एक्ने किसी भी महिला को अच्छे नहीं लगते और वह इससे निजात पाने के लिए एंटी-एक्ने स्किन केयर रूटीन को फॉलो भी करती हैं। लेकिन एंटी-एक्ने स्किन केयर रूटीन अपनाने के बाद भी आपको अपनी आर्म्स, छाती, पीठ और चेहरे पर लगातार ब्रेकआउट नजर आ रहे हैं तो हो सकता है कि आप फंगल एक्ने से डील कर रही हों। हालांकि, इसका इलाज करने से पहले आपको यह भी जानना होगा कि वास्तव में फंगल एक्ने क्या है और किन कारणों से आपको इस समस्या का सामना करना पड़ता है। बता दें कि स्किन की यह कंडीशन अक्सर अनहाईजीनिक लाइफस्टाइल का परिणाम होती है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको फंगल एक्ने और उसके कारणों के बारे में बता रहे हैं-

क्या है फंगल एक्ने

inside  fungal acne

फंगल एक्ने वास्तव में एक्ने नहीं होते हैं और यहां तक कि फंगस के कारण भी नहीं होते हैं। सुनने में आपको शायद अजीब लगे लेकिन जिसे हम आम तौर पर फंगल एक्ने कहते हैं, वह पाइट्रोस्पोरम फॉलिकुलिटिस या मालासेज़िया फॉलिकुलिटिस के लिए एक सामान्य शब्द है, जो आम शब्दों में, हेयर फॉलिकल्स में एक संक्रमण है। यह संक्रमण यीस्ट की अधिकता के कारण होता है और आपके चेहरे, हाथ, पीठ और छाती पर सूजन, खुजली और मुंहासे जैसे धक्कों का कारण बनता है। हालांकि मलसेज़िया आमतौर पर हर किसी की त्वचा पर मौजूद होता है, यह अक्सर कुछ जीवनशैली की आदतों, दवाओं और बार-बार होने वाली चिकित्सा स्थितियों के कारण होता है। और चूंकि फंगल एक्ने बिल्कुल भी मुंहासे नहीं होते हैं और शायद यही कारण है कि आपकी नियमित एंटी-एक्ने दवाओं का उस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और कुछ मामलों में तो यह और भी खराब हो जाती है।

इसे ज़रूर पढ़ें- Beauty Hacks : घर पर ही आसानी से बनाएं आईशैडो, जानें कैसे

फंगल एक्ने के कारण

inside  fungal acne

फंगल एक्ने मुख्य रूप से आपके अनहाईजीनिक लाइफस्टाइल से जुड़ा है और इसके पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। जैसे-

•अगर आपको अपने पसीने से तर वर्कआउट के कपड़ों को लंबे समय तक यूं ही पहनने की आदत है या फिर आप उन्हें बिना धोए दोबारा पहनते है तो इससे आपको फंगल एक्ने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल, यह स्थिति यीस्ट के लिए परफेक्ट ब्रीडिंग ग्राउंड बनाता है, जिससे फंगल एक्ने होता है।

•वहीं, जरूरत से ज्यादा एंटीबायोटिक्स भी फंगल एक्ने का कारण बन सकते हैं। एंटीबायोटिक्स आपकी त्वचा पर स्वाभाविक रूप से मौजूद बैक्टीरिया को कम करते हैं, जिससे यीस्ट की ओवरग्रोथ हो सकती है। तब यह आपके हेयर फॉलिकल्स में प्रवेश कर सकता है और उसे मल्टीप्लाई कर सकता है, जिससे सूजन हो सकती है।

Recommended Video

•आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली भी फंगल एक्ने का कारण बन सकती है। मधुमेह या एचआईवी जैसी चिकित्सा स्थितियां, आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर करती हैं, जिससे आप फंगल एक्ने की चपेट में आ जाते हैं।

•आपका आहार मुख्य रूप से फंगल एक्ने को विकसित कर सकता है। यीस्ट कार्ब्स और चीनी पदार्थों पर पनप सकता है। इसलिए, यदि आपका आहार इन दो घटकों से भरपूर है, तो यह आपके लिए फंगल एक्ने विकसित करने का कारण हो सकता है।

•लगातार टाइट कपड़े पहनने से आपकी त्वचा पर पसीना और बैक्टीरिया फंस सकते हैं, जिससे यीस्ट के विकास के लिए उपयुक्त वातावरण बन जाता है और आपको फंगल एक्ने की समस्या का सामना करना पड़ता है। 

•जो लोग हॉट या ह्यूमिड टेंपरेचर में रहते हैं, उन्हें पसीना अधिक आता है, जिससे भी उन्हें फंगल मुँहासे होने का अधिक खतरा होता है।

इसे ज़रूर पढ़ें- अगर भूल गए हैं डाई लगाना तो कहीं जाने से तुरंत पहले ऐसे झटपट बालों को करें काला

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik