कई लोगों के मुंह से आपने सुना होगा कि शराब स्किन के लिए अच्छी होती है। कई आर्टिकल और रिसर्च ये दावा भी करते हैं कि कुछ तरह की शराब अच्छी होती है। पर इन सभी बातों के चलते कई लोग शराब से जुड़े कई मिथकों पर यकीन करने लगते हैं और ये कई बार उल्टा असर दिखाता है। ये स्किन, बाल, शरीर सभी से जुड़े होते हैं। कई बार एल्कोहॉल को सही मानकर हम गलती कर बैठते हैं।  

आज इसी तरह से ब्यूटी मिथकों के बारे में बात करते हैं जिनपर आम लोग यकीन कर लेते हैं, लेकिन करना नहीं चाहिए। ये वाइन और बियर से जुड़े मिथक है जिन्हें सच नहीं मानना चाहिए।  

इसे जरूर पढ़ें- बहुत कोशिशों के बावजूद नहीं छूट रही पार्टनर की शराब की लत तो एक्‍सपर्ट टिप्‍स अपनाएं  

1. रेड वाइन स्किन के लिए अच्छी हो भी सकती है और नहीं भी.. 

लंदन के कॉस्मेटिक डर्माटोलॉजिस्ट डॉक्टर सैम बंटिंग ने एक रिपोर्ट में इससे जुड़े मिथक तोड़े हैं। उनका कहना है कि भले ही कुछ हद तक वो अच्छी हो, लेकिन वो है तो शराब ही। ज्यादा पीना यकीनन न सिर्फ त्वचा बल्कि बालों पर भी असर डालता है। स्किन के लिए वाइन सबसे खराब ड्रिंक भी साबित हो सकती है। रेड वाइन को अच्छा माना जाता है, लेकिन मात्रा बहुत जरूरी है और रोज़ पीना तो बिलकुल ही मना है।  

beauty and wine

रेड वाइन का सेवल रक्त कोशिकाओं को खोल देती है और इससे चेहरे पर या स्किन में थोड़ी लालिमा आ जाती है। पर  histamine नाम का एक कंपाउंड भी इससे रिलीज होता है। ये फिर स्किन में लालिमा बढ़ाता है, लेकिन इससे इन्फेक्शन भी हो सकता है और साथ ही साथ इससे स्किन में छोटे-छोटे दाने भी आ सकते हैं। त्वचा में ढीलापन भी हो सकता है अगर इसे रेग्युलर पिया जाए तो।  

ऐसा ही कुछ मानना है डॉक्टर ईसाबेल शार्कर का। उनका कहना है कि वाइन में मौजूद शक्कर से मुंहासे और ढीली स्किन होने का खतरा है और रक्त कोशिकाओं के एक्टिव होने के कारण ये खराब हो सकता है। आंखें भी ज्यादा लाल दिखेंगी। साथ ही, लिवर के लिए तो ये खराब है ही। स्किन की ही बात करें तो कई बार डेड स्किन सेल्स रोम छिद्रों को भर देती हैं।  

2. व्हाइट वाइन के बारे में तो ध्यान ही रखें... 

हममे से कई लोग ये सुनते आए हैं कि व्हाइट वाइन भी स्किन के लिए फायदेमंद होती है, पर मैं आपको बता दूं कि उसमें रेड वाइन की तुलना में ज्यादा शक्कर होती है। ऐसे में समझ लीजिए कि उससे जुड़ी खतरनाक समस्याएं और बढ़ सकती हैं। वैसे भी इससे स्किन और शरीर के बेनेफिट्स कम होते हैं। और शक्कर ज्यादा होने के कारण स्किन डैमेज ज्यादा होता है। इसलिए ध्यान रखें इसका सेवन ज्यादा करने से पहले। 

3. बियर से बाल धोने के फायदे और नुकसान...

बियर से बाल धोने के फायदे हैं और यकीनन हैं। इसे लेकर कई रिसर्च कह चुकी हैं कि ये फायदेमंद है, लेकिन क्या ये इतनी फायदेमंद है जितना लगता है? बियर से मैंने खुद 1 हफ्ते तक बाल धोए हैं। मैं आपको अपना एक्सपीरियंस बता दूं। कर्ली और वेवी बाल वालों के बाल थोड़े स्ट्रेट दिखने लगते हैं, लेकिन स्कैल्प में जल्दी तेल आता है और नीचे हल्के फ्रिजी हो जाते हैं।

beauty myths and beer

ह्फ्ते में एक या दो बार ऐसा करने से असर नहीं होगा रोज़ बाल धोने होंगे। बालों से बदबू आती है। काफी ज्यादा बदबू। फिर अगर भारत में गर्मी का मौसम हो तो समझ लीजिए कि सिर कैसे महकेगा। एक और सबसे बुरी बात ये है कि ये काफी महंगा होगा। इतने में एक अच्छी शैम्पू की बॉटल आ जाएगी और बियर से बाल धोने से ज्यादा चलेगी। ऊपर से किस बियर से बाल धोना ज्यादा फायदेमंद है ये भी देखना होगा। 

4. कॉकटेल से ज्यादा फर्क नहीं पड़ता...

ये सबसे बड़ा मिथक है कि हार्ड ड्रिंक को डाइल्यूट करके पिएं तो शरीर और स्किन पर कोई असर नहीं पड़ता। कॉकटेल ऐसे लोगों के लिए काफी नुकसानदेह है जिन्हें झुर्रियों की समस्या है। कॉकटेल इसलिए नुकसानदेह होते हैं क्योंकि इनमें ज्यादा शक्कर होती है। मोहितो जैसे कॉकटेल तो और समस्या बढ़ा सकते हैं। इससे स्किन में झुर्रियों होंगी। 

beauty myths

इतना ही नहीं। एल्कोहॉल डिहाइड्रेट भी करता है जिससे स्किन भी कई बार ड्राई हो जाती है। चेहरे पर काले घेरे, थोड़ी सी सूजन और ड्राई स्किन की समस्या हो सकती है। ऐसे में रोज़ शराब का सेवन चाहें वो थोड़ी सी वाइन ही क्यों न हो, ये खतरनाक साबित हो सकती है। 

इसे जरूर पढ़ें- राशि के हिसाब से जानिए इस ड्रिंक जैसी है इन महिलाओं की शख्सियत

5. डार्क रंग की ड्रिंक स्किन और शरीर दोनों के लिए अच्छी होती है..

नहीं बिलकुल भी ऐसा नहीं होता। बर्बन, व्हिस्की, रेड वाइन ये सभी डार्क रंग की होती हैं, लेकिन इनमें कैमिकल भी ज्यादा होते हैं। ये ज्यादा टॉक्सिक भी हो सकती हैं। रेड वाइन में ज्यादा polyphenols होते हैं जो एंटीऑक्सिडेंट का काम करते हैं, इसके कुछ फायदे जरूर हैं, लेकिन ये कहना कि ये स्वास्थ्य वर्धक है। ये बिलकुल गलत है।