एक नया ट्रेंड आजकल युवाओं के सिर चढ़कर बोल रहा है। वो ट्रेंड है बैकपैक ट्रिप का। जॉर्डन से लेकर जयपुर तक और स्विज एल्प्स से लेकर रत्नागिरी की पहाड़ी तक भारतीय युवा अपने घुमक्कड़ मन को शांत करने की कोशिश कर रहे हैं। बैकपैक ट्रिप का चलन सस्ती फॉरेन डेस्टिनेशन जैसे बाली, थाईलैंड, मलेशिया, वियतनाम, कंबोडिया, श्रीलंका आदि के लिए बहुत बढ़ गया है, लेकिन यहां भी सबसे बड़ी समस्या हो जाती है बजट की। एक तरफ तो विदेश जाने का खर्च, फ्लाइट टिकट और वीजा, दूसरे वहां रहना-खाना-घूमना। ये सब कुछ सोचकर आधे लोग तो टूरिस्ट प्लेस घूमने का प्लान ही ड्रॉप कर देते हैं। पर यकीनन इससे बेहतर एक विकल्प और है। 

इसे जरूर पढ़ें- केवल 40,000 रुपये में इन 4 देशों में एक हफ्ते मनाए छुट्टियां 

मेरी बाली ट्रिप काफी यूनीक थी। कम बजट में बाली घूमने की असली समस्या को हल करने में थोड़ा समय जरूर लगा, लेकिन वो एक्सपीरियंस बहुत अच्छा था। 40 हज़ार और उससे कम के बजट में बाली घूमा भी जा सकता है और वहां 5 दिन की सुहानी ट्रिप बनाई जा सकती है। इसके लिए कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा जिससे ज्यादा खर्च से बचा जा सके। मेरी ट्रिप के एक्सपीरियंस के आधार पर कुछ बातें बता रही हूं जो यकीनन आपके काम आ सकती हैं। 

bali vacation cheap travel tips

1. करेंसी अपने शहर से ही बदलवा कर जाएं

कहीं विदेश जाने की सबसे बड़ी समस्या ये होती है कि वहां की करंसी एक्सचेंज करवाना मुश्किल होता है। अगर आप किसी बैंक का ट्रैवल इंटरनेशनल कार्ड इस्तेमाल कर रहे हैं तो यकीनन उसके कई फायदे होंगे, लेकिन अगर आप ज्यादा ट्रैवल नहीं करते हैं और पहली बार जा रहे हैं तो बेहतर होगा कि करंसी भारत में ही बदलवा कर जाएं। और यहां से बालिनीज रुपए नहीं बल्कि डॉलर लेकर जाएं। वहां अगर भारतीय रुपए एक्सचेंज करवाएंगे तो कम रेट मिलेगा और ठगने की गुंजाइश भी है। भारतीय रुपयों की जगह डॉलर लेकर जाएं। वो सबसे बेहतर तरीका है।

इसे जरूर पढ़ें- सस्ते में विदेश में बिताना चाहती हैं कुछ दिन तो जरूर जाएं इंडोनेशिया के इस शहर 

डॉलर वहां मौजूद सरकारी मनी एक्सचेंजर में बहुत आसानी से एक्सचेंज हो जाते हैं। इसी के साथ, अगर सस्ते दामों में ज्यादा बेहतर सर्विस चाहिए तो भारत में भी एक्सचेंज रेट को दो तीन दिन तक स्टडी करें। ऐसे में पता चल जाएगा कि बढ़ रहा है या कम हो रहा है। खास तौर पर अगर एक्सचेंज रेट शुक्रवार को कम है तो हो सकता है कि वो सोमवार को मार्केट खुलते ही बढ़ जाए।

2. महंगे रिजॉर्ट के चक्कर में न पड़ें

बाली में बहुत सारे सस्ते होटल भी काफी अच्छे हैं। बेहतर होगा कि अलग-अलग ट्रैवल एजेंट से कोटेशन मंगवा लें। हमारी ट्रिप के लिए कम से कम 5 लोगों से कोटेशन मंगवाए थे और खुद Tripadvisor या Quora की मदद से होटल सर्च कर लें। खुद सवाल भी पूछ सकते हैं इन ट्रैवल ग्रुप्स पर। क्योंकि आप ज्यादा समय घूमने में बिताएंगे इसलिए महंगा रिजॉर्ट लेने का कोई मतलब नहीं है।

3. खाना खाने की जगह का ध्यान रखें

बाली के साथ सबसे बड़ी समस्या है कि शाकाहारी लोगों को वहां खाने के अच्छे विकल्प नहीं मिल सकते। उसके लिए लोकल रेस्त्रां में जाएं और खुद कुक से बात करें। फ्राइड राइज या नूडल्स में मीट न डलवाएं। वहां लोकल स्टॉप बहुत से हैं अगर आप कुटा बीच के पास कोई जगह रह रहे हैं तो वहीं गलियों में भारतीय से लेकर बालिनीज तक बहुत कुछ मिल जाएगा। महंगे होटल में खाना जेब को भारी पड़ सकता है। 

Bali vacation food

4. फ्लाइट बुकिंग अपने हिसाब से करवाएं

फ्लाइट बुकिंग के लिए ट्रैवल कार्ड का इस्तेमाल करें। अगर ट्रैवल एजेंट से कोई पैकेज ले रहे हैं तो उसमें भी फ्लाइट एक्सक्लूड करवा सकते हैं। अगर ट्रैवल कार्ड नहीं है तो अपने बैंक क्रेडिट या डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करें एक गूगल सर्च आपको महंगे खर्च से बचा सकती है। साथ ही, फ्लाइट बुकिंग के लिए कनेक्टिंग फ्लाइट ज्यादा सस्ती पड़ सकती है। डायरेक्ट फ्लाइट की तुलना में उससे पैसे बचाए जा सकते हैं। साथ ही, अपने गूगल सर्च Incognito मोड मे करें। ताकि फ्लाइट सर्च से कीमत महंगी न हो पाए। 

5. लोकल टूरिस्ट ट्रैप से रहें सावधान

हर बड़ी टूरिस्ट प्लेस की तरह बाली के साथ भी ये बड़ी दिक्कत है और वहां समुद्र किनारे या किसी फेमस टूरिस्ट स्पॉट में किसी से कुछ खरीदने के बारे में न सोचें। आपको चीज़ भी महंगी मिलेगी और उसकी क्वालिटी भी ठीक नहीं होगी। इसकी जगह बेहतर है कि बाली के लोकल मार्केट में जाएं। अपने होटल वाले से सलाह ले लें।

Bali vacation market

6. एक्जॉटिक टूरिस्ट प्लेस की जगह खुद से करें एक्सप्लोर

सबसे पहली बात है कि बाली का ट्रिप प्लान करते समय टूरिस्ट सीजन का ध्यान रखें। उसकी शुरुआत की जगह उसके अंत में जाएंगे तो ज्यादा सस्ती ट्रिप होगी। इसी के साथ, एक्जॉटिक टूरिस्ट स्पॉट पर ज्यादा समय न व्यर्थ करें। अपने हिसाब से बाली को थोड़ा एक्सप्लोर भी किया जा सकता है। उसके लिए सस्ते दामों में टू-व्हीलर किराए पर भी मिल जाएंगी। वो तरीका महंगी कैब लेने से ज्यादा बेहतर होगा।