साल भर इंतजार करने के बाद एक बार फिर 2 सितंबर से गणपति उत्‍सव शुरू हो रहा है। भारत के कई हिस्‍सों में यह गणेश चतुर्थी का उत्‍सव धूम-धाम से मनाया जाता है। कई शहरों में गणेश चतुर्थी के दिन से लेकर गणेश विसर्जन तक गणेश जी के पंडाल लगते हैं। ऐसा भी होता है कि कई लोग गणेश चतुर्थी के दिन या फिर बीच में किसी दिन घर पर ही गणेश जी को लेकर आते हैं और उनकी स्‍थापना करते हैं। कानपुर के ज्‍योतिषाचार्य कमलेश मिश्रा के अनुसार, ‘घर पर अगर गणपति की स्‍थापना की जा रही है तो कई बातों को ध्‍यान रखना जरूरी हो जाता है। गणेश चतुर्थी पर गणपति की घर में स्‍थापना कुछ वैसी ही होती जैसे आपके घर पर किसी महमान का आगमन हुआ हो। जिस सेवा भाव और प्रेम से आप अपने अतिथि की महमानवाजी करते हैं वैसे ही गणपति की सेवा भी करनी होती है। गणपति जी की आरती से लेकर उनके भोजन तक की व्‍यवस्‍था करनी होती है।’ ज्‍योतिषाचार्य ने गणेश चतुर्थी के दौरान घर पर अगर गणपति को स्‍थापित करने जा रही हैं तो और भी कई बातों को ध्‍यान में रखने की बात कहीं है। यह जरूरी बातें हम आपसे शेयर कर रहे हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:  Ganesh Chaturthi 2019: घर में लाएं गणपति की ऐसी प्रतिमा, जो पूरी कर दे सारी मनोकामनाएं

Ganesh chaturthi five things need to be remember

साफ-सफाई 

अगर आपने घर पर गणपति स्‍थापित किए हैं, तो आपको घर की साफ सफाई का विशेष ध्‍यान रखना होगा। खासतौर पर जब तक आप गणपति को विसर्जित नहीं करतीं तब तक गणपति को जिस स्‍थान पर रखा है उस स्‍थान को आप अच्‍छी तरह से रोज साफ करें। रोज गणपति जी पर चढ़े फूलों को बदलें। यह घर के वातावरण को भी शुद्ध करता है और बासी फूलों में पनपने वाले बैकटीरिया को फैलने नहीं देता। 

इसे जरूर पढ़ें:  पूजन विधि और शुभ मुहूर्त के साथ जानें कैसे करनी है आपको गणपति जी की स्थापना

ब्रह्मचर्य का पालन करें 

अगर आप ने घर में गणपति जी की स्‍थापना की है तो आपको ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्‍योंकि ईश्‍वर की अराधना हमेशा साफ सुथरे मन और शरीर से करनी चाहिए। यह एक मेडिटेशन की तरह होता है। अगर आप ब्रह्मचर्य का पालन नहीं करेंगी तो आपका मन आशांत रहेगा और आप अपनी बॉडी को मेडिटेट नहीं कर पाएंगी। 

Ganesh chaturthi five things need to be remember

क्रोध न करें 

क्रोध पर कंट्रोल करना हर व्‍यक्ति के लिए बहुत ज्‍यादा कठिन होता है क्‍योंकि हर आदमी को गुस्‍सा आता है और वह गुस्‍सा दूसरों पर तो भारी पड़ता है साथ ही खुद की सेहत को भी नुकसान पहुंचाता है। अगर आपने गणेश चतुर्थी पर घर पर गणेश जी की स्‍थापना  की है तो आपको इस बात का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए कि आपको क्रोध न आए अगर आप इन दिनों अपने क्रोध पर कंट्रोल कर लेंगे तो शायद यह आपको आगे की लाइफ में भी बहुत फायदा पहुंचाएगा। 

पवित्रता बरकरार रखें 

भगवान गणेश को घर पर स्‍थापित कर रही हैं तो इस बात का ध्‍यान रखें कि घर में कोई भी ऐसी वस्‍तु न लाएं जो आपके घर को अपवित्र करती हो। घर में मांस और मदिरा तो बिलकुल भी न लाएं। हो सके तो इन सभी चीजों को अवॉइड करें। नॉनवेज खाना गलत नहीं मगर कुछ समय के लिए इससे दूर रहा जाए तो इससे भी सेहत पर बुरा असर नहीं पड़ता है। गणेश चतुर्थी के दौरान आपको फल और अनाज को ज्‍यादा महत्‍व देना चाहिए। सेहत पर भी इससे अच्‍छा प्रभाव पड़ता है। विघ्नहर्ता गणेश जी के बारे में आपने नहीं सुनी होंगी ये 4 रोचक कथाएं

Ganesh chaturthi five things need to be remember

घर में न लगाएं ताला 

गणेश चतुर्थी के दौरान अगर आप घर में गणेश जी की स्‍थापना कर रही हैं तो ध्‍यान रखें कि घर में ताला न लगने दें। इसकी बड़ी वजह यह है कि आप घर में आए किसी महमान को ताले में नहीं बंद कर सकते हैं और न ही उन्‍हें अकेला छोड़ सकते हैं।

इसलिए जब तक आप घर में गणेश जी को स्‍थापित कर रही हैं तब तक आपको घर पर ही रहना चाहिए।