बालों में रोजाना शैम्पू करने से बालों में जमी गंदगी और पसीना तो निकल जाता है लेकिन उसके साथ ही बालो की नमी भी कम होने लगती है क्योकि बालों का तेल भी शैम्पू के साथ निकल जाता है| ऐसे में बालों की नमी बचाने के लिए हम कंडिशनर का इस्तेमाल करते हैं| कंडीशनर के उपयोग से हम बालों को खराब होने से बचा सकते हैं| लेकिन उसके लिए ये जानना जरुरी है|  हमारे बालों के लिए कौन सा कंडिशनर बेस्ट है|  क्योंकि कंडिशनर भी कई प्रकार के होते हैं| ट्रडिशनल  कंडीशनर, लीव-इन  कंडीशनर, और डीप कंडीशनर यह तीनों ही आपके बालों को नमी देते हैं| कंडीशनर का इस्तेमाल कैसे करें उससे पहले जाने कंडीशनर के प्रकार के बारे में- 

ट्रडिशनल कंडीशनर

conditioner inside

यह सामान्य  कंडीशनर है जिसे आप रोजाना इस्तेमाल करती है इसे शैम्पू के बाद सिर्फ 4 मिनट बालों में लगा कर रखना होता है स्कैल्प को छोड़ कर फिर आप वाश कर सकती है|  इस कंडीशनर का इस्तेमाल हलके ड्राई व कर्ली बालों पर किया जाता है| ऐसे बाल जो स्ट्रेट किये हुए हो या जिन पर हेयर ड्रायर का इस्तेमाल किया गया हो|

इसे भी पढ़ें: अगर बाल हो गए हैं खराब तो यूज़ करें विटामिन E, होते हैं ये फायदे भी

लीव इन कंडीशनर

लीव इन कंडीशनर को बालों में इसे आप कभी भी लगा सकते हो इसे लगा कर वाश नहीं करना पड़ता| इसलिए बालों को पोषण मिलता रहता हैं| ये बालों को सॉफ्ट बनाता है और बालों की फ्रिजनेस को कम करता हैं जिससे बाल उलझते नहीं जब भी आप कोई स्टाइल करते है तो यह स्टाइलिंग के दौरान होने वाले डमेज से भी बचाता हैं| नियमित कंडीशनर की तरह ही लीव-इन कंडीशनर कई प्रकार के होते हैं यह दो तरीके में उपलब्ध हैं - क्रीम और स्प्रे | क्रीम - लम्बे, घने, और घुंगराले बालों के लिए है, क्यूंकि इनमें ज्यादा वजन होता है| स्प्रे  पतले, छोटे, और सीधे बालों के लिए है, क्यूंकि इनमें कम वजन होता है|

डीप कंडीशनर

यह फ्रिज़ी और डमेज बालों में गहराई से कंडीशनर करता हैं और बालों में एक भी फ्रिज उभरने नहीं देता यह पर्यावरण से दूषित हुए रूखे  बालों को पोषण देता है| जिससे बाल हेल्दी और सॉफ्ट भी हो जाते हैं|  ये कंडीशनर आम कंडीशनर से हैवी होते है इसे लगा कर लंबे समय तक छोड़ना जरुरी है| इसे हफ्ते में 2 बार इस्तेमाल करना चाहिए  इनमे आर्गन, नारियल तेल, विटामिन ई आदि तत्व होते हैं| यह बालो की नमी और लोच को बनाये रखता है| 

अपने बालों को ऐसे क्लीन करें 

नहाते समय अपने स्कैल्प और बालों को रगड़कर धोएं | अपने बालों को धोने के बाद उन्हें कंडीशन करें |

इसे भी पढ़ें: Hair Care Tips: घी को इस 4 तरीके से लगाकर काले, घने और लंबे बाल पाएं 

शैम्पू करते समय, अपने स्कैल्प को अच्छे से धोएं ना कि अपने गीले बालों को धोते हुए उलझाएं, क्यूंकि इससे आपके बाल खराब होंगे और ज्यादा मात्रा में टूटेंगे जितना हो सके उतने ठंडे पानी में नहाएं | आपके बालों पर ठंडा पानी, गरम पानी की तुलना में ज्यादा सुरक्षित होता है|

conditioner inside

कंडीशनर लगाने का तरीका 

अगर आपके बाल बहुत ज्यादा गीले हैं, उन्हें हल्का ड्राई कर ले उसका पानी अच्छे से निकल दे तो कोई भी कंडीशनर जो आप लगाएंगे, वह आपके बालों पर ज्यादा देर तक नहीं रहेगा अगर आपके बाल छोटे हैं, तो आपको अपने बालों को मरोड़ने की जरुरत नहीं है | लेकिन, अगर आपके बाल लम्बे हैं, तो उन्हें अच्छे से मरोड़कर जितना हो सके पानी निकाल दें| थोड़ा सा कंडीशनर अपने हथेली पर लें; जितने लम्बे आपके बाल हैं उसके मुताबिक़ कंडीशनर लें | छोटे या चिन तक के बालों के लिए एक सिक्के जितने आकार का कंडीशनर लें | अगर आपके बाल लम्बे हैं तो पूरे हथेली जितना कंडीशनर लें| इससे अपने बालों के अंत तक अच्छी तरह से लगाएं | कंडीशनर को सिर्फ बालों के अंत में ही लगाएं, क्यूंकि ये ही सबसे ज्यादा वो ही खराब होते हैं | कंडीशनर को अपने स्कैल्प या बालों के जड़ों में लगाने से आपके रोम छिद्र बंद हो जाते हैं, जिसके कारण आपके बाल धीमी गति से बढ़ते हैं और तेल उत्पादन में वृद्धि होने लगती है| कंडीशनर को थोड़ी देर के लिए लगा रहने दें| कंडीशनर लगाने के बाद, जितनी देर आप इसे अपने बालों पर लगा रहने देंगे, उतनी जल्दी यह आपके बालों को सुधारेंगे | अगर आप जल्दी में हैं, तो आप अपने बालों को इसे लगाने के तुरंत बाद ही धो सकते हैं | लेकिन, यह आपके बालों को उतना नरम और चमकदार नहीं बनाएंगे जितना उन्हें ज्यादा देर तक लगे रहने पर बनाते हैं|पहले कंडीशनर को अपने बालों में लगाकर फिर अपने चेहरे और पुरे शरीर को साफ़ करें, ताकि यह थोड़ी देर तक आपके बालों में लगा रहे | अच्छे परिणाम पाने के लिए, इसे 1-2 मिनट के बाद धो लें |अगर आपने पानी के तापमान को बढ़ा दिया है, तो फिर से उसे कम करके, जितना हो सके ठंडे पानी का उपयोग करें | क्यूंकि, ठंडा पानी आपके बालों को स्वस्थ बनाता है | कुछ देर तक अपने बालों को धोते रहें ताकि सारा कंडीशनर निकल जाए | अगर आपके बाल पतले लगें, तो इसका मतलब है कि बालों में से सारा कंडीशनर नहीं निकला है | जब आपके बाल चिकने लगे और उन में चिपचिपाहट ना हो, तो समझें कि कंडीशनर निकल गया है | अपने बालों को मरोड़कर पानी निकाल दें |