अगर आपके बाल अधिक ऑयली है तो इससे बचने के लिए सही प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है। जो कि आपके बालों को मॉश्चराइज करे और ऑयल को बैलेंस रख सके। लेकिन अगर स्कैल्प ऑयली है तो कई समस्याएं पैदा हो जाती हैं। जैसे अक्सर बालों का चिपचिपा रहना, डैमेज या फिर बाल टूटना आदि। इस तरह की समस्याओं से बचने के लिए सही रूटीन के साथ-साथ कुछ टिप्स फॉलो करना फायदेमंद साबित हो सकता है। वहीं बाल नीचे से ड्राई रहते हैं और स्कैल्प ऑयली तो इन उपायों को आजमा सकती हैं।

शैम्पू में हो ये इंग्रीडिएंट्स

right shampoo

अपने बालों के टाइप को बिना समझे कोई भी शैम्पू का इस्तेमाल न करें। अगर आपका स्कैल्प ऑयली है तो ऐसे शैम्पू का चुनाव करें जो उसे अच्छी तरह से साफ कर सके। बात करें कॉम्बिनेशन हेयर की तो यह सीबम की वजह से होता है, जो बालों की लंबाई को रूट से नीचे नहीं ले जा सकता है। इसकी वजह से स्कैल्प बहुत अधिक ऑयली रहता है और बाल नीचे से ड्राई दिखाई देते हैं। ऐसे में आप वहीं शैम्पू का चुनाव करें, जिसमें अतिरिक्त ऑयल की समस्या को खत्म करने के इंग्रीडिएंट्स हो जैसे क्ले, लैक्टिक एसिड और ग्लिसरीन और डाइमिथेनिक आदि जिससे बाल मॉश्चराइज भी रह सकें। वहीं बाल अधिक चिपचिपे रहते हैं तो उससे निपटने के लिए सैलिसिलिक एसिड और टी ट्री ऑयल युक्त शैम्पू का इस्तेमाल करें।

शैम्पू करने का तरीका बदलें

ऑयली स्कैल्प से निजात पाने के लिए बार-बार बालों को न धोएं। अत्याधिक बाल धोने से सीबम उत्पादन का कारण बनता है जो हार्श एस्ट्रिंजेंट होते हैं। आप जब भी बाल धोने जाएँ तो शैम्पू को सीधे स्कैल्प पर डालें और बाल पर डायल्यूट वर्जन का इस्तेमाल करें। कोशिश करें कि अधिक से अधिक शैम्पू का इस्तेमाल स्कैल्प पर ही करें और नीचे यानी बालों पर कम इस्तेमाल करें। इस तरह आप अपने बालों को धोएं।

कंडीशनिंग करना न भूलें

deep condition

कंडीशनर एक ऐसा प्रोडक्ट है जिसमें इमोलिएंट्स, सिलिकोन, और ऑयल होता है। यह बहुत जरूरी है क्योंकि यह बालों को मुलायम करता है, क्यूटिकल्स को बंद करता है और शैम्पू करने के बाद बालों में नमी लाता है। इसलिए जब भी शैम्पू करें कंडीशनिंग करना ना भूलें। इसके लिए शैम्पू करने के बाद बालों से पानी निचोड़ लें क्योंकि अतिरिक्त पानी प्रोडक्ट को पतला कर देता है और लाभकारी तत्वों को सोखने से रोकता है। बालों के बीच से नीचे तक कंडीशनर लगाएं और दो मिनट के लिए छोड़ दें, फिर इसे पानी से धो लें।

डीप कंडीशनिंग ट्रीटमेंट

डीप कंडीशनिंग के लिए नारियल का तेल बेस्ट है। यह सॉफ्ट और डैमेज बालों को रिपेयर करता है। आपको केवल 6 बूंद नारियल तेल अपने हाथों पर लगाना है और उसे बालों की लंबाई के अनुसार उन पर लगाएं। जिस तरह आप बालों में सीरम लगाती हैं ठीक उसी तरह बालों पर नारियल तेल लगाएं और 20 से 30 मिनट के लिए छोड़ दें।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों के पिगमेंटेशन को कम करने के लिए घर पर बनाएं ये DIY बॉडी बटर

Recommended Video

हीट स्टाइलिंग टूल्स

sytling tools

ब्लो ड्रायर, स्टेटनर या फिर अन्य हीट स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल बालों में करने से बचें। यह आपके स्कैल्प पर ऑयल प्रोडक्शन को संशोधित कर सकता है। इससे बचने के लिए हीट प्रोटेक्टर का उपयोग करना जरूरी है। वहीं बालों के नीचले आधे हिस्से पर मॉइस्चराइजिंग प्रोडक्ट का उपयोग करें। अगर आप अपने बालों को सेट करने के लिए स्टेटनर का इस्तेमाल कर रही हैं तो पहले ड्राई शैम्पू या फिर टेक्सचराइज़र अपने स्कैल्प पर स्प्रे कर लें।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों के मौसम में कैसे करें बालों को वॉश कि निकल जाए 'नारियल का तेल'

बालों को हमेशा करें ब्रश

brush your hair

बालों को सुरक्षित रखने के लिए ब्रश कैसा होना चाहिए, इसका भी ध्यान रखना जरूरी है। वहीं कई लोग जल्दी-जल्दी अपने बालों को तेजी से कंघी करते हैं, जिसकी वजह से बाल अधिक टूटते हैं। ऐसा बिल्कुल न करें, बल्कि उलझे बालों से छुटकारा पाने के लिए स्कैल्प से लेकर नीचे बालों तक सीबम का इस्तेमाल करें। इससे बाल सॉफ्ट होंगे और उनमें चमक भी आएगी। यह स्कैल्प पर मौजूद ऑयल को बैलेंस रखने में मदद करता है।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।