राजीव गांधी-सोनिया गांधी की लाडली बेटी और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी आज रॉबर्ट वाड्रा के साथ अपने 23 साल पूरे होने का जश्न मना रही हैं। प्रियंका गांधी ने रॉबर्ट वाड्रा के साथ लव मैरिज और उसके बाद की शादी-शुदा जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव देखे, लेकिन इन दोनों का प्यार एक-दूसरे के लिए कम नहीं हुआ। आज प्रियंका गांधी अपने इसी प्यार का जश्न मना रही हैं। उन्होंने अपने ट्विटर पर एक इमोशनल पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने लिखा, 

'बहुत सारे खूबसूरत पल, प्यार, आंसू, हंसी, गुस्सा, दोस्ती, फैमिली, ईश्वर से मिले दो अनमोल रतन, 4 कैनाइन फैन(डॉगी)  और जीवनभर का खूबसूरत साथ 6+23- यानी पूरे हुए 29 साल और यह साथ हमेशा कायम रहे।'

 

इस तरह रॉबर्ट वाड्रा से हुई थी पहली मुलाकात

priyanka gandhi vadra love marriage with robert vadra

प्रियंका गांधी पहली बार 13 साल की उम्र में रॉबर्ट वाड्रा से मिली थीं और पहली ही नजर में रॉबर्ट वाड्रा को वह अच्छी लगने लगी थीं। रॉबर्ट वाड्रा को उनकी सादगी पसंद आ गई थी। इसके बाद दोनों में बातचीत का सिलसिला धीरे-धीरे बढ़ा। मुलाकातों का दौर शुरू हुआ और देखते ही देखते दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गयी। 

इसे जरूर पढ़ें: गांधी परिवार के साथ प्रियंका गांधी की ये अनदेखी तस्वीरें देखिए

सादगी से भरा था रॉबर्ट वाड्रा का लव प्रपोजल

priyanka gandhi wedding with robert vadra

मीडिया को दिए इंटरव्यू में रॉबर्ट वाड्रा ने बताया कि जब वह ब्रिटिश स्कूल में प्रियंका गांधी के साथ पढ़ते थे, तभी उनकी बातचीत एक-दूसरे से होने लगी थी। इसके बाद दोनों धीरे धीरे एक दूसरे के करीब आ गए थे। रॉबर्ट वाड्रा का प्रियंका गांधी को प्रपोज करने का तरीका भी बहुत सिंपल था। दोनों ने साथ बैठकर एक-दूसरे का साथ निभाने के लिए हामी भरी थी।

Recommended Video

लंबे वक्त तक दोनों ने अपनी रिलेशनशिप की बात किसी से जाहिर नहीं की थी। इसके बाद दोनों ने अपने परिवार वालों से बात की और शादी की इच्छा जाहिर की। उस वक्त रॉबर्ट वाड्रा के पिता इस शादी के लिए राजी नहीं थे, लेकिन बाद में उन्होंने शादी के लिए हामी भर दी। इसके बाद साल 1997 में दोनों ने सात फेरे लिए और एक-दूसरे का जिंदगीभर साथ निभाने का वादा कर लिया।    

इसे जरूर पढ़ें: Interesting Facts: प्रियंका गांधी के बारे में ये 5 बातें नहीं जानती होंगी आप

सक्रिय राजनीति से लंबे समय तक दूर रहीं प्रियंका

priyanka gandhi love robert vadra

प्रियंका गांधी ने बच्चों की परवरिश पर पूरा ध्यान दिया और एक लंबे अरसे तक सक्रिय राजनीति से दूर रहीं, लेकिन पिछले साल से उन्होंने सक्रिय राजनीति में फिर से वापसी की। उन्हें उत्तर प्रदेश कांग्रेस का जनरल सेक्रेटरी बनाया गया। इस दौरान उन्होंने इस बात से साफ इनकार किया कि हरियाणा और राजस्थान में विवादित लैंड डील्स में उनके पति का हाथ है।

प्रियंका गांधी ने परिवार को दिया समय

 
 
 
View this post on Instagram

#womenstrength

A post shared by Priyanka Gandhi Vadra (@priyankagandhivadra) onApr 2, 2019 at 6:39am PDT

 

प्रियंका गांधी में अपनी दादी इंदिरा गांधी का अक्स नजर आता है और लोगों को उनसे काफी उम्मीदें थीं कि वह सक्रिय राजनीति में आकर नेतृत्व करेंगी, लेकिन ऐसा संभव नहीं हुआ। प्रियंका गांधी ने अपनी फैमिली को सपोर्ट किया, सोनिया गांधी और राहुल गांधी के सभी कैंपेन्स में वह शामिल रहीं और बढ़-चढ़कर उनका प्रचार किया, लेकिन व्यक्तिगत तौर पर उन्होंने चुनाव लड़ने का मन नहीं बनाया। उधर लंबे वक्त तक रॉबर्ट वाड्रा पर भी लैंड डील्स में भ्रष्टाचार करने के आरोप लगते रहे और इसे लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। लेकिन प्रियंका गांधी हमेशा अपने पति के साथ खड़ी नजर आईं और उनका बचाव करती दिखीं।