अगर हम अभी अपने घर के किसी कोने में झांकें तो हमें कई सारी एक्सपायर्ड चीजें देखने को मिल जाएंगी। किचन में, बेडरूम में, घर के बाथरूम में न जाने कितनी ऐसी चीजें होती हैं जिन्हें हम शौक में खरीद तो लेते हैं, लेकिन फिर इस्तेमाल नहीं करते और वो रखे-रखे एक्सपायर हो जाती हैं। अगर हम एक बार अपने मेकअप बॉक्स में ही झांक कर देखेंगे तो पाएंगे कि पुरानी लिपस्टिक से लेकर स्पॉन्ज तक काफी चीजें एक्सपायर्ड हैं। अगर सबसे ज्यादा एक्सपायर्ड चीजें कहीं मिलती हैं तो वो है हमारा बाथरूम।

साबुन, शैम्पू, कंडीशनर, लूफा, डियो, टूथब्रश से लेकर कई ऐसी चीजें हैं जिनका इस्तेमाल हम बंद कर देते हैं और बाद में हमें समझ आता है कि ये सब तो एक्सपायर हो गया है। ऐसे में सफाई के दौरान उन्हें फेकने के अलावा और कोई चारा समझ नहीं आता है। पर क्या वाकई इन्हें फेंकने की जरूरत होती है?

पुरानी चीजों का दोबारा इस्तेमाल करना काफी आसान है और इससे पैसा भी बचता है। तो चलिए हम बताते हैं कि बाथरूम की पांच एक्सपायर हुई चीजों का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है।

इसे जरूर पढ़ें- सिर्फ किचन ही नहीं, इन 6 चीजों में भी काम आती है काली मिर्च

1.  साबुन का ऐसे करें इस्तेमाल

अगर साबुन पुराना हो गया है और एक्सपायर्ड है, तो उसे ल्यूब्रिकेंट्स के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। आपके घर में कई स्क्रू, नट्स, ब्लेड्स आदि होंगे जिनमें जंग लग गई है या जो खुल नहीं रहे। उनमें साबुन का इस्तेमाल करें। अगर किसी बैग या ड्रेस की चेन खराब हो गई है तो उसके लिए भी साबुन का इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐसी खराब हुई चेन में मोमबत्ती या साबुन को रगड़ कर उसे वापस लगाने की कोशिश करें। चेन दोबारा काम करने लगेगी।

अगर आप चश्मा पहनती हैं तो अपने चश्मे के ग्लास को साबुन के पानी से साफ करें। इससे होगा ये कि चश्मे में जमने वाली भाप की परत में कमी आएगी। ऐसा इसलिए होगा क्योंकि साबुन की एक पतली लेयर पहले ही चश्मे के ग्लास में मौजूद रहेगी और इसलिए भाप जमने का प्रोसेस खत्म होगा। साबुन को पेपर में रैप कर लेदर जैकेट, जूतों या बैग में रखा जा सकता है। ऐसे में अगर आपके लेदर के किसी प्रोडक्ट में बदबू आ रही है तो वो खत्म हो जाएगी। तो अगली बार अगर साबुन घर में बचा हुआ है तो उसे फेकें नहीं बल्कि इस तरह इस्तेमाल जरूर करें।

different types of bathroom products that can be reused

2. पुराने शैम्पू का ऐसे करें इस्तेमाल

शैम्पू का इस्तेमाल तो हर घर में होता है, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि हम अपने हेयर टाइप के अनुसार शैम्पू नहीं चुन पाते हैं और इसे जबरन वेस्ट कर देते हैं। कई बार तो महंगे शैम्पू वेस्ट करने पड़ जाते हैं। ऐसा मेरे साथ भी होता है। मेरे बाल बहुत ड्राई हैं और फ्रिजी हैं, लेकिन अगर मैं गलती से ऑयली बालों वाला शैम्पू ले आऊं तो पूरी बॉटल वेस्ट हो जाती है।

ऐसे में जो काम मैं करती हूं वो है इसमें कपड़े धोने का। आपने ये तो सुना ही होगा कि लिक्विड डिटर्जेंट बहुत माइल्ड होते हैं। शैम्पू उनसे ज्यादा माइल्ड हो सकते हैं। शैम्पू का इस्तेमाल आप अपने बालों में न कर पाएं तो अपने डेलिकेट कपड़ों में करें। अलग से फैब्रिक कंडीशनर इस्तेमाल करने की भी जरूरत नहीं होगी। इसके अलावा, शैम्पू को अपनी ज्वेलरी की सफाई के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। गोल्ड, सिल्वर आदि की ज्वेलरी भी इससे अच्छे से साफ हो जाएगी।

3. कंडीशनर भी एक्सपायर होने के बाद आ सकता है काम

जिस तरह से हमने पुराने साबुन का इस्तेमाल किया उसी तरह से कंडीशनर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। क्योंकि कंडीशनर का वैसे भी मॉइश्चराइजेशन के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है, इसलिए जिस भी चीज में मॉइश्चर की जरूरत हो कंडीशनर लगाएं। जैसे दरवाजे के जाम हुए लैच (कुंडी या सिटकनी) को भी कंडीशनर की मदद से ठीक किया जा सकता है। हां, आप किसी मशीनरी में इसे न डालें। पर जिप लॉक, नट बोल्ट आदि में कडीशनर का इस्तेमाल बहुउपयोगी साबित होगा।

साथ ही साथ ये मेकअप स्पॉन्ज और ब्रश को साफ करने के लिए भी अच्छा साबित हो सकता है। इसी के साथ, कंडीशनर बहुत अच्छी क्यूटिकल क्रीम की तरह काम कर सकता है।

best ways to resuse shampoo and conditioner

इसे जरूर पढ़ें- घर पर ड्रेसिंग टेबल को कैसे सजाएं और किस तरह व्यवस्थित करें, पढ़ें पूरी जानकारी

4. लूफा को कर सकते हैं कई तरह से इस्तेमाल

लूफा का इस्तेमाल तो शायद आपको बताने की जरूरत भी नहीं है। जब ये एक्सपायर हो जाए तो किचन सिंक से लेकर प्लेटफॉर्म और बाथरूम के फ्लोर तक इससे सब कुछ साफ किया जा सकता है। वैसे लूफा में एक्सपायरी डेट नहीं लिखी होती है, लेकिन मैं आपको बता दूं कि इसे तीन महीने से ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

लूफा को आप अन्य कामों के लिए भी इस्तेमाल कर सकती हैं जैसे अगर बहुत सारे लूफा इकट्ठा हो गए हैं तो आप उन्हें मिलाकर एक स्टफ टॉय बना सकती हैं। आप अपनी क्रिएटिविटी को उड़ान भरने दीजिए और देखिए कि लूफा से गिफ्ट रैपिंग रिबन से लेकर अन्य फैन्सी आइटम तक क्या-क्या बनाया जा सकता है।

Recommended Video

5. डियोड्रंट का इस्तेमाल

ऐसा हो सकता है कि आपके पास पुराना डियोड्रंट या ऐसा ही कोई एंटीप्रेस्पिरेंट मौजूद हो। ऐसे में इसे सफाई के लिए इस्तेमाल करें। जी हां, अगर किसी टाइल या दीवार पर परमानेंट मार्कर के निशान बना दिए गए हैं तो वो भी डियोड्रंट से साफ हो सकते हैं। इसके अलावा, अगर आपके पैरों में बदबू आती है तो एंटीप्रेस्पिरेंट लगा सकती हैं। शू बाइट ठीक करने के लिए भी ये काफी अच्छा साबित हो सकता है।



आप इन सभी ट्रिक्स को जरूर आजमाएं और अपना एक्सपीरियंस हमें हरजिंदगी के फेसबुक पेज पर जरूर बताएं। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।