जिस तरह हर महिला का अपना एक अलग व्यक्तित्व होता है, ठीक उसी तरह हर महिला की स्किन भी अलग होती है। जहां कुछ महिलाओं की स्किन ऑयली होती हैं, वहीं कुछ महिलाएं ड्राई स्किन की समस्या का सामना करती हैं। ड्राई स्किन की महिलाओं की अपनी अलग स्किन प्रॉब्लम्स होती हैं और वह उसी के अनुसार स्किन केयर व मेकअप प्रॉडक्ट इस्तेमाल करती हैं। लेकिन ऐसा नहीं है कि जिन महिलाओं की स्किन शुरू से ड्राई नहीं है, उन्हें स्किन में रूखेपन की समस्या का सामना नहीं करना पड़ सकता। रूखापन कभी भी और शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है। अचानक सूखापन आमतौर पर एक बाहरी कारक का परिणाम होता है, यह आपकी स्किन के लिए काफी दर्द भरा हो सकता है। खासतौर पर, अगर यह ड्राई पैच के रूप में आपके चेहरे पर हो। अमूमन महिलाएं इस स्थिति में अपनी स्किन को अधिक मॉइश्चराइज करना एक बेहतर ऑप्शन समझती हैं। इसके लिए वह मॉइश्चराइजर से लेकर बॉडी लोशन या फिर नारियल तेल आदि का इस्तेमाल करना बेहतर समझती हैं। यकीनन यह तरीके आपकी स्किन के रूखेपन से निपटने के लिए कारगर हैं। लेकिन इससे भी पहले आपको यह जानना चाहिए कि अचानक फेस या स्किन पर होने वाले ड्राई पैचेस का कारण क्या है। अगर आपको इसके कारणों की जानकारी नहीं है तो चलिए आज हम आपको इस बारे में बता रहे हैं-

उम्र

age 

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ने लगती है, आपकी त्वचा स्वाभाविक रूप से कम तेल का उत्पादन करती है। जिसके कारण जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपकी त्वचा का तेल कम होता जाता है और शुष्कता बढ़ती जाती है। जिसके कारण आपको स्किन के अलग-अलग हिस्सों या चेहरे पर ड्राई पैचेस का अहसास होता है।

मौसम

weather for dry patches

वैसे अगर स्किन में होने वाले ड्राई पैचेस के कारणों की बात की जाए तो इसमें मौसम भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उदाहरण के तौर पर सर्दियों के मौसम में अक्सर फेस व स्किन पर ड्राई पैचेस हो जाते हैं। दरअसल, शुष्क हवा और कम आर्द्रता आपकी त्वचा से नमी को बाहर निकालती है और आपकी स्किन को अधिक रूखा बनाती है।

एयर कंडीशनिंग और हीटिंग

air conditioning

सेंट्रल हीटिंग, फायरप्लेस और एयर कंडीशनर भी नमी को कम करते हैं, जिसके कारण आपकी त्वचा को रूखापन बढ़ने लगता है। अगर इस स्थिति में स्किन पर ध्यान ना दिया जाए तो ऐसे में ड्राई पैचेस हो जाते हैं। इसलिए, अगर आप हीटर या एयर कंडीशनर का इस्तेमाल कर रही हैं तो मॉइस्चराइज़र या फेस मिस्ट का इस्तेमाल करना बिल्कुल भी ना भूलें। 

Recommended Video

हॉट शॉवर

hot shower

जब ठंड का मौसम आता है तो हम सभी को हॉट शॉवर लेने में यकीनन काफी मजा आता है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि लगातार और लंबे समय तक इस तरह का गर्म स्नान आपकी स्किन पर ड्राई पैचेस का कारण बन सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप गुनगुने पानी से नहाएं और नहाने के बाद बॉडी को मॉइश्चराइज करें। हालांकि आप क्लोरीन युक्त पानी के पूल में नियमित रूप से तैरने से बचें, इससे त्वचा पर अत्यधिक सूखापन हो सकता है।

इसे जरूर पढ़ें: जानिए, स्किन केयर प्रॉडक्ट का रिजल्ट नजर आने में लगता है कितना समय

स्किन केयर प्रॉडक्ट

skin care product

स्किन की केयर के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले प्रॉडक्ट भी स्किन पर काफी गहरा प्रभाव डालते हैं। मसलन, सोडियम लॉरिल सल्फेट या एसएलएस युक्त फेस वाश आपकी त्वचा को शुष्क कर सकते हैं। इसके अलावा, अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड और बीटा हाइड्रॉक्सी एसिड जैसे ग्लाइकोलिक और सैलिसिलिक एसिड जैसे एक्टिव इंग्रीडिएंट के अति प्रयोग से त्वचा के प्रोटेक्टिव बैरियर फंक्शन में समस्या उत्पन्न होती है। इससे ना सिर्फ स्किन में रूखापन बढ़ता है और ड्राई पैचेस होते हैं, बल्कि स्किन में जलन भी हो सकती है।

इसे जरूर पढ़ें: अपनी शादी का मेकअप आप अपने आप कर रही हैं तो फॉलो करें ये टिप्स

दवाई

medicine for skin

कई बार कुछ खास दवाईयों का सेवन भी स्किन में रूखापन बढ़ाता है। मसलन, उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रॉल, मुँहासे और एलर्जी के लिए उपयोग की जाने वाली प्रिस्क्रिप्शन दवाएं पूरे शरीर में शुष्क त्वचा के पैच का कारण बन सकती हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।