शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा को पूरा विश्वास है कि सपा द्वारा किए गए विकास कार्यों की बदौलत उन्हें जीत हासिल होगी। उत्त र प्रदेश की राजधानी लखनऊ से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार पूनम सिन्हाल एक राजनीतिक गतिरोध के खिलाफ अपनी चुनावी शुरुआत करने में खुद को अयोग्य नहीं मानतीं। पूनम सिन्हा का कहना है कि लखनऊ से उनका जुड़ाव बहुत पहले हो गया था जब उनके माता-पिता 1947 में कराची से लखनऊ में आए थे। पूनम सिन्हा को पूरा विश्वास है कि उनकी पार्टी द्वारा किए गए विकास कार्य मदद करेंगे और उन्हें जीत जरूर हासिल होगी। लखनऊ से सपा उम्मीदवार 69 वर्षीय पूनम सिन्हा अभियान के लिए तैयार दिखती हैं। वह लखनऊ के लोगों की प्रतिक्रिया से उत्साहित हैं जो उन्हें उनके नवाबों के शहर से जुड़ने की याद दिलाती है। समाजवादी पार्टी की अपनी पसंद के बारे में बात करना और वह भी अपने पति शत्रुघ्न सिन्हा के कांग्रेस में शामिल होने के बाद वह कहती हैं, "मैं पिछले साल से अखिलेश यादव से बात कर रही हूं। मैं उनकी युवा ऊर्जा और लोगों के लिए कुछ करने को लेकर उनके संकल्प से प्रभावित हूं। 

poonam sinha loksabha election

Image Courtesy: Instagram/@ajayofficial.ei

पूनम सिन्हा के लिए लखनऊ से जुड़ाव 

पूनम सिन्हा का कहना है, "लखनऊ से मेरा जुड़ाव बहुत पहले हो गया था। जब मेरे माता-पिता 1947 में कराची से यहां आए थे तब उन्होंने पहली बार लखनऊ में घर पाया था।" उनका कहना है कि यादव परिवार उनका ख्याल रखता रहा है। पूनम सिन्हा ने कहा, "उन्होंने मुझे एक उत्कृष्ट टीम दी है जो मेरे अभियान का कार्यक्रम और मार्गदर्शन करती है। अखिलेश ने अपनी पत्नी डिंपल को नामांकन के लिए मेरे साथ आने के लिए कहा था, भले ही वह उसी दिन आजमगढ़ में अपना नामांकन दाखिल कर रही थीं। कौन सी अन्य पार्टी आपके साथ अपने परिवार के सदस्य की तरह व्यवहार करेगी?"

इसे जरूर पढ़ें: किसान की बेटी तनु तोमर बनीं 12वीं की टॉपर, जानिए कैसे की तैयारी

poonam sinha loksabha election

Image Courtesy: Instagram/@ajayofficial.ei

शत्रुघ्न सिन्हा ने नहीं किया पूनम सिन्हा का प्रचार 

कांग्रेस के सदस्य होते हुए भी शत्रुघ्न सिन्हा उनके साथ नामांकन पत्र दाखिल करने गए इस विवाद पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, पूनम सिन्हा कहती हैं, "उन्होंने प्रचार नहीं किया। जब वे मेरे साथ नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए गए तो उन्होंने बस मेरा साथ दिया और यह कुछ ऐसा है कि पति को करने की अनुमति है। वह एक वरिष्ठ राजनेता हैं और लगभग तीन दशक गंभीर राजनीति में बिता चुके हैं। उन्हें पता है कि वह क्या कर रहे हैं।" 

इसे जरूर पढ़ें: प्रियंका गांधी के बारे में ये 5 बातें नहीं जानती होंगी आप

poonam sinha loksabha election

Image Courtesy: Instagram/@ajayofficial.ei

नकारात्मक प्रचार के खिलाफ 

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ने के बारे में अयोग्य होने से इनकार करती हैं और कहती हैं, "हमेशा नियम के अपवाद होते हैं। कोई भी सीट या राज्य एक विशेष पार्टी से संबंधित नहीं होता है और लोगों को यह चुनने का अधिकार है कि वे बदलाव चाहते हैं या नहीं। मैंने कभी भी राजनाथ जी के खिलाफ एक शब्द नहीं बोला। मैं नकारात्मक प्रचार में नहीं उतरूंगी। मैं केवल अपनी और अपनी पार्टी की बात कर रही हूं।"

Courtesy: Ians