भारत में कोविड 19 के केस लगातार बढ़ते चले जा रहे हैं। 38 मिलियन से ज्यादा कोविड केस हो चुके हैं और हर दिन भारत में लगभग 80,000 केस आ रहे हैं। नोवल कोरोना वायरस भारत में वैसे तो सबसे पहले 30 जनवरी 2020 को आया था, लेकिन इसे वैश्विक महामारी के तौर पर मार्च 2020 में ही पहचाना गया। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने इसे ग्लोबल पेंडेमिक करार दिया। तब से ही लॉकडाउन और क्वारेंटाइन जैसे शब्द सुनने को मिले। ये सब बिलकुल वैसा ही चलने लगा जैसे किसी हॉलीवुड की फिल्म में चलता है और हम सभी की जिंदगी बदल गई। 

मौजूदा हालात में कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया के 19 करोड़ से भी ज्यादा लोगों को बेरोजगार बना दिया है। भारत जैसा देश जो पहले ही अपनी विकास दर को लेकर जूझ रहा था उसमें भी कोरोना वायरस का असर बहुत बुरा पड़ा है और अब तो भारत दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बन गया है। हमें अभी भी इस बात का पता नहीं है कि आगे चलकर कोरोना वायरस क्या करेगा। अब बेंगलुरु स्थित एस्ट्रोलॉजर और भविष्य वाचक पंडित जगन्नाथ ने इस स्थिति को लेकर कुछ डिटेल्स दी हैं। उन्होंने बताया है कि 2020 के बचे हुए समय और आने वाले 2021 में हालात कैसे होंगे। 

astro corona

इसे जरूर पढ़ें- Pitru Paksh 2020: पितृ पक्ष में मातृ नवमी का क्या महत्त्व है 

सितंबर और अक्टूबर में कोविड को लेकर रहेगा ऐसा हाल-

कोविड 19 ने लोगों को परेशान कर रखा है और उनकी स्वतंत्रता छीन ली है। न सिर्फ लोग घूमने-फिरने की जगह घरों में बंद हैं बल्कि उन्हें बाहर निकलते वक्त भी मास्क पहने रखना होता है। लॉकडाउन और मजदूरों के पलायन से लेकर रोजमर्रा की जिंदगी तक सब कुछ प्रभावित हुआ है। भारत में वैसे भी आबादी बहुत है और इसके कारण भी कोरोना वायरस और ज्यादा खतरनाक हो गया है और लगभग हर रोज़ यहां नए केस आ रहे हैं। पंडित जगन्नाथ के मुताबिक ये सितंबर और अक्टूबर दोनों माह में जारी रहेगा। इन दोनों महीनों में भी ये वायरस बहुत तेज़ी से बढ़ेगा और लोगों को वो सब कुछ करने की सलाह दी जा रही है जो वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने कहा है, जिससे कोरोना वायरस की चेन टूट सकेगी। 

astrology for corona

इस समय से बदलेगी स्थिति-

पंडित जगन्नाथ के अनुसार ये स्थिति दिसंबर 2020 से बदलेगी। ये अच्छे बदलाव होंगे जो जनवरी 2021 तक जारी रहेंगे। इस दौरान हमारे आस-पास की स्थिति थोड़ी बेहतर होगी। उम्मीद की नई किरण दिखेगी। भाग्य के अनुसार मेडिकल साइंस इतनी तरक्की कर लेगी कि कोरोना जैसे वायरस को मिटाया जा सके और इसके लिए कोई ठोस उपाय मिलेगा। इसी समय कोविड रिकवरी रेट भी बढ़ेगा और हमें कोरोना के खिलाफ सही दवा या वैक्सीन मिल पाएगा। इस समय के बाद ही स्थिति बेहतर होनी शुरू होगी।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- Tarot Card Predictions: 7 से 13 सितंबर तक कैसा रहेगा आपका भविष्य, जानें हर राशि पर प्रभाव 

2021 के पहले कुछ महीनों में रहेगा ऐसा असर- 

कोरोना वायरस का थोड़ा असर 2021 के शुरुआती कुछ महीनों में भी दिखेगा। पहली दो तिमाही वायरस से लड़ने में जाएगा जहां धीरे-धीरे स्थितियां बेहतर होंगी और अगस्त 2021 तक इस वायरस से लंबी जंग जीतने की ओर हम आगे बढ़ेंगे। पंडित जगन्नाथ की भविष्वाणी में प्राचीन काल के ऋषि वीरा भ्रमेन्द्र की भविष्यवाणी से मिलती जुलती है जिन्होंने कहा था कि साल 2020-2021 में मनुष्यों पर संकट आएगा और बहुत कठिन समय होगा।

  

हम उम्मीद करते हैं कि पंडित जगन्नाथ की भविष्यवाणी सच साबित हो और जल्द ही कोरोना से मुक्ति मिले। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।