बेदाग, मुलायम और चमकती त्वचा हर महिला चाहती है, लेकिन हर महिला की यह इच्छा पूरी हो, यह जरूरी नहीं है। यूं तो हम सभी की स्किन में मौजूद पोर्स हल्के ओपन होते हैं, जिसके कारण हमारी स्किन अपना काम बेहतर तरीके से कर पाती हैं। इन्हीं की मदद से स्किन से ऑयल व पसीना आदि रिलीज होता है। लेकिन कभी-कभी कुछ कारणों जैसे सनडैमेज या स्किन एजिंग आदि के चलते यह पोर्स लार्ज हो जाते हैं। ऐसे में हमारी स्किन की सुदंरता भी कम होने लगती है। इतना ही नहीं, बिग पोर्स आपको काफी इरिटेट भी करते हैं, क्योंकि यह आपकी त्वचा के कई स्किनकेयर मुद्दों जैसे एक्ने, क्लॉग पोर्स व ब्लेमिशेस आदि को जन्म दे सकते हैं। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे कारणों के बारे में बता रहे हैं, जो पोर्स के बिग होने का बनते हैं-

ऑयली स्किन

inside oliy skin

बिग पोर्स के पीछे ओवर-एक्टिव sebaceous glands एक प्रमुख कारण हैं। दरअसल, हमारी त्वचा कुछ प्राकृतिक तेलों का उत्पादन करती है जो त्वचा को मॉइश्चराइज्ड और हेल्दी रखने में मदद करते हैं। लेकिन जब त्वचा में तेल का उत्पादन आवश्यकता से अधिक होता है, तो इसका अर्थ है कि आपकी स्किन ऑयली हैं। ये ओवरएक्टिव ग्लैंड्स आपकी त्वचा में गंदगी और प्रदूषण जमा होने का कारण बनते हैं। आपकी त्वचा के पोर्स में जमी हुई गंदगियां उनके सूजन का कारण बनती हैं और समय के साथ यह एनलार्ज पोर्स को को जन्म देती हैं।

उम्र का बढ़ना

inside  OLDER AGE

एजिंग बिग पोर्स के सबसे आम कारणों में से एक है। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, आपकी स्किन पर भी इसका असर दिखता है। उम्र बढ़ने के साथ, हमारी त्वचा अपनी लोच खो देती है। साथ ही स्किन की सेल्स रिजेनेरेशन कैपेसिटी भी कम हो जाती है। नतीजतन, त्वचा के छिद्रों में गंदगी बिल्ड अप होने लगती है। यह आपकी त्वचा के छिद्रों में सूजन का कारण बनता है और अंततः इससे स्किन पोर्स बिग हो जाते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप उम्र बढ़ने के साथ-साथ एक अच्छा स्किन केयर रूटीन फॉलो करें, ताकि स्किन की खूबसूरती को लंबे समय तक बरकरार रखा जा सके।

इसे ज़रूर पढ़ें-एक्ने प्रोन स्किन पर शेविंग करते समय इन बातों का रखें ख्याल

सन डैमेज

inside  sun damage

सूरज को ओवर एक्सपोज़र बिग पोर्स का एक और कारण है। सूरज की हानिकारक किरणों के लंबे समय तक संपर्क में आने से आपकी स्किन बदल जाती है और यह छिद्रों को बिग कर सकता है। जब आपकी त्वचा लंबे समय तक सूरज के संपर्क में रहती है, तो त्वचा में कोलेजन का उत्पादन कम हो जाता है और त्वचा की ऊपरी परत के नीचे के टिश्यू फैल जाते हैं, जिसके परिणामस्वरूप बड़े छिद्र हो जाते हैं। इसलिए जहां तक हो सके, अपनी स्किन को सूरज की किरणों से प्रोटेक्ट करें।

Recommended Video

बैड स्किन केयर हैबिट्स

inside  bad skin care

स्किन को अतिरिक्त केयर की आवश्यकता होती है। लेकिन स्किन केयर के दौरान कुछ बैड हैबिट्स आपकी त्वचा पर विपरीत प्रभाव डालता है। मसलन, पिंपल्स होने पर उन्हें पॉप करना, ओवर-स्क्रबिंग और ब्लैकहेड्स को छेड़ना आपकी त्वचा के छिद्रों को उजागर कर सकता है। ऐसे में आपकी स्किन पोर्स क्लॉग हो जाते हैं और आखिरी में आपको बिग पोर्स की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

इसे ज़रूर पढ़ें-इस तरीके से घर पर बनाएं कपूर का तेल, डैंड्रफ से मिलेगा छुटकारा

 

जेनेटिक्स

inside  JANETICS

बिग पोर्स का एक कारण ऐसा भी है, जिस पर आपका कोई नियंत्रण नहीं है। जब पोर्स साइज की बात होती है तो इसमें आपके जीन एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं। जबकि आप इस मामले में बिग पोर्स को रोकने के लिए कुछ नहीं कर सकती हैं, लेकिन फिर भी आप बिग पोर्स की उपस्थिति को कम करने के लिए एक हेल्दी स्किनकेयर रूटीन को अपना सकती हैं। त्वचा को क्लीन करना, एक्सफोलिएट करना और मॉइस्चराइज्ड रखना महत्वपूर्ण स्किनकेयर स्टेप्स हैं जो आपको स्मूद और फ्लॉलेस स्किन प्रदान करने में मदद करेंगे।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image credit- freepik