आजकल वैसे भी खराब लाइफस्टाइल, कई मौसमी बदलाव और प्रदूषण की वजह से बालों से संबंधित कई समस्याएं जैसे बालों का पतला होना, स्कैल्प की समस्या, डैंड्रफ और दोमुंहे बालों की समस्या आदि काफी बढ़ रही हैं। साथ ही, इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए महिलाएं कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट या ऑयल्स का भी इस्तेमाल करती हैं लेकिन वे केमिकल युक्त होते हैं जो हमारी स्किन को और नुकसान पहुंचते हैं। इसके अलावा, पैसों की बर्बादी भी होती है। लेकिन हम आपको सलाह देंगे कि आप केमिकल युक्त तेल को खरीदने के बजाय एसेंशियल ऑयल्स का चुनाव करें क्योंकि एसेंशियल ऑयल के कई फायदे हैं, जो आजकल ब्यूटी केयर रूटीन का एक अहम हिस्सा बन गए हैं। 

इन एसेंशियल ऑयल्स का महिलाएं अपनी स्किन वा हेयर स्किन टाइप के अनुसार चुनाव कर इस्तेमाल कर रही हैं। इसके अलावा, मार्केट में कई अलग-अलग तरह के एसेंशियल ऑयल उपलब्ध हैं। वैसे तो तमाम एसेंशियल ऑयल्स के अपने अलग फायदे हैं लेकिन इन ऑयल्स में आपके लिए बेस्ट ऑप्शन क्या होगा, आइए जानते हैं। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको कुछ एसेंशियल ऑयल्स के बारे में बताएंगे और इसे आप किस तरह इस्तेमाल कर सकती हैं इसकी भी जानकारी देंगे लेकिन इससे पहले थोड़ा ये जान लेते हैं कि एसेंशियल ऑयल होते क्या हैं.... 

एसेंशियल ऑयल क्या है? 

एसेंशियल ऑयल को सामान्य तेल भी कहा जाता है जो प्लांट या पौधों से ये बनाए जाते हैं। यह ऑयल्स फूलों के लिक्विड एक्सट्रैक्ट होते हैं जिन्हें कई तरह के पौधों के अर्क से प्राप्त किया जाता है जैसे पुदीना, चंदन आदि जो बालों और त्वचा दोनों के लिए काफी फायदेमंद है। इसके अलावा, इसमें एंटीमाइक्रोबॉयल, एंटीफंगल जैसे गुण शामिल होते हैं। जिसे अन्य तेल में मिक्स करके इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि इसे डायरेक्ट बालों या फिर स्किन पर लगाने से यह आपको कई तरह से नुकसान पहुंचा सकते हैं। अगर आप पहली बार एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल कर रही हैं तो आप इस बात का खास ख्याल रखें। 

टी ट्री एसेंशियल ऑयल

what is essential oils

यह तेल मेलेलुका अल्टिफोलिया नामक पौधे की पत्तियों से निकाला जाता है जो पौधा ज्यादातर ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है। यह एसेंशियल ऑयल त्वचा और बालों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। जिन महिलाओं के बाल डैंड्रफ की वजह से ज्यादा झड़ रहे हैं, तो वह इस एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल कर सकती हैं क्योंकि इस तेल में एंटीमाइक्रोबॉयल गुण बहुत अच्‍छी मात्रा में होते हैं। इसके अलावा, इसमें एंटीवायरल, एंटीस्पास्मोडिक, एंटीऑक्सीडेंट तत्व भी शामिल होते हैं जो बालों को कई समस्याओं से बचाते हैं। 

इस्तेमाल करने का तरीका 

आप इसका इस्तेमाल सीधे तौर पर बालों में नहीं करें क्योंकि यह आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकता है इसलिए इसे हमेशा अन्य तेल में मिक्स करके ही लगाएं। आप इसे नारियल तेल के साथ 1-2 बूंदें मिला कर भी लगा सकती हैं।  

पेपरमिंट एसेंशियल ऑयल

Tea tree oil

पेपरमिंट में एंटीसेप्टिक, जीवाणुरोधी, एंटीवायरल, एंटीस्पास्मोडिक, एंटीऑक्सिडेंट, मायोरेलैक्सेंट, एनाल्जेसिक जैसी कई प्रॉपर्टीज होती हैं। पेपरमिंट एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल बालों के अलावा, एनर्जी को बढ़ाने और डाइजेशन में मदद करने के लिए भी किया जाता है। साथ ही, एक हेल्दी स्कैल्प ब्लड सर्कुलेशन को प्रोत्साहित करने में भी मदद करता है और बालों के रोम को मजबूत करता है।

इसके अलावा, यह बालों की ग्रोथ को भी बढ़ावा देता है। पेपरमिंट में मेंथा, जिंक और सेलेनियम जैसे पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं जो स्कैल्प पर कई एंटी गुणों की तरह काम करते हैं। पेपरमिंट ऑयलबालों में ठंडक का एहसास भी बनाए रखता है और डैंड्रफ से निजात पाने में मदद करता है।

इस्तेमाल करने का तरीका 

इसका भी आप अन्य किसी तेल (नारियल, सरसों) में कुछ बूंदें मिलाकर ही इस्तेमाल करें। 

नीलगिरी एसेंशियल ऑयल 

Neelgiri oil

नीलगिरी एसेंशियल ऑयल को हम यूकेलिप्‍टस तेल के नाम से भी जानते हैं जो मुख्य तौर पर नीलगिरी के पेड़ की पत्तियों से प्राप्त किया जाता है। इस तेल में एंटीमाइक्रोबॉयल, कीटनाशक गुण मौजूद होते हैं। इसलिए यह विभिन्न प्रकार के संक्रामक जीवाणुओं को नष्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है। अगर आपके बालों में किसी भी तरह का संक्रमण है (फंगल, रूसी) तो आप इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें-बरसात के मौसम में बालों में जुएं की समस्‍या दूर करने के उपाय

इस्तेमाल करने का तरीका 

इसका भी आप अन्य किसी तेल (नारियल, सरसों) में कुछ बूंदें मिलाकर ही इस्तेमाल करें। 

रोजमैरी एसेंशियल ऑयल

rose oil

गुलाब के तेल में कई फिजियोलॉजिकल, एनाल्जेसिक और एंटी-एंग्जायटी इफेक्ट्स होते हैं। जो बालों के लिए बहुत उपयोगी है। यह तेल हेयर लॉस रोकने और बालों को दोबारा उगानेके लिए मददगार हैं। इसके अलावा, आप इसका उपयोग मूड में सुधार और चिंता को कम करने के लिए भी कर सकती हैं।

Recommended Video

इस्तेमाल करने का तरीका 

इसका इस्तेमाल आप नारियल तेल या अन्य किसी हेयर ऑयल के साथ ही मिलाकर उपयोग करें। 

लैवेंडर ऑयल

papermint oil

लैवेंडर ऑयल में माइक्रोबॉयल यानी सूक्ष्म जीवाणुओं को मारने की क्षमता होती है। इसमें कई गुणों के साथ बेहतरीन खुशबू भी होती है। इसके अलावा, यह ऑयल हेयर ग्रोथ में मदद भी करता है। साथ ही, यह सिर की त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं जैसे डैंड्रफ, सिर में खुजली आदि से भी छुटकारा दिलाता है। 

इस्तेमाल करने का तरीका 

इसका इस्तेमाल आप नारियल तेल या अन्य किसी हेयर ऑयल के साथ मिलाकर ही उपयोग करें। 

इसे ज़रूर पढ़ें-डी-पिगमेंटेशन फेशियल घर पर आसानी से करें, सिर्फ 3 दिनों में पाएं ग्‍लोइंग त्वचा

 

 

इन एसेंशियल ऑयल्स का उपयोग के कई हेयर बेनिफिट्स के लिए किया जा सकता है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik