आजकल ऐसे कई प्लांट हैं जो आकर्षक बनावट और कम देखभाल के चलते इन्हें इनडोर प्लांट्स के रूप में खूब पसंद किये जाते है। जैसे-बम्बू स्टिक, मनी प्लांट्स आदि। इन्हीं से एक है सक्यूलेंट्स का पौधा। इस प्लांट की खूबसूरती के चलते आजकल लगभग हर कोई इसे खरीदकर बगीचे या फिर घर के अंदर लगाना चाहता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सक्यूलेंट्स लैटिन शब्द है जिसका अर्थ होता है रसीला। इसलिए इस प्लांट को रसीला प्लांट के नाम से भी जाना जाता है। खासकर इसे लोग ऑफिस टेबल, घर के खिड़की आदि जगहों पर लगाना पसंद करते हैं। ऐसे में अगर आप भी इस प्लांट को लगाने के बारे में सोच रही हैं, तो हम आपको गमले में लगाने के तरीके और उसकी देखभाल करने के तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं, तो आइए जानते हैं।

सक्यूलेंट्स पौधा को कैसे लगाएं?

tips to grow and care of water succulent plants inside

किसी भी नई जगह पौधे को लगाने के लिए मिट्टी का सही होना और साथ में समय-समय पर खाद का देना बहुत ज़रूरी होता है। सक्यूलेंट्स पौधा को लगाने के लिए अच्छे ड्रेनेज वाले टेराकोटा, सिरेमिक या मिट्टी के गमले सही माने जाते हैं। इसके अलावा केमिकल खाद की जगह आप हमेशा ही जैविक खाद या फिर घर में बचे हुए भोजन का इस्तेमाल कर सकती हैं। ऐसे में कोशिश करें कि केमिकल खाद की जगह जैविक खाद का ही उपयोग करें। बीज या पौधे को आप नर्सरी से ही ख़रीदे।

इसे भी पढ़ें: भांग के पत्तों से इस तरह बनाएं कीड़ों को मारने वाला नेचुरल कीटनाशक स्प्रे

तापमान का रखें ध्यान

tips to grow and care of water succulent plants inside

अन्य पौधे के मुकाबले सक्यूलेंट्स पौधे को लगभग पांच से छः घंटे के लिए रोशनी वाली जगह रखना सही माना जाता है। एक तरह से सकुलेंट्स को गर्म और सूखा वातावरण रुचिकर लगता है। हालांकि, बरसात के दिनों में अधिक पानी से बचाकर रखना भी बहुत ज़रूरी है क्योंकी, अधिक पानी पड़ने से पौधे मर जाते हैं। हालांकि, आप जब भी पौधे में पानी डालें तो जड़ में डालने की कोशिश करें। (घर पर उगाएं रोजमेरी का पौधा)     

Recommended Video

 

कीटों से बचाएं

tips to grow and care of water succulent plants inside

पौधे लगाना और खाद-पानी देने के अलावा समय-समय कीटों से दूर रखना भी बहुत ज़रूरी है। अन्य इंडोर प्लांट के मुकाबले इसे कीटों से दूर रखना बहुत ज़रूरी होता है। ऐसे पौधों में मिलीबग्स यानी छोटे-छोटे कीड़े कुछ अधिक ही लगते हैं। ऐसे में सकुलेंट्स पौधे को मिलीबग्स से दूर रखने के लिए समय-समय पर नीम, बेकिंग सोडा आदि का स्प्रे बनाकर पौधे पर छिड़काव कर सकती हैं। इसके अलावा आप आइसो प्रोपाइल अल्कोहल का भी छिड़काव कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: घर आप आसानी से उगा सकती हैं गमले में हरी मिर्च का पौधा, जानिए कैसे

इन बातों का भी रखें ध्यान

  • सक्यूलेंट्स पौधे को जिस मिट्टी में लगाने वाले हैं उस मिट्टी में एक से दो कप जैविक खाद पहले ही मिक्स कर दें और फिर गमले में डालें। (पौधे को कीड़े से बचाने के उपाय)
  • किसी एक जगह पर अधिक दिनों के लिए पौधे को न रखें। मतलब कुछ देर के लिए कभी धूप में तो कभी घर के अंदर भी रख सकती हैं। धूप और छांव मिलने से पौधे की ग्रोथ अच्छी होती है।
  • समय-समय पर पौधे की पत्तियों की सफाई करते रहे। कई पर पत्तियों पर मिट्टी की एक मोटी परत जम जाती है, तो जिसके चलते पत्तियां मर जाती है।    

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@sutterstocks)