बाल किसी भी महिला के व्यक्तित्व का एक अहम् हिस्सा होते हैं। जब बाल लंबे, सिल्की और खूबसूरत होते हैं तो ना चाहते हुए भी हर किसी का ध्यान उस ओर जाता है। हर महिला चाहती हैं कि उसके बाल हेल्दी और सिल्की हो। इसके लिए अमूमन महिलाएं अपने बालों का पूरा ध्यान रखती हैं। बालों की ऑयलिंग करने से लेकर उन्हें शैम्पू व कंडीशन करना लगभग हर महिला के हेयर केयर रूटीन का हिस्सा है। यह बालों की बेहद बेसिक केयर मानी जाती है और लड़कियां इसे फॉलो भी करती हैं। 

वैसे तो बालों को सिल्की व शाइनी बनाने के लिए शैम्पू के बाद हर बार कंडीशनर का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। कडीशनर का इस्तेमाल करने से बाल स्मूद, शाइनी, मॉइश्चराइज और frizz-free hair होते हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि कभी-कभी शैम्पू के बाद बालों को कंडीशन नहीं करना चाहिए। महीने में एक-दो बार कंडीशनर स्किप करने से बालों को नुकसान नहीं, बल्कि फायदा होता है। तो चलिए जानते हैं कि कभी-कभी बालों को कंडीशन ना करने से क्या फायदा होता है-

मिलते हैं voluminous हेयर

conditioner once while can be beneficial for your hair  Inside

कंडीशनर आमतौर पर उन महिलाओं के लिए अच्छा माना जाता है, जिनके बाल थिक, कर्ली या फ्रिजी होते हैं। लेकिन आजकल पतले बालों की महिलाएं भी कंडीशनर का इस्तेमाल करती हैं। यकीनन कंडीशनर के इस्तेमाल से बाल स्मूद व शाइनी बनते हैं, पर अगर जरूरत से ज्यादा कंडीशनर का इस्तेमाल किया जाए तो इससे बालों में voluminous नजर नहीं आता। इसलिए कभी-कभी आप हेयर पर कंडीशनर का इस्तेमाल ना ही करें तो अच्छा।

इसे भी पढ़ें: हेयरस्प्रे को करें सही तरह से इस्तेमाल, बालों को नहीं होगा कोई नुकसान

बालों को लेने दें सांस

conditioner once while can be beneficial for your hair Inside

कंडीशनर हेयर फॉलिकल्स को ब्लॉक करता है। यह कुछ ऐसा ही है, जैसे बैड मॉइश्चराइजर आपकी स्किन के पोर्स को ब्लॉक करता है। जिस तरह आप अपनी स्किन को सांस लेने के लिए कभी-कभी मेकअप फ्री रहना पसंद करती हैं, ठीक उसी तरह यह भी जरूरी है कि आप बालों को सांस लेने दें। इसके लिए कभी-कभी कंडीशनर को स्किप कर देना चाहिए। यह बालों को सांस लेने और नार्मल कंडीशन में रहने का मौका देगा। 

Recommended Video

स्किन टाइप पर सूट ना करना

बहुत से हेयर कंडीशनर में कुछ केमिकल्स होते हैं, जो कुछ खास स्किन टाइप को सूट नहीं करते। इसलिए अगर आप अपने कंडीशनर को स्विच करते हैं और आपको हेयरलाइन के पास मुंहासे नजर आ सकते हैं। ऐसे में आप अपने स्किन केयर रूटीन की जगह अपने प्रॉडक्ट पर ध्यान दें। इस स्थिति में हेयर कंडीशनर को स्किप करें। साथ ही अपने प्रॉडक्ट पर फोकस करें।

इसे भी पढ़ें: Hair Care Tips: संतरे या कीनू के छिलकों को फेंके नहीं बल्कि इससे खूबसूरत बाल पाएं

रखें इसका ध्यान

conditioner once while can be beneficial for your hair Inside

यकीनन बालों की क्लीनिंग के साथ-साथ उसे मॉइश्चराइज करना भी उतना ही जरूरी होता है। लेकिन बाजार में मिलने वाले कमर्शियल कंडीशनर के अपने कुछ नुकसान होते हैं। इसलिए बालों को नरिश करने के लिए आप कंडीशनर की जगह कुछ विकल्पों का चयन कर सकती हैं। जैसे- आप बालों की नेचुरल ऑयलिंग करें। इससे आपके हेयर स्मूद व शाइनी बनते हैं। इससे आपके बालों को किसी तरह के केमिकल्स का सामना नहीं करना पड़ता। अगर आप बालों को नेचुरली कंडीशन करना चाहती हैं तो आप एग व्हाइट का इस्तेमाल करें। इससे आप कंडीशनर के बिना भी बालों को कंडीशन कर सकती हैं। अगर आप अंडे की स्मेल को लेकर दुविधा में हैं तो परेशान ना हों। अंडे को जब बालों से वॉश किया जाता है तो उसकी स्मेल भी दूर हो जाती है।

Image Credit: (unileverservices,allure,bustle)