वैसे तो बाजार में स्किन केयर प्रोडक्‍ट्स की कमी नहीं है। मगर, यह सभी प्रोडक्‍ट्स महंगे होने के साथ-साथ त्‍वचा की केवल टेम्परेरी देखभाल के लिए ही होते हैं। अगर आप अपनी त्‍वचा की नेचुरली देखभाल करना चाहती हैं, जो त्‍वचा को स्‍थाई खूबसूरती दे सके तो आपको वर्षों से स्किन केयर के लिए इस्‍तेमाल किए जा रहे इन नुस्‍खों को आजमाना चाहिए। 

बेस्‍ट बात तो यह है कि इन घरेलू नुस्‍खों को आजमाने के लिए आपको न तो ज्‍यादा पैसे खर्च करने पड़ेंगे न ही ज्‍यादा मेहनत करनी पड़ेगी। 

इसे जरूर पढ़ें: फेस मास्क लगाते समय ना करें यह मिसटेक्स, स्किन को नहीं होगा कोई लाभ

gharelu ubtan

उबटन 

जब उबटन का नाम आता है तो हिंदू रीति-रिवाज में होने वाली कई रश्‍मों में से एक 'हल्‍दी की रस्‍म' का ख्‍याल जहन में उभर आता है। इस रस्‍म में होने वाली दुल्‍हन को उबटन लगाया जाता है ताकि उसका रंग निखर आए और दुल्‍हन के श्रृंगार में वह खूबसूरत दिखे। यह रिवाज आज का नहीं है बल्कि सदियों पुराना है। अब तो केवल हल्‍दी की रस्‍म में ही नहीं बल्कि उबटन का प्रयोग स्किन केयर रूटीन में बेहद आम हो चुका है। बाजार में रेडीमेड उबटन की कई वैरायटी आने लगी हैं, मगर हम आपको आज पारंपरिक तौर पर बनाए जाने वाले उबटन की विधि बताएंगे। 

इसे जरूर पढ़ें: Shahnaz Husain Beauty Tips: चेहरे पर टोनर और मॉइश्‍चराइजर में से पहले क्‍या लगाना चाहिए, जानें

सामग्री 

  • 1 चम्‍मच चंदन पाउडर 
  • 2 चम्‍मच बेसन 
  • 1/2 चम्‍मच हल्‍दी 
  • 1 चम्‍मच गुलाब जल 
  • 1 चम्‍मच सरसों का तेल 
  • पानी आवश्‍यकता अनुसार 

विधि 

एक बाउल लें और इन सभी सामग्रियों को अच्‍छे से मिला लें। फिर इसे त्‍वचा पर लगाएं और हल्‍के हाथों से रगड़ते हुए उबटन को साफ करें। ऐसा यदि आप रोज करती हैं तो आपकी त्‍वचा पर निखार और चमक आ जाती हैं। यदि आप रोज उबटन का इस्‍तेमाल नहीं कर पाती हैं तो आप हफ्ते में 2-3 बार इसे जरूर इस्‍तेमाल करें। 

आपको बता दें कि यह उबटन हर टाइप की त्‍वचा पर लगाया जा सकता है और यह त्‍वचा को एक्‍सफोलिएट करने के सबसे अच्‍छे विकल्‍पों में से एक है। 

neem face packs

नीम 

नीम को एक औषधीय पेड़ माना गया है। आयुर्वेद में नीम को बहुत महत्‍व दिया गया है। नीम की पत्तियों में भरपूर एंटीऑक्‍सीडेंट्स होते हैं, साथ ही यह एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीसेप्टिक भी होती हैं। त्‍वचा पर कोई घाव या घाव के निशान हैं तो नीम की पत्‍ती का लेप लगा कर इसे रिमूव किया जा सकता है। प्राचीन चिकित्सा ग्रंथ चरक संहिता में नीम के पेड़ की तुलना अमृत से की गई है। इस ग्रंथ में नीम के पेड़ में मौजूद गुणों का बखान मिलता है। बाजार में कई स्किन केयर प्रोडक्‍ट मिलते हैं, जिनमें नीम का प्रयोग किया जाता है। मगर आप चाहें तो घर पर ही नीम का फेस पैक बना कर त्‍वचा की उचित देखभाल कर सकते हैं। 

सामग्री 

  • 2 चम्मच नीम के सूखे पत्तों का पाउडर  
  • 2 चम्मच गुलाब जल 
  • 1 चम्मच नींबू का रस 
  • नारियल का तेल 

Recommended Video

विधि 

एक बाउल ले और सभी सामग्रियों को अच्‍छी तरह से मिला कर एक स्‍मूद पेस्‍ट तैयार कर लें। इसके बाद आप इसे चेहरे पर लगाए और 20 मिनट तक सूखने दें। इसके बाद चेहरे को साफ पानी से धो लें। हफ्ते में एक बार इस फेस पैक का इस्‍तेमाल जरूर करें। 

नीम का फेस पैक लगाने से आपको मुंहासे की समस्‍या से छुटकारा मिल जाएगा। इतना ही नहीं इससे आपको त्‍वचा संबंधी किसी भी प्रकार का संक्रमण नहीं होगा। त्‍वचा में निखार और चमक लाने में भी नीम का यह फेस पैक मददगार साबित हो सकता है। 

nariyal ka tel beauty

नारियल का तेल 

नारियल का तेल एक ऐसा स्किन केयर प्रोडक्‍ट है, जिसका इस्‍तेमाल नवजात शिशु से लेकर उम्रदराज लोग तक करते हैं। वैसे तो नारियल के तेल में गुणों का खजाना होता है, मगर त्‍वचा की देखभाल के लिहाज से नारियल का तेल किसी वरदान से कम नहीं है। यह त्‍वचा को मॉइश्‍चराइज करने के साथ ही कोलेजन को बूस्‍ट करता है, जिससे त्‍वचा में कसाव आता है और वह यूथफुल लगती है। इतना ही नहीं, नारियल का तेल सूर्य की अल्‍ट्रा वायलेट किरणों को 20 प्रतिशत तक ब्‍लॉक करने की क्षमता रखता है, इस तरह देखा जाए तो यह सन स्‍क्रीन का अच्‍छा विकल्‍प है। बेस्‍ट बात तो यह है कि नारियल के तेल का किसी भी स्किन टाइप के लोग इस्‍तेमाल कर सकते हैं, इसके कोई साइड इफेक्‍ट्स नहीं होते हैं। 

ऊपर बताए गए तीनों स्किन केयर प्रोडक्‍ट्स को इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार अपने त्‍वचा विशेषज्ञ से जरूर सलाह लें। ब्‍यूटी से जुड़ी और भी टिप्‍स जानने के लिए पढ़ती रहें हरजिंदगी। 

Image credit: Freepik