मानसून का मौसम हर किसी को बेहद लुभाता है। इस मौसम में बारिश की बूंदों के कारण तापमान गिर जाता है और तब सुहाने मौसम का अपना एक अलग ही आनंद आता है। हालांकि, मानसून का मौसम कभी-कभी स्किन के लिए परेशानी का सबब भी बन जाता है। दरअसल, इस मौसम में नमी और पसीने में अत्यधिक वृद्धि हो जाती है, जिससे स्किन पोर्स अक्सर तेल और गंदगी से भर जाते हैं। ऐसे में ब्रेकआउट्स व एक्ने की समस्या हो सकती है, जो वास्तव में आपको इरिटेट कर सकती है। एक बार मुंहासे निकल जाने के बाद इन्हें ठीक होने में काफी वक्त लग जाता है। इतना ही नहीं, कभी-कभी इन पिंपल्स को दबाने का भी मन करता है और इससे आपको रेडनेस व अन्य समस्या भी हो सकती है। इसलिए अगर आप इन सभी परेशानियों से बचना चाहती हैं तो ऐसे में अपनी स्किन की केयर करने के लिए आपको कुछ कदम उठाने होंगे, ताकि आपको एक्ने व ब्रेकआउट की समस्या ही ना हो। तो चलिए जानते हैं इन स्टेप्स के बारे में-

स्किन क्लींजिंग पर करें अधिक फोकस

skin cleanzing cream

यूं तो आप हर दिन अपनी स्किन को वॉश करती ही होंगी, लेकिन मानसून के मौसम में आपको स्किन क्लींजिंग पर अधिक ध्यान देना चाहिए। दरअसल, इस मौसम में आपके आस-पास की हवा अधिक नम और बैक्टीरिया से भरी होती है, जो आपके स्किन पोर्स को क्लॉग कर सकती है, जिससे मुंहासे और ब्रेकआउट हो सकते हैं। इसलिए, यह सुनिश्चित करें कि आप दिन में कम से कम दो बार अपना चेहरा अवश्य क्लीन करें। इससे स्किन पोर्स से गंदगी व तेल निकल जाएगा। साथ ही यह आपके पोर्स को ओपन करके किसी भी तरह की गंदगी को हटाएगा, जिससे ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को निकालना भी आसान हो जाता है, और ब्रेकआउट के विकसित होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है।

इसे ज़रूर पढ़ें- Expert Tips: मानसून में होने वाली इन 5 स्किन प्रॉब्‍लम्‍स से इस तरह पाएं छुटकारा

डबल क्लींजिंग तरीके से करें सफाई

acne free skin

चूंकि इस मौसम में स्किन की सही तरह से क्लीनिंग करना अधिक प्रभावी है। ऐसे में आप अपनी स्किन को बेहतर तरीके से साफ करने के लिए डबल क्लींजिंग तरीके को अपना सकती है। इसमें आमतौर पर, पहला क्लीन्ज़र ऑयल बेस्ड होता है और दूसरा वाटर बेस्ड होता है, जो पोर्स को अनक्लॉग करके उन्हें बेहतर तरीके से क्लीन करने में मदद करता है। साथ ही इस तरह स्किन को क्लीन करने से आपकी स्किन की सिर्फ गंदगी ही दूर नहीं होती, बल्कि इससे आपके चेहरे पर एक गजब का निखार भी आता है। इसके लिए आप पहले अपनी हथेली पर ऑयल बेस्ड क्लींजर लेकर उससे अपनी स्किन की क्लीनिंग करें। इसके लिए आप सर्कुलर मोशन में हल्के हाथों से मसाज करते हुए क्लीनिंग प्रोसेस शुरू करें। उसके बाद हल्के गुनगुने पानी का इस्तेमाल करते हुए क्लींजर को अपने चेहरे से धो लें और फिर पानी आधारित क्लींजर को पहले की तरह ही लगाएं।

Recommended Video

एंटी-बैक्टीरियल फेस मास्क का लें सहारा

anty face pack use

यह भी एक तरीका है मानसून में स्किन की केयर करने और उसे ब्रेकआउट व एक्ने से दूर रखने का। आप एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज युक्त कई नेचुरल इंग्रीडिएंट्स को अपने फेस मास्क का हिस्सा बना सकती हैं। यह मानसून के दौरान आपकी स्किन को तरोताजा रखते हैं और कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स जैसे कि मुँहासे, तैलीयपन और स्कार्स आदि से लड़ते हैं। इतना ही नहीं, अगर इस मौसम में सप्ताह में एक बार फेस मास्क का इस्तेमाल किया जाए तो यह आपकी डेड स्किन सेल्स को हटाकर स्किन पोर्स को भी क्लीन करते हैं, जिससे एक्ने होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। इस मौसम में आप नीम को अपने फेस मास्क में जरूर शामिल करें।

नीम में विटामिन ई, एंटीऑक्सिडेंट, कैल्शियम और जीवाणुरोधी गुण पाए जाते हैं, जो मुंहासों से लड़ने में कारगर साबित हो सकता है। आप अपनी स्किन टाइप के अनुसार नीम के पत्तों के पाउडर से फेस पैक बनाएं और उन्हें अपनी स्किन पर अप्लाई करें।

इसे ज़रूर पढ़ें-मुंहासों से हैं परेशान तो ट्राई करें यह होममेड फेस पैक

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (Freepik)