स्किन की कुछ सबसे बड़ी समस्याओं में से एक होती है एक्ने और ब्लैकहेड्स से जुड़ी समस्या। ऑयली हो या ड्राई स्किन ये समस्या लगभग सभी को झेलनी होती है। ब्लैकहेड्स और एक्ने के लिए कई बार हम महंगे ट्रीटमेंट्स करवाते हैं तो कई बार हम DIY नुस्खों की ओर जाते हैं। यकीनन स्किन केयर को लेकर बहुत सारे मिथकों पर हम यकीन करते हैं, लेकिन कई बार गलत स्किन केयर रूटीन को फॉलो करने से हमारी स्किन पर नुकसान भी हो जाता है। 

जहां तक स्किन केयर से जुड़े मिथकों का सवाल है तो इनके बारे में जानकारी देने के लिए हमें ब्यूटी एक्सपर्ट शहनाज़ हुसैन से बात की। उन्होंने हमें ये बताया कि हम एक्ने और ब्लैकहेड्स से जुड़े किन दो अहम मिथकों पर यकीन करते हैं जिन पर हमें यकीन नहीं करना चाहिए और अपने स्किन केयर रूटीन को और बेहतर बनाने की कोशिश करनी चाहिए। 

ब्लैकहेड्स को लेकर न करें इस बात पर यकीन-

आमतौर पर धारणा है कि ब्लैकहेड्स पोर्स में छुपी गंदगी के कारण होते हैं और इसलिए हम कई बार अपना चेहरा धोते हैं। चेहरे की सफाई के लिए काफी कुछ किया जाता है और अब तो डीप क्लीनिंग फेशियल भी अपनाए जाते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि आमतौर पर मानी जाने वाली ये धारणा गलत है। 

myths and acne

शहनाज हुसैन के मुताबिक ब्लैकहेड्स पोर्स में छुपी गंदगी नहीं बल्कि चेहरे के ऑयल का नतीजा होते हैं जो सख्त होकर पोर्स में जमा होता है। क्योंकि पोर्स खुले रहते हैं इसलिए इसकी टिप हवा और धूप से मिलकर ऑक्सिडाइज्ड हो जाती है और इसलिए ब्लैकहेड की टिप काली हो जाती है और उसे पोर्स से निकालने पर आप पाएंगे कि अंदर सफेद या स्किन कलर की जड़ होती है। 

इसे जरूर पढ़ें- चेहरे पर हैं भूरे चकत्ते या फिर झाइयां तो किचन में मौजूद ये 1 चीज़ देगी क्लियर स्किन

जहां ये चेहरे की गंदगी नहीं होती है वहीं आपको स्किन केयर रूटीन में सीबम को बैलेंस करने वाली स्टेप्स करनी चाहिए न कि बार-बार चेहरा धोने की स्टेप्स-

क्या न करें-

  • बार-बार अल्कलाइन साबुन से चेहरा न धोएं क्योंकि ऐसे में चेहरे का Ph बैलेंस बिगड़ेगा और स्किन से सीबम ज्यादा निकलेगा। ये और ज्यादा ब्लैकहेड्स पैदा कर सकता है। 
  • स्किन की सफाई के लिए माइल्ड क्लींजर या फेस वॉश का इस्तेमाल करें। 
  • चेहरे में दिन में तीन बार से ज्यादा फेस वॉश न करें।
  • मेकअप हटाते समय मेकअप रिमूवर का इस्तेमाल करें नहीं तो इसके कण आपके चेहरे पर चले जाएंगे और ये और भी ज्यादा ब्लैकहेड्स पैदा करेगा। 
  • हफ्ते में कम से कम एक बार स्किन एक्सफोलिएशन बहुत जरूरी है। 
acne related myths

एक्ने को लेकर इन बातों पर कभी न करें यकीन-

हमने ब्लैकहेड्स को लेकर ये बात जान ली है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक्ने को लेकर क्या गलत धारणाएं व्याप्त हैं और हम कैसे उनपर यकीन करते हैं। सबसे पहले तो ये कि टीनएजर्स को लगता है कि उनके एक्ने सिर्फ उम्र के कारण हैं और ये जल्दी खत्म हो जाएंगे। ऐसा नहीं है। टीनएजर्स को भी सही तरह का स्किन केयर रूटीन फॉलो करना जरूरी होता है। 

एक्ने को लेकर दूसरी गलतफहमी ये है कि अगर आपको बड़ी उम्र में एक्ने हो रहे हैं तो वो खाने-पीने की वजह से ही हुए होंगे और वो अपने आप चले जाएंगे। ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। आपको एक्ने के लिए सही ट्रीटमेंट करना जरूरी है। खाना-पीना एक्ने की समस्या को बिगाड़ सकता है, लेकिन वो इसे पैदा नहीं कर सकता है। 

myths about skin care

इसे जरूर पढ़ें- एक काजल पेंसिल से कैसे पाएं अलग-अलग लुक, जानें काजल से जुड़े 5 आसान हैक्स  

Recommended Video

क्या न करें- 

  • एक्ने की समस्या को बढ़ने न दें और ये जिस भी उम्र में हो रही है एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें। इससे चेहरे पर दाग पड़ने की समस्या को रोका जा सकता है। 
  • एक्ने को फोड़ना हमेशा गलत है। इससे स्कारिंग हो सकती है और साथ ही साथ इन्फेक्शन बढ़ सकता है।
  • एक्ने के लिए स्ट्रेस जिम्मेदार नहीं होता, लेकिन ये इस समस्या को बढ़ा जरूर सकता है। 
  • ऑयली और ग्रीसी फूड्स से कुछ समय के लिए दूर रहने में ही भलाई है।  

आपकी स्किन के लिए क्या सही है ये आपको पता होगा और स्किन केयर से जुड़ी किसी भी सलाह को मानने से पहले एक बार आप डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।