त्वचा की देखभाल के लिए घर पर आसानी से उपलब्ध कई कई प्राकृतिक चीजों का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। वास्तव में, प्रकृति न केवल एक एक्‍सपर्ट केमिस्‍ट है, बल्कि बेस्‍ट ब्‍यूटी थेरेपिस्‍ट भी है। त्वचा के लिए ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट्स की एक पूरी श्रृंखला प्रकृति में मौजूद है। यहां उनमें से कुछ ऐसे हैं, जो 2022 में त्‍वचा की देखभाल के लिए आप इस्‍तेमाल कर सकती हैं। इसके बारे में हमें ब्‍यूटी एक्‍सपर्ट शहनाज हुसैन जी बता रही हैं। आइए इसे इस्‍तेमाल करने के तरीके के बारे में विस्‍तार से आर्टिकल के माध्‍यम से जानते हैं। 

हल्दी में है औषधीय गुण

turmeric for skin care in

हल्दी अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुणों के कारण प्राचीन काल से हमारे पारंपरिक औषधीय और ब्‍यूटी केयर का एक हिस्सा है। इसे बॉडी पैक या 'उबटन' में जोड़ा जाता था और यह हमारी शादी की रस्मों का एक हिस्सा है।

इस्‍तेमाल का तरीका

हल्दी त्वचा को मुलायम और ग्‍लोइंग बनाती है। यह समय के साथ टैन को हटाने और त्वचा के रंग को हल्का करने में भी मदद करती है। टैन हटाने के लिए दही में एक चुटकी हल्दी मिलाकर चेहरे पर रोजाना लगाएं। 20 मिनट बाद धो लें।

इसे जरूर पढ़ें:त्वचा को ग्लोइंग बनाने के लिए अपनाएं ये पॉपुलर स्किन केयर ट्रेंड्स

गुलाब जल है सबसे अच्‍छा ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट

गुलाब जल सबसे आम ब्‍यूटी सामग्री में से एक है। यह संवेदनशील त्वचा और मुंहासे सहित सभी प्रकार की त्वचा के लिए उपयुक्त होता है। यह एक शक्तिशाली नेचुरल स्किन टोनर है और त्वचा को फ्रेश रखने में भी मदद करता है। गुलाब जल बहुमुखी है और इसे कई सामग्रियों के साथ मिलाकर त्‍वचा पर लगाया जा सकता है।

इस्‍तेमाल का तरीका

मुल्तानी मिट्टी में गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बना लें। होंठों और आंखों के आस-पास की त्‍वचा को छोड़कर पूरे चेहरे पर लगाएं। सूखने पर इसे सादे पानी से धो लें। यह ऑयली त्वचा के लिए बेस्‍ट है, क्योंकि यह पोर्स को साफ करता है और ऑयल को कम करता है।

एलोवेरा का जादू त्‍वचा पर चलाओ

skin care tips for  by shahnaz

आज उपयोग में आने वाले कई पौधों के अवयवों में से, एलोवेरा सबसे बहुमुखी में से एक है। यह एक शक्तिशाली प्राकृतिक मॉइश्चराइजर है और नमी के नुकसान को सील करता है। यह डेड स्किन सेल्‍स को भी सॉफ्ट करता है और उन्हें हटाने में मदद करता है, जिससे त्वचा स्‍मूथ और शाइनी हो जाती है।

इस्‍तेमाल का तरीका

एलोवेरा जेल को फेस पैक में मिला सकते हैं। इसका फेस पैक बनाकर भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। एक चम्मच बेसन, एक चम्मच दही और एक चम्मच एलोवेरा जेल लें। एक साथ मिलाएं और त्वचा पर लगाएं, 30 मिनट के बाद इसे धो लें।

नीम से दूर करें मुंहासे

नीम का इस्‍तेमाल त्वचा की देखभाल के लिए घरेलू उपचार के रूप में न केवल समस्याओं को रोकने के लिए, बल्कि शांत करने और ठीक करने के लिए भी किया जाता है। नीम में कार्बनिक सल्फर यौगिक होते हैं, जो त्वचा और बालों दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं। इसका उपयोग पिंपल्स, एक्ने या रैशेज को ठीक करने के लिए किया जाता है।

इस्‍तेमाल का तरीका

मुट्ठी भर नीम के पत्ते लें और 5 कप पानी में बहुत धीमी आंच पर उबाल लें। रात भर छोड़ दें। अगली सुबह, छान लें और पानी से चेहरा धो लें। नीम के पत्तों का लेप पिंपल्स या रैशेज पर लगाएं।

शहद है नेचुरल मॉइश्चराइजर

honey for skin care in

शहद सबसे शक्तिशाली नेचुरल मॉइश्चराइजर में से एक है, जो वास्तव में त्वचा की नमी को आकर्षित करता है। शहद के सभी गुण इसे एक बेस्‍ट नेचुरल कॉस्मेटिक इंग्रीडिएंट बनाते हैं। यह सभी प्रकार की त्वचा पर सूट करता है और बाहरी रूप से लगाने पर त्वचा को पोषण देता है। अगर आपकी त्वचा ड्राई है तो रोजाना शहद लगाएं और 20 मिनट बाद सादे पानी से धो लें।

इस्‍तेमाल का तरीका

ड्राई त्वचा के लिए आप आधा चम्मच शहद, एक चम्मच गुलाब जल और एक चम्मच ड्राई मिल्‍क पाउडर भी मिला सकते हैं। पेस्ट में मिलाएं और चेहरे पर लगाएं। 20 मिनट बाद धो लें।

ऑयली त्वचा के लिए मॉइश्चराइजिंग लोशन के लिए 100 मिलीलीटर गुलाब जल, आधा चम्मच शहद और एक चम्मच नींबू का रस लें। मिक्स करें, अच्छी तरह हिलाएं और एक जार में फ्रिज में रख दें। चेहरे पर लगाएं और 15 मिनट बाद सादे पानी से धो लें।

दूध से दूर करें ड्राईनेस

दूध एक अन्य किचन सामग्री है जो आमतौर पर उपलब्ध होती है। इसमें प्रोटीन, फैट, विटामिन्‍स और मिनरल्‍स होते हैं। सर्दियों में स्किन केयर के लिए बेस्‍ट, यह ड्राइनेस को दूर करने, त्वचा को पोषण देने और उसे मुलायम बनाने में मदद करता है।

इस्‍तेमाल का तरीका

नॉर्मल से ड्राई त्वचा को साफ करने के लिए आधा कप ठंडा दूध और किसी भी वेजिटेबल ऑयल की पांच बूंदें जैसे जैतून, तिल या सूरजमुखी का तेल लें। एक बोतल में डालकर अच्छी तरह हिलाएं। कॉटन की मदद से इससे त्वचा को साफ करें। बचे हुए मिश्रण को फ्रिज में रख दें।

दूध की मलाई रूखी त्वचा के लिए बेहद पौष्टिक होती है। प्रभाव इतना हल्का होता है कि इसे शिशुओं की नाजुक त्वचा पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह त्वचा को कोमल और स्‍मूथ और शाइनी बनाती है। यह ड्राई त्वचा के लिए उपयुक्त है। यह समय के साथ त्वचा के रंग को हल्का करने में भी मदद करती है। इसे फेस मास्क और बॉडी स्क्रब में जोड़ा जा सकता है। होंठों पर लगाने से यह काले होंठों के रंग को नरम और हल्का करने में मदद करती है।

दालचीनी पाउडर है कमाल

Cinnamon for skin care in

दालचीनी पाउडर का पिंपल्स और मुंहासों पर उपचार प्रभाव पड़ता है।

इस्‍तेमाल का तरीका

दालचीनी पाउडर में नींबू के रस और शहद की कुछ बूंदों को मिलाकर एक चिपचिपा पेस्ट बना लें। पिंपल्स पर लगाएं और एक घंटे के लिए छोड़ दें। सादे पानी से धो लें।

Recommended Video

बेसन में होते हैं क्‍लीजिंग गुण

बेसन में स्टार्च होता है और यह त्वचा को टाइट में मदद करता है। इसमें क्‍लीजिंग गुण भी होता है। बेसन का उपयोग प्राचीन काल से बॉडी मास्क (उबटन) में किया जाता रहा है।

इसे जरूर पढ़ें:ये हैं इस दशक के सबसे पॉपुलर स्किन केयर ट्रेंड्स

इस्‍तेमाल का तरीका

इसे दही या दूध के साथ एक चुटकी हल्दी के साथ मिलाकर बॉडी मास्क या बॉडी स्क्रब के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। पेस्ट डेड स्किन सेल्‍स को त्वचा से साफ करेगा और त्वचा को ब्राइट करने में मदद करता है। यह टैन हटाने में भी मदद करता है।

तुरंत सुधार से लेकर दीर्घकालिक उपचार तक, आप घरेलू नुस्‍खों का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। हालांकि, यह नुस्‍खे पूरी तरह से नेचुरल चीजों से बने हैं और इसके कोई साइड इफेक्‍ट्स नहीं हैं। लेकिन फिर भी इसे इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्‍ट जरूर कर लें। ऐसा इसलिए क्‍योंकि हर किसी की त्‍वचा नेचुरल चीजों के प्रति अलग तरह से प्रतिक्रिया करती है। ब्‍यूटी से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik.com