ब्लैकहेड्स की तरह ही व्हाइटहेड्स भी एक आम समस्या है जिससे हमारी त्वचा जूझती रहती है। व्हाइटहेड्स त्वचा में लगभग हर जगह दिखाई दे सकते हैं जहां इसका उच्च तेल स्राव होता है। इस प्रकार, वे ठोड़ी, नाक और समग्र चेहरे पर स्पॉट करने के लिए काफी आम जगहें हैं। अक्सर बैक्टीरिया के कारण, मृत त्वचा तेल जमा होने के कारण छिद्रों का निर्माण या बंद हो जाती है।

व्हाइटहेड्स कई कारणों से हो सकते हैं और चेहरे की खूबसूरती में ग्रहण लगा सकते हैं। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए लड़कियां कई तरह के नुस्खे आजमाती हैं। लेकिन हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे होममेड फेस पैक के बारे में जिससे आप इस समस्या से बहुत जल्द ही छुटकारा पा सकती हैं। आइए जानें फेसपैक बनाने के तरीके और इसके फायदों के बारे में। 

व्हाइटहेड्स के कारण

white heads reason

व्हाइटहेड्स कई कारणों से हो सकते हैं। इनमें से मुख्य हेरिडिटी हैं। इसका मतलब ये हुआ कि यदि आपके माता या पिता की त्वचा पर मुंहासे होने की संभावना है, तो यह काफी संभावना है कि आपके पास वही जीन हैं जिनसे त्वचा की ये समस्या होती है। ऐसी त्वचा पर व्हाइटहेड्स और बैक्टीरिया के हमले की आशंका ज्यादा होती है। हालांकि व्हाइटहेड्स को नियंत्रित किया जा सकता है। इसका एक और कारण हार्मोनल उतार-चढ़ाव भी होता है।

हार्मोनल परिवर्तन व्हाइटहेड्स सहित हर तरह के मुहांसों को ट्रिगर कर सकते हैं। विशेष रूप से, एंड्रोजन में वृद्धि के साथ, व्हाइटहेड्स होना स्वाभाविक है। कभी-कभी, कुछ दवाएं जो हार्मोन के स्तर को बदल देती हैं, वो भी ऐसे व्हाइटहेड्स और मुहांसे पैदा कर सकती हैं। कई बार खराब मेकअप प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से भी ये समस्या जन्म लेती है। विशेष रूप से गालों और ठुड्डी पर व्हाइटहेड्स का कारण आपके खराब मेकअप प्रोडक्ट्स हो सकते हैं। आमतौर पर हैवी मेकअप, अगर ठीक से नहीं हटाया जाता है, तो रोम छिद्र बंद हो जाते हैं, जिससे त्वचा में व्हाइटहेड्स की समस्या हो जाती है। बहुत अधिक मसालेदार और तैलीय भोजन से भी व्हाइटहेड्स हो सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: मास्क की वजह से चेहरे पर होने वाली एक्ने से ऐसे पाएं छुटकारा

व्हाइटहेड्स को रोकने के लिए क्या करें 

properly wash face

  • दिन में कम से कम दो बार अपने चेहरे को माइल्ड क्लींजर से धोएं और कठोर साबुन से बचें।
  • एक प्राकृतिक विकल्प के रूप में कच्चे दूध से चेहरे को साफ़ करें। 
  • सप्ताह में एक बार त्वचा का एक्सफोलिएशन जरूरी है। 
  • अपनी त्वचा को रोजाना मॉइस्चराइज करने के लिए एलोवेरा जेल (एलोवेरा का ऐसे करें इस्तेमाल) जैसे प्राकृतिक मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल कर सकती हैं। 
  • कभी भी वाइटहेड्स को न फोड़ें, वे खराब आकार ले सकते हैं और त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। 
  • टोनर एप्लिकेशन से चेहरे की सफाई सत्र का पालन करें। 
  • बैक्टीरिया के गठन से बचने के लिए मेकअप स्पंज और ब्रश रोज़ इस्तेमाल के बाद धोना न भूलें।
  • कभी भी मेकअप लगाकर न सोएं। हमेशा मेकअप अच्छी तरह से हटाकर ही सोने जाएं। 
  • विटामिन ए, सी और ई से भरपूर फलों और सब्जियों से भरपूर आहार लें।

व्हाइटहेड्स के लिए होममेड फेस मास्क   

oatmeal curd mask

आवश्यक सामग्री 

  • ओटमील पाउडर -4-5 बड़े चम्मच
  • दही - 2-3 बड़े चम्मच 
  • शहद - 1 बड़ा चम्मच 
  • नींबू का रस-1 बड़ा चम्मच

Recommended Video

बनाने का तरीका 

  • सबसे पहले ओटमील को पीसकर पाउडर बना लें। 
  • एक बाउल में सारी सामग्रियों को डालें और अच्छी तरह मिक्स करें। 
  • फेस मास्क  इस्तेमाल के लिए तैयार है। 

इस्तेमाल का तरीका 

apply face pack

  • सबसे पहले चेहरे को कच्चे दूध या क्लीन्ज़र से साफ़ करें। 
  • पूरे चेहरे और गर्दन में फेस मास्क अच्छी तरह से अप्लाई करें। 
  • प्रभावित क्षेत्र पर विशेष ध्यान देते हुए इस मास्क को समान रूप से अपने चेहरे पर लगाएं। 
  • 20 मिनट तक फेस मास्क लगाए रखें और प्रतीक्षा करें। 
  • 20 मिनट बाद चेहरे को हल्का सा पानी से गीला करें और उंगलियों को गोलाकार घुमाते हुए फेस मास्क हटाएं।  
  • चेहरे को अच्छी तरह पानी से धो लें। 
  • इस फेस पैक का इस्तेमाल सप्ताह में दो बार करें। बहुत जल्दी ही व्हाइटहेड्स से छुटकारा मिलेगा। 

यह फेस मास्क  पूरी तरह से प्राकृतिक है और मैंने खुद अपनी त्वचा पर इसे अप्लाई किया है। इस फेस मास्क के एक महीने के ही इस्तेमाल में मेरी त्वचा में ग्लो नज़र आने लगा है और व्हाइटहेड्स ठीक हो गए हैं। लेकिन अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो इसके इस्तेमाल से पहले पैच टेस्ट जरूर करें या विशेषज्ञ की परामर्श लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit: free pik