वो दिन लद गए, जब बैड हेयर डे से निजात पाने के लिए हेयर वॉश करती थीं। वैसे भी हेयर वॉश करने के बाद उन्हें सूखने में काफी समय लगता है, वहीं दूसरी ओर बालों को ओवर शैम्पू करना भी अच्छा नहीं माना जाता। ऐसे में इन दिनों गंदे व चिपचिपे बालों को एकदम फ्रेश लुक देने के लिए अब लड़कियां ड्राई शैम्पू का इस्तेमाल करने लगी है। ड्राई शैम्पू आपके ग्रीसी हेयर्स से एकदम से ऑयल दूर करके उन्हें वॉश्ड हेयर लुक देता है। हालांकि ड्राई शैम्पू को लेकर कुछ मिथ्स भी पिछले कुछ समय में काफी पॉपुलर हुए हैं। जैसे ड्राई शैम्पू का इस्तेमाल शैम्पू के अल्टरनेट के रूप में किया जा सकता है या फिर इससे हेयर फॉल शुरू हो जाता है। 

ऐसे कुछ मिथ्स ड्राई शैम्पू के गलत इस्तेमाल की वजह बनते हैं, जिसका खामियाजा आपके बालों को चुकाना पड़ता है। हो सकता है कि आप भी ड्राई शैम्पू से जुड़े कुछ मिथ्स पर भरोसा करती हों। तो चलिए आज हम आपको ड्राई शैम्पू से जुड़े कुछ मिथ्स और उनकी वास्तविक सच्चाई के बारे में बता रहे हैं-

मिथ 1- ड्राई शैम्पू से झड़ते हैं बाल

कुछ महिलाएं मानती हैं कि बालों के झड़ने की समस्या का एक कारण ड्राई शैम्पू का इस्तेमाल करना भी होता है। हालांकि ड्राई शैम्पू या किसी भी हेयर प्रॉडक्ट आपकी स्किन में इरिटेशन की वजह बनते हैं, जिससे स्कैल्प को नुकसान पहुंच सकता है। हालांकि ड्राई शैम्पू के साथ यह समस्या केवल तभी होती है, जब इसका जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल किया जाए। इससे स्कैल्प को नुकसान पहुंचा सकता है, जिससे रूसी हो सकती है और कुछ बाल झड़ सकते हैं। मसलन, अगर आप दो-तीन सप्ताह तक हर दूसरे दिन इसका इस्तेमाल करेंगी तो आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

dry shampoo mistakes

इसे जरूर पढ़ें- ऐसे घर में बनाएं ड्राई शैम्पू, नहीं पड़ेगी बार-बार बाल धोने की जरूरत

मिथ 2- हेयर वॉशिंग का विकल्प है ड्राई शैम्पू 

कुछ महिलाओं का यह भी मानना होता है कि ड्राई शैम्पू चूंकि आपके बालों में हेयर वॉशिंग के बाद वाली फ्रेशनेस लेकर आते हैं, इसलिए वह हेयर वॉशिंग का विकल्प हो सकते हैं। हालांकि यह पूरी तरह से एक मिथ है। ड्राई शैम्पू हेयर वॉशिंग का विकल्प नहीं है। ड्राई शैम्पू केवल बालों में मौजूद ऑयल को अब्जॉर्ब करके उसकी चिकनाहट को दूर करते हैं, लेकिन वे वास्तव में गंदगी और स्कैल्प में जमी हुई गंदगी को दूर नहीं करते हैं। इसलिए बालों को अच्छी तरह से क्लीन करने के लिए सप्ताह में दो-तीन बार एक अच्छे शैम्पू का इस्तेमाल करना चाहिए।

Recommended Video

मिथ 3- आपकी हेयर ग्रोथ को रोकता है ड्राई शैम्पू 

यह सच है कि खराब स्कैल्प हेल्थ बालों के झड़ने का कारण बन सकती है, लेकिन यह साबित करने के लिए कोई शोध नहीं है कि ड्राई शैम्पू बालों के विकास को रोकता है। हो सकता है कि आपने अपने आसपास किसी को देखा हो, जिसे ड्राई शैम्पू से नुकसान हुआ हो। लेकिन ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि ड्राई शैम्पू आपके बालों को धोने के लिए एक सीधा विकल्प नहीं है, लेकिन कुछ महिलाएं फिर भी इसका जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करती हैं और शैम्पू को अवॉयड करती हैं। जिसके कारण स्कैल्प पर जमी गंदगी आपके बालों को नुकसासन पहुंचाती है। बालों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए आवश्यक है कि प्रॉडक्ट बिल्डअप को रोकने के लिए सप्ताह में कम से कम एक बार अपने बालों को शैम्पू से अच्छी तरह से साफ़ करें। 

dry shampoo and hair fall

इसे जरूर पढ़ें- Best Shampoo: बालों के लिए बेस्ट साबित हो सकते हैं ये 7 शैम्पू, नहीं होगी Dry Hair की समस्या 

मिथ 4- स्कैल्प को रूखा बनाता है ड्राई शैम्पू  

ड्राई शैम्पू नाम होने का अर्थ यह नहीं है कि यह आपकी स्कैल्प को रूखा बनाएगा। इसके कारण आपको जलन की समस्या पैदा हो सकती है और वह भी तब जब आप इसे बालों के लिए एक क्लींजिंग एजेंट के रूप में उपयोग किया जाए। आप ड्राई शैम्पू शैम्पू का इस्तेमाल जल्दी में या फिर कम समय होने पर कर सकती हैं। लेकिन इसके इस्तेमाल के साथ-साथ आपको अपने बालों के क्लीनिंग रूटीन को बिल्कुल नहीं छोड़ना चाहिए, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई उत्पाद बिल्ड-अप या गंदगी नहीं है। यह सच है कि ड्राई शैम्पू स्कैल्प पर मौजूद गंदगी और तेल के लिए एक मास्क की तरह काम करता है, हालांकि, बालों की सही सफाई के बिना और इसे अत्यधिक उपयोग से ड्राई स्कैल्प की समस्या हो सकती है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।