सर्दी के मौसम में त्वचा ड्राई और बेजान हो जाती है, खास कर तब जब आप सारा वक्त हीटर के सामने गुजारती हैं। इससे आपकी स्किन और भी अधिक ड्राई हो जाती है, शुरुआत में यह सामान्य समस्याएं लगती हैं, लेकिन धीरे-धीरे यह स्किन बैरियर बनने लगती है। स्किन बैरियर कॉर्नोसाइटस नामक सेल से बनती है, वे त्वचा की ऊपर की परत में मौजूद होते हैं, जो कि केराटिन और नैचुरल मॉइस्चराइजर युक्त ईंटों की तरह दिखता है। ऐसे मौसम में ड्राई स्किन और अन्य त्वचा से जुड़ी समस्याओं से निपटने के लिए सही मॉइस्चराइजर लगाना फायदेमंद साबित हो सकता है। 

हमारी त्वचा में नैचुरली एसिडिक होता है, जो त्वचा को बचाने और हानिकारक बैक्टीरिया, और कवक की वृद्धि को रोकने में मदद करता है। जो संक्रमण, एलर्जी, और मुंहासे पैदा कर सकता है और इससे होने वाली जलन त्वचा को अतिसंवेदनशील बना सकता है। शुरुआती समय में आपकी त्वचा डल और खिंची-खिंची नजर आएगी, बाद में यह समस्याएं बढ़ने लगेगी। वहीं डैमेज और डल स्किन से राहत पाने के लिए इन तरीकों को आजमा सकती हैं। 

स्किन का ऐसे रखें ख्याल

wash your face

ठंड के मौसम में बहुत जरूरी है कि अपनी त्वचा के पीएच वैल्यू को बैलेंस रखा जाए। ऐसे में ब्यूटी प्रोडक्ट्स और ब्यूटी ट्रीटमेंट का अधिक इस्तेमाल न करें बल्कि इसकी जगह रेगुलर स्किन केयर रूटीन फॉलो करना काफी है। माइल्ड एजेंट युक्त एक्फोलिएट का उपयोग करें और ऐसा हफ्ते में कम से कम दो बार जरूर करें। चेहरे को बार-बार धोना त्वचा को प्रभावित कर सकता है, इसलिए एक सौम्य क्लींजर का ही उपयोग करें। इसके अलावा बिना अल्कोहल युक्त मॉइस्चराइजर का उपयोग करें और अपने चेहरे को धोने के लिए बहुत अधिक गर्म पानी का इस्तेमाल न करें। 

ऑयल का करें इस्तेमाल

facial oil

मॉइस्चराइजर के इस्तेमाल से त्वचा में नमी बनी रहती है, ऐसे में ध्यान रखना होगा कि त्वचा अधिक ड्राई न रहे। आप चाहें तो फेशियल ऑयल का इस्तेमाल कर सकती हैं, खासकर अगर आप मिस्ट, सीरम, और मॉइस्चराइजर लगाती हैं। ऑयल आपकी त्वचा को हाइड्रेट रखेगा, इसलिए किसी भी ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से पहले फेशियल ऑयल का उपयोग कर सकती हैं। वहीं फेशियल ऑयल को एक बार जरूर चेक कर लें कि इसमें मौजूद इंग्रेडिएंट्स क्या वह आपकी त्वचा के लिए उपयुक्त है।

मॉइस्चराइजर में मौजूद हो ये इंग्रेडिएंट्स

moisturisers

उन्हीं मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें, जिसमें स्क्वैलिन, पेप्टाइड्स और ह्यूमेन्स जैसे ह्यलुरोनिक एसिड मौजूद हो। हालांकि आप चाहें तो अपनी स्किन को मॉइस्चराइज करने के लिए सिंपल पेट्रोलियम जेली का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। सेरामाइड्स युक्त प्रोडक्ट हमारी त्वचा को रेबिल्ड करने में मदद करते हैं। इसके अलावा कोलेजन और इलास्टिन भी हमारी त्वचा को सॉफ्ट और लंबे समय तक जवां रखने में मदद करते हैं। ऐसे में आप अगर मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करती हैं तो कोशिश करें ये सभी इंग्रेडिएंट्स उसमें मौजूद हों।

इसे भी पढ़ें: नेचुरल तरीके से मेकअप रिमूव करने के लिए बादाम के तेल का ऐसे करें इस्तेमाल

Recommended Video

यूवी किरणों से त्वचा को रखें सुरक्षित

uv rays

यूवी किरणें आपकी त्वचा की समस्याओं को और अधिक प्रभावित करता है। इससे त्वचा पर काले धब्बे, प्रीमैच्योर साइन, फाइन लाइन्स आदि के लक्षण दिखाई देने लगते हैं। ऐसे में सनस्क्रीन को हर दो से तीन घंटे पर लगाएं और बार-बार इस्तेमाल करें, क्योंकि यूवी किरणें हमारी त्वचा के प्रोटीन को कम करती हैं और त्वचा संबंधी समस्याओं को पैदा करते हैं। वहीं कोशिश करें कि सूर्य की डायरेक्ट किरणों से संपर्क में न आएं।

इसे भी पढ़ें: घने और लंबे बालों के लिए यूं इस्तेमाल करें करी पत्ता, बेहद असरदार है ये तरीका

ह्यूमिडिफायर का करें इस्तेमाल

अगर आपको लगता है कि आपकी त्वचा ड्राई और डैमेज हो रही है तो आप ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल कर सकती हैं। यह हवा में नमी बनाए रखने में मदद करता है। यह आपकी त्वचा के लिए पूरी तरह सुरक्षित है, वहीं इन दिनों ह्यूमिडिफायर का चलन भी बढ़ रहा है। जिन लोगों को सांस लेने में समस्या होती है वह इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।