रास्तों से गुजरती हैं। साथ ही मनमोहक जगह हैं तो फिर आप सेल्फी खिंचवाने के लिए तो रुकेंगी ही। क्योंकि मुन्नार में ट्रेन स्टेशन नहीं है और वहां से सबसे पास ट्रेन स्टेशन है कोच्ची जो 88 किलोमीटर दूर है इसलिए ये रोड ट्रिप काफी अच्छा ऑप्शन है। 

Kodaikanal And Munnar

क्या मिलेगा रास्ते में? 

इस रास्ते में कई झरने, पहाड़ियों के अलावा बहुत सारी हरियाली देखने को मिलेगी। प्राकृतिक सुंदरता से ये जगह भरपूर है। जो रोड है वो ब्रिटिश शासन के दौर में 1942 में सुधारी गई थी उसके पहले ये रोड काफी खराब थी। इसे इसलिए सुधारा गया था ताकि विश्व युद्ध के दौरान अगर जापानी हमला कर देते हैं तो उनसे बचकर वापस जा सकें। 

Kodaikanal And Munnar best road trip

ट्रैकिंग के लिए भी है उपयुक्त- 

ऐसा नहीं है कि ये रास्ता सिर्फ रोड ट्रिप के लिए उपयुक्त है। यहां पर एडवेंचर ट्रैकिंग भी की जा सकती है। पूमबराई और कुक्कल (Poombarai and Kukkal) गांव के बीच एक लूप है जो 40 किलोमीटर के इलाके में फैला हुआ है इसे Forty Mile Round भी कहा जाता है। वहां ट्रैकिंग के लिए बहुत कुछ है। यहां से बेरीजेम (Berijem) तालाब तक ट्रेक कर जाया जाता है। ये केरल बॉर्डर पर है। 

munnar to kodaikanal by bike

रास्ते में आपको मन्नावू के भेड़ चराने वाले फार्म देखने को मिलेंगे और साथ ही साथ मुन्नार की पहाड़ियों की चोटियां भी दिखेंगी। आप चाहें तो गांव के किसी व्यक्ति की मदद ले सकती हैं। ये काफी खूबसूरत रास्ते हैं। 

यहां मौसम कभी भी बदल सकता है और ऐसा भी हो सकता है कि आप बादलों के बीच ट्रैवल करें। मुन्नार जाते समय आप कई सारे स्टॉप ले सकती हैं। अगर आप चाहें तो। अगर न चाहें तो सीधे आप अपनी जगह जा सकती हैं। लेकिन ये जरूर ध्यान रखिएगा कि ये इलाका बहुत खूबसूरत है और आपके लिए कई सारी जगह मौजूद हैं यहां भी एन्जॉय करने के लिए। इसलिए आप इस रोड ट्रिप को पूरा एक दिन दें।

इसे जरूर पढ़ें- भारत में है दुनिया का एकलौता Vegetarian शहर, यहां की खासियत जान चौंक जाएंगी आप

जाने से पहले ध्यान रखें-

दरअसल, Kodaikanal-Munnar Road को लेकर तमिलनाडु और केरल सरकार में थोड़ा सा विवाद चल रहा है कि किस सरकार को इसका रिपेयर करवाना चाहिए इसलिए ये थोड़ी खराब स्थिति में है। आपको इसके लिए समय लग सकता है। हो सकता है आपको रास्ते में कुछ जानवर भी मिलें क्योंकि रोड सही न होने के कारण यहां से अक्सर लोग नहीं जाते हैं। इस रास्ते पर इसीलिए ट्रेकिंग ज्यादा हो गई है। यहां से 17 अलग-अलग ट्रेक किए जा सकते हैं। हालांकि, आप लंबा रास्ता लेकर मेन रोड पर भी रह सकती हैं। यानी आप कोडाइकनाल से मुन्नार के बीच का लंबा रूट ले सकती हैं जहां से आप बिना खराब रास्ते के पहुंच सकती हैं। पर वो रास्ता इतना खूबसूरत नहीं है। ये रास्ता एडवेंचर ट्रैवल का हिस्सा है और जाने से पहले पूरी तरह से तैयारी कर लें। खाने-पीने की चीज़ों से लेकर इमर्जेंसी ट्रैवल किट तक सब कुछ रखना बहुत जरूरी है। रोड की स्थिति के कारण भी यहां समय लगता है।