तुलसी के पौधे को हिंदू धर्म में बहुत महत्व दिया गया है। इसे देवी लक्ष्मी का स्वरूप माना गया है। धार्मिक कथाओं के अनुसार जगत पिता विष्णु के स्वरूप भगवान श्री कृष्ण ने तुलसी से विवाह भी किया था। मगर धार्मिक पहलुओं के अलावा तुलसी को सेहत के लिहाज से भी महत्वपूर्ण माना गया है। इसमें कई औषधीय गुण होते हैं। 

अच्‍छी बात यह है कि घर पर आप आसानी से तुलसी का पौधा लगा सकते हैं और इस पौधे को बहुत अधिक देखभाल की जरूरत भी नहीं होती है। मगर आप इस पौधे को नजरअंदाज भी नहीं कर सकते हैं। खासतौर पर जब पौधे में कीड़े या चींटियां लग रही हों, तो उस पर विशेष ध्‍यान देना बहुत जरूरी हो जाता है। दरअसल, मौसम बदलने के साथ ऐसा देखा गया है कि तुलसी के पौधे में कीड़े या चींटियां लग जाती हैं, इससे पौधे को नुकसान पहुंचता है। विशेष तौर पर चींटियां पौधे की जड़ों को नुकसान पहुंचाती हैं और उनकी पत्तियां खा जाती हैं। 

इस स्थिति में तुलसी का पौधा खराब हो जाता है और उसकी पत्तियां झड़ना शुरू हो जाती हैं। इस विषय में हमारी बातचीत बांदा कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के फ्रूट साइंस डिपार्टमेंट के प्रोफेसर, डॉक्टर आनंद सिंह से हुई। वह बताते हैं, 'तुलसी के पौधे को खराब होने से बचाने के लिए बेस्‍ट है कि आप नीम का इस्तेमाल करें। नीम की खली का पाउडर और नीम की पत्तियों का पानी आप तुलसी की जड़ों में डाल सकते हैं। ऐसा करने से कीड़े, चींटियां और फंगस सभी में राहत मिलती है। मगर इसके अलावा भी आप कुछ उपाय अपना सकते हैं, अगर आपको नीम के उपाय से फायदा न मिल रहा हो।'

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: सूखे हुए तुलसी के पौधे को हरा-भरा बनाने के टिप्‍स

डॉक्टर आनंद सिंह चींटियों से तुलसी के पौधे को बचाने के अन्य उपाय भी बताते हैं- 

protect  tulsi  plant  from  ant

फिनाइल का प्रयोग करें- 

फिनाइल का प्रयोग आप घर के फर्श की साफ-सफाई के लिए करती हैं। इससे कीटाणु नष्ट हो जाते हैं। अगर आप चाहें तो एक ढक्कन फिनाइल  को 200 एमएल पानी में मिलाएं और एक बॉटल में भर कर रख लें। अब इस मिश्रण के 2 चम्‍मच आप तुलसी की रूट्स में डाल सकती हैं। डॉक्टर आनंद सिंह कहते हैं, 'ऐसा करने से चींटियां भाग जाती हैं।' मगर इस बात का ध्यान रखें कि आपको पहले गीली मिट्टी को हटा कर सूखी मिट्टी को डालना है फिर आप उसमें यह घोल मिला सकती हैं। फिनाइल के घोल को स्‍प्रे की तरह इस्तेमाल न करें और तुलसी की पत्तियों पर न छिड़कें। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: देवी लक्ष्‍मी की कृपा चाहती हैं तो सही दिशा में रखें तुलसी का पौधा

tulsi  plant  benefits  for  home

लहसुन और प्याज का प्रयोग 

4-5 लहसुन को कूट लें और इसे धूप में सुखा लें। इसके बाद आप कुटे हुए लहसुन का पाउडर तुलसी के पौधे की रूट्स में मिला दें। ऐसा करने पर भी तुलसी में लगी चींटियां और फंगस दूर हो जाएंगे। 

expert on tulsi care

प्‍याज के छिलके का प्रयोग 

आपकी किचन से प्याज के छिलके (प्याज के छिलके का इस्‍तेमाल) रोज ही निकलते होंगे। इन छिलकों को फेंके नहीं बल्कि सुखा लें। फिर आप इसे भी तुलसी की मिट्टी में मिला सकती हैं। ऐसा करने पर चींटियां कुछ ही समय में पौधे से दूर होने लगेंगी। इसके अलावा, डॉक्टर आनंद सिंह कहते हैं, 'तुलसी के पौधे में पानी के निकलने की व्यवस्था ठीक से होनी चाहिए। तुलसी में रोज पानी डालने की भी जरूरत नहीं है। जब पौधे की मिट्टी पूरी तरह से सूख जाए, तब ही उसमें पानी डालें।'

अगर आपके तुलसी के पौधे में चींटियां लग रही हैं, तो एक बार एक्सपर्ट द्वारा बताए गए इन उपायों को अपना कर जरूर देखें। इसी तरह गार्डन से जुड़ी और भी टिप्‍स पाने के लिए पढ़ती रहें हरजिंदगी।  

 Image Credit: Freepik