अमूमन देखने में आता है कि महिलाएं अपने नवजात शिशु का खास ख्याल रखती है। छोटे बच्चे अपनी हर छोटी-बड़ी हर जरूरत के लिए पैरेंट्स पर ही निर्भर होते हैं और मम्मी भी उनकी देखरेख में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ती। हालांकि एक छोटी सी गलती उनसे हो जाती है, जिसका हर्जाना उनके बच्चे की स्किन को भुगतना पड़ सकता है। दरअसल, बच्चों की स्किन के साथ-साथ उनके पहने जाने वाले कपड़ों का भी ध्यान रखना उतना ही जरूरी है। हालांकि महिलाओं का इस पर ध्यान नहीं जाता। वह छोटे बच्चों के कपड़े अन्य कपड़ों के साथ ही मशीन में हार्श डिटर्जेंट से धो देती है। बार-बार इस तरह वॉश करने से उनके कपड़े हार्श हो जाते हैं और इससे बच्चे को इरिटेशन होती है। 

यकीनन बच्चे के कपड़े धोना कोई मुश्किल काम नहीं है। हालांकि, उनकी त्वचा नाजुक है और एलर्जी और चकत्ते का खतरा अधिक रहता है। इसलिए, उनके कपड़े धोने के लिए वॉशिंग का तरीका भी gentle होना चाहिए। इतना ही नहीं, छोटे बेबी के कपड़ों को वॉश करते समय आपको कुछ do’s और don’ts का भी ध्यान रखना चाहिए। तो चलिए आज हम आपको इन्हीं do’s और don’ts के बारे में बता रहे हैं-

इसे भी पढ़ें: इन 5 तरीकों से आप कम बजट में भी अपने न्यू बोर्न बेबी का रख सकती हैं खास ख्याल

ठंडा पानी

wash your baby clothes Inside

जब भी बच्चे के कपड़ों को वॉश करने की बात होती है तो यह जरूरी है कि आप पानी के तापमान पर फोकस करें। कभी भी गर्म पानी के उपयोग से बचें क्योंकि यह नाजुक कपड़ों पर कठोर होता है और कपड़ों की सिकुड़न का कारण बन सकता है। बेहतर होगा कि आप ठंडे पानी का उपयोग करें क्योंकि यह कपड़े के फैब्रिक को डैमेज नहीं करता है। साथ ही ठंडा पानी कपड़ों में बैक्टीरिया के निर्माण को भी रोकता है। इसके अलावा आपके बच्चे के कपड़े ठंडे पानी में सिकुड़ते नहीं हैं।

Recommended Video

डिटर्जेंट

wash your baby clothes Inside

छोटे बच्चे के कपड़े धोते समय कभी भी हार्श डिटर्जेंट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। आप चाहें तो माइल्ड इंग्रीडिएंट का इस्तेमाल करके खुद घर पर भी बच्चे के कपड़ों के लिए बेबी डिटर्जेंट बना सकती है। ध्यान रखें कि आप बच्चे की स्किन की तरह ही उसके कपड़ों के लिए भी माइल्ड चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि यह त्वचा की जलन, चकत्ते और संक्रमण जैसी समस्याओं से बचने में मदद कर सकता है।

अलग टोकरी

wash your baby clothes Inside

अपने बच्चे के कपड़ों के लिए एक अलग टोकरी रखें। इन्हें अपने अन्य कपड़ों के साथ मिलाने से बचें। बच्चों के कपड़ों को अलग करने से ना सिर्फ आप उनके कपड़ों माइल्ड डिटर्जेंट से धो पाएंगी। साथ ही दूसरे किसी व्यक्ति के कपड़ों का कलर भी बच्चे के कपड़ों पर नहीं चढ़ेगा।

इसे भी पढ़ें: जल्‍द ही मम्‍मी बनने वाली हैं तो जरूर अपनाएं ये 6 बेबी केयर टिप्‍स


दाग करे क्लीन

wash your baby clothes Inside

अगर आप बेबी के कपड़े धो रही हैं तो पहले उस पर लगे किसी भी तरह के दाग को क्लीन करें। इसके लिए जिद्दी दाग पर हल्का डिटर्जेंट अप्लाई करें और 10-15 मिनट के लिए प्रतीक्षा करें। फिर ठंडे पानी का उपयोग करके उसे धो लें। इसके बाद आप बेबी के कपड़ों का नार्मल वॉश कर सकती हैं।

कलर कोड पर ध्यान

बेबी क्लॉथ को क्लीन करते समय कलर कोड पर खास ध्यान दें। कभी भी गहरे रंग के कपड़ों को हल्के रंग के कपड़ों के साथ ना धोएं। ऐसा करने से आपके बेबी के लाइट कलर के कपड़े खराब होने का डर रहेगा।

Image Credit:(@liveabout,parentsindia,momjunction,cleanipedia)