बढ़ती हुई उम्र और सर्दियां अपने साथ काफी कुछ परेशानियां लेकर आती हैं। यकीनन स्किन पर फाइन लाइन्स और विंटर लाइन्स की समस्या कुछ बड़ी हो जाती है। एक तरह से देखा जाए तो स्किन में अधिकतर समस्याएं सर्दियों के मौसम में आती हैं क्योंकि इस मौसम में स्किन जरूरत से ज्यादा ड्राई हो जाती है। इस सीजन में अगर हम स्किन पर ध्यान ना दें तो कई बार इसके कारण परमानेंट डैमेज भी हो जाता है।

इस सीजन में दिखने वाली फाइन लाइन्स और विंटर लाइन्स के लिए क्या किया जाए और इन्हें कैसे कम किया जाए ये जानने के लिए हमने INATUR की फाउंडर, अरोमा थेरेपिस्ट और कॉस्मेटोलॉजिस्ट मिस पूजा नागदेव से बात की। उनका कहना है कि हम स्किन केयर रूटीन की कुछ बेसिक जरूरतों को हमेशा भूल जाते हैं जिससे स्किन में ऐसी समस्याएं बढ़ती हैं।

उन्होंने हमें विंटर फाइन लाइन्स को हल करने के लिए कुछ टिप्स भी बताए। तो चलिए जानते हैं कि इस सीजन में हमें किस तरह से अपनी स्किन का ख्याल रखना चाहिए जिससे स्किन केयर सही से हो जाए।

'सर्दियां वो सीजन है जिसमें हवा में भी ड्राइनेस होती है और यही कारण है कि इस सीजन में फाइन लाइन्स, स्ट्रेच मार्क्स आदि बहुत ज्यादा इस सीजन में दिखने लगते हैं।'

fine and winter lines

इसे जरूर पढ़ें- अगर घर का पानी है खारा तो बालों को टूटने से ऐसे बचाएं

मॉइस्चराइजर को बिल्कुल नहीं भूले-

फाइन लाइन्स और विंटर लाइन और स्ट्रेच मार्क्स अगर ज्यादा दिख रहे हैं तो उसका कारण स्किन का ड्राई होना भी है। आपको ये समझना होगा कि अगर आपकी स्किन में फाइन लाइन्स 10-15 साल से हैं तो उसे पूरी तरह से हटाना मुमकिन नहीं है। हां, इसे और गहरा होने से रोका जा सकता है और इन्हें हल्का किया जा सकता है।

ऑयल जेल का करें इस्तेमाल:

ये ऑयल होते हैं जिन्हें जेल फॉर्म में बदल दिया गया है। इसलिए ये स्किन को ज्यादा अच्छे से मॉइस्चराइज कर सकते हैं। नॉर्मल मॉइस्चराइजर में ऑयल के साथ-साथ पानी भी होता है और इसलिए ये स्किन में ज्यादा डीप अगर नहीं दिखा पाते।

ऑयल बेस्ड मॉइस्चराइजर:

दूसरी बात ये कि आप ऑयल बेस्ड मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें। ये आपकी स्किन में नॉर्मल वाटर बेस्ड मॉइस्चराइजर की तुलना में ज्यादा असर दिखाएंगे। आप बटर बेस्ड मॉइस्चराइजर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

मॉइस्चराइजर में हमेशा Humectant होना चाहिए:

ये वो कम्पाउंड होते हैं जो स्किन के मॉइस्चर को अच्छे से प्रिजर्व करके रखने में मदद करते हैं। ये वो इंग्रीडिएंट्स होते हैं जो मॉइस्चर को स्किन की अंदरूनी लेयर तक पहुंचा सकते हैं। जैसे ग्लाइसेल, हाइड्रोक्सी थाई यूरिया, ग्लिसरीन, ग्लाइकोल आदि।

fine lines in winter

स्ट्रेच मार्क्स और गहरी लाइन्स के लिए कोल्ड प्रेस्ड ऑयल्स का इस्तेमाल करें-

आप अपनी स्किन पर लाइन्स को हल्का करने के लिए कई तरह के कोल्ड प्रेस्ड ऑयल्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये वो तेल होते हैं जिनका केमिकल बॉन्ड काफी मजबूत होता है। इनमें विटामिन-ई का सोर्स भी काफी अच्छा होता है जिसे आपको इस्तेमाल करना चाहिए। 

  • व्हीट जर्म ऑयल
  • बादाम का तेल
  • रोजहिप ऑयल
  • रैस्पबेरी सीड ऑयल 

आप प्योर बटर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए आप शिया बटर चुन सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें- स्किन पिगमेंटेशन की है समस्या तो डाइट में करें ये बदलाव 

चेहरे पर होने वाली विंटर लाइन के लिए क्या करें? 

विंटर लाइन की बात करें तो ये स्किन पर कहीं भी हो सकती हैं जैसे चेहरे पर पड़ने वाली लाइन्स के लिए भी एक ही चीज़ कही जा सकती है और वो है मॉइस्चराइजेशन। आप इसके लिए फेशियल ऑयल का प्रयोग करें। 

रोजहिप ऑयल, आर्गन ऑयल, कुमकुमादि तेल आदि लाइट फेशियल ऑयल होते हैं जो किसी भी तरह की स्किन पर लगाए जा सकते हैं। इसके अलावा, ड्राई स्किन के लिए बादाम तेल और गुनगुना नारियल का तेल लगाया जा सकता है, लेकिन ये ड्राई स्किन के लिए होगा। 

Recommended Video

सर्दियों में चेहरे पर फेशियल ऑयल इस्तेमाल करना अच्छा माना जाता है। क्रीम की तुलना में ये ज्यादा समय तक मॉइस्चर पहुंचा सकते हैं। 

सर्दियों में हमेशा आपको स्किन के लिए सही तरह से मॉइस्चराइजेशन करना जरूरी है और यही एक तरीका है जिससे सर्दियों में होने वाले डैमेज से बचा जा सकता है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।