Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    मुंह के आस-पास हो रहा है कालापन तो उसे कम करने के हैं ये तरीके

    Perioral Pigmentation: अगर आपके होंठों के आस-पास काफी कालापन है तो उसके लिए डॉक्टर के बताए ये टिप्स फॉलो किए जा सकते हैं।   
    author-profile
    Updated at - 2022-10-17,19:04 IST
    Next
    Article
    How to control pigmentation around the lips

    Perioral Pigmentation in Hindi: क्या आपके मुंह के आस-पास भी कालापन आ जाता है? हममे से कई लोग ऐसे हैं जिनके होंठों के आस-पास इस तरह के पिगमेंटेशन की समस्या हो जाती है। कई लोगों के साथ ये होता है कि उन्हें होंठों के आस-पास इतना कालापन हो जाता है कि बहुत ज्यादा परेशानी बढ़ने लगती है। हम कई बार इसके कारण डॉक्टर के पास भी जाते हैं पर कोई असर नहीं दिखता। इसका कारण कई बार हमारी खुद की गलतियां होती हैं जो लिप्स के आस-पास के पिगमेंटेशन को बढ़ा देती हैं। 

    एस्थेटिक फिजिशियन, डर्मेटोलॉजिस्ट डॉक्टर सरू सिंह ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर पेरि ओरल पिगमेंटेशन से जुड़ी बातें शेयर की हैं। उन्होंने इसका कारण भी बताया है और ये भी बताया है कि मेलेनिन प्रोडक्शन को थोड़ा कम करने के लिए क्या किया जाए। 

    क्यों ज्यादा होता है ओरल पिगमेंटेशन

    डॉक्टर सरू सिंह के मुताबिक ओरल पिगमेंटेशन उन लोगों को ज्यादा होता है जिनका स्किन कलर थोड़ा डार्क है। ये मेलेनिन प्रोडक्शन के ज्यादा होने के कारण होता है। हाइपरपिगमेंटेशन कई बार किसी एलर्जी के कारण हो सकता है जो डर्मेटाइटिस जैसी समस्या के कारण होता है। इसके अलावा, लाइफस्टाइल की खराबी, खराब मेकअप, स्किन केयर प्रोडक्ट्स की खराबी आदि कुछ भी इसके कारण हो सकता है। स्किन का डार्क होना खराब मेकअप के कारण भी हो सकता है।  

    lips and pigmentation

    इसे जरूर पढ़ें- पिगमेंटेशन की समस्या को कम करने के लिए ऐसे करें स्किन पीलिंग

    स्किन की ये समस्या गर्मियों के समय में और भी ज्यादा हो सकती है। ऐसे में ये जरूरी है कि आप सनस्क्रीन का उपयोग करें। इस एरिया की स्किन काफी कमजोर होती है और इसलिए हाइपरपिगमेंटेशन की समस्या ज्यादा गहरी हो सकती है। (स्किन मेलेनिन ऐसे ठीक करें)

     

    क्या बिल्कुल ना करें?

    अगर आपकी स्किन ज्यादा काली पड़ रही है तो ये जरूरी है कि आप खराब क्वालिटी कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें। केमिकल्स की वजह से एलर्जिक रिएक्शन्स काफी ज्यादा हो जाते हैं और इसलिए पिगमेंटेशन की समस्या बढ़ती है। ऐसे में कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल कम से कम करें। 

    Recommended Video

    अगर पिगमेंटेशन की समस्या बढ़ रही है तो क्या करें?

    अगर पिगमेंटेशन की समस्या ज्यादा बढ़ रही है तो आपको इन चीज़ों का ध्यान रखना चाहिए-

    • कोजिक एसिड या आरब्यूटिन का इस्तेमाल जरूर करें।
    • खुद से कोई दवा ना इस्तेमाल करें बल्कि डर्मेटोलॉजिस्ट की मदद लें। 
    • लेजर ट्रीटमेंट आदि चुनने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।
    • हमेशा कम केमिकल्स वाले ऑर्गेनिक कॉस्मेटिक्स चुनने की कोशिश करें। 
    • केमिकल पील्स और स्किन एक्सफोलिएशन का इस्तेमाल तभी करें अगर वो आपकी स्किन को सूट करता है। 
    • azelaic acid का इस्तेमाल भी किया जा सकता है जो स्किन को सूट करे। 
    • जहां भी जाएं सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें। 
    • खुद को हाइड्रेट रखना भी जरूरी है जिसके कारण आपकी स्किन में रौनक आ सकती है। 
    • मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल जरूर करें जिससे आपका स्किन बैरियर स्ट्रॉन्ग रहेगा।  

    इसे जरूर पढ़ें- इन 5 गलतियों की वजह से नहीं खत्म हो पाता है चेहरे का पिगमेंटेशन 

    आपको ये भी ध्यान रखना है कि अगर आपकी स्किन में किसी तरह का एलर्जिक रिएक्शन हो रहा है तो पहले डॉक्टर के पास जाएं। कई बार लोग इसे इग्नोर करते हैं और समस्या बड़ी होने के बाद उसके लिए उपाय खोजते हैं। ये जरूरी नहीं है कि स्किन में डार्क कलर ही हो। कई बार ये पिगमेंटेशन येलो या ब्लू शेड्स में भी हो सकता है। आपकी स्किन की देखभाल के लिए हमेशा कम केमिकल्स का इस्तेमाल करें।  

    अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।