बदलते दौर में पारिवारिक रिश्ते काफी कमजोर होने लगे हैं। अमूमन लोग इसके पीछे तरह-तरह की वजहें बताते हैं, लेकिन रिश्तों के कमजोर होने के पीछे एक मुख्य कारण होता है आपसी कम्युनिकेशन की कमी। दरअसल, आज के समय में हर कोई अपनी लाइफ में इतना बिजी है कि वह अपने सबसे करीबी रिश्तों को समय नहीं दे पाता। जिसके कारण ना तो वह एक-दूसरे की समस्याओं व मन में चल रही परेशानियों को समझ पाते हैं और ना ही साथ में वक्त बिताने से मिलने वाली खुशी का अहसास हो पाता है। इतना ही नहीं, आपसी कम्युनिकेशन की कमी के कारण आपस में गलतफहमियां पैदा होती हैं और इससे भी रिश्ते कमजोर होकर बिखरने लग जाते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि फैमिली कम्युनिकेशन को बढ़ावा दिया जाए। अब सवाल यह उठता है कि जब हर कोई अपने काम में इतना व्यस्त हैं, तो ऐसे में फैमिली कम्युनिकेशन को बेहतर किस तरह बनाया जाए। इसके लिए आपको बहुत कुछ करने की जरूरत नहीं है। बस आप कुछ छोटे-छोटे टिप्स बनाकर ऐसा बेहद आसानी से कर सकती हैं-

साथ में लें मील

 food time INSIDE

हो सकता है कि घर के हर सदस्य के काम करने का समय अलग हो, ऐसे में हर किसी के लिए एक साथ समय निकाल पाना काफी मुश्किल होता है। इसलिए आप अपने घर में एक नियम तय कर सकती हैं, जिसमें दिन के तीन मील में से कम से कम एक मील आप सभी सदस्य एक साथ लें। इससे आप सभी कुछ वक्त साथ बिताने और फैमिली कम्युनिकेशन को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।

इसे जरूर पढ़ें: Relationship Tips: परिवार के साथ रिश्ते मजबूत बनाना चाहती हैं तो ये 5 काम जरूर करें

शेड्यूल करें फैमिली टाइम

 Family Care tips inside

यह भी एक तरीका है फैमिली कम्युनिकेशन को बेहतर बनाने का। इसके लिए आप सभी की सहूलियत के अनुसार ऐसा समय तय कर सकती हैं, जिसमें सभी फैमिली मेंबर्स एक साथ हो। जरूरी नहीं है कि आप हर दिन दो-तीन घंटे साथ में बिताएं। महज आधा घंटा भी फैमिली टाइम के लिए पर्याप्त है, लेकिन जरूरी है कि आप सभी उसे ऐसे ही बैठकर खराब ना करें। बल्कि कुछ फैमिली एक्टिविटीज को बढावा दें। इससे ना सिर्फ आप सभी एक साथ अच्छा समय बिता पाएंगे, बल्कि इन एक्टिविटीज के कारण आपका आपसी कम्युनिकेशन और बॉन्ड भी मजबूत होगा।

जरूर करें सराहना

 Family Care Topic inside

हर व्यक्ति अपनी तारीफ सुनना चाहता है। अगर किसी व्यक्ति ने कोई अच्छा काम किया है तो वह अपने करीबियों से उसकी प्रशंसा सुनने की इच्छा रखता है। ऐसे में फैमिली कम्युनिकेशन को बेहतर बनाने के लिए इस तरीके को भी अपनाया जा सकता है। मसलन, अगर बच्चों ने कोई अच्छा काम किया है या फिर आपके पति या सास ने आपके लिए कुछ स्पेशल किया है तो दिल खोलकर उनकी तारीफ करें। इससे ना सिर्फ उन्हें अच्छा लगता है, बल्कि रिश्ते भी सुधरते हैं। साथ ही इस तरीके को अपनाने से आपसी कम्युनिकेशन को बेहतर बनाने के रास्ते भी खुलते हैं। हालांकि घर के किसी भी सदस्य की तारीफ करते समय इस बात का ध्यान रखें कि वह झूठी ना हो और आपकी बातों से सच्चाई झलकनी चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: सासू मां का जीतना है दिल तो पति की ये बातें उनसे बिल्कुल मत कहिए

सोशल मीडिया का करें इस्तेमाल

 Family Care Importance inside

कई बार ऐसा भी होता है कि परिवार के सदस्य चाहकर भी एक-दूसरे के साथ समय नहीं बिता पाते। हो सकता है कि सभी सदस्य फिजिकली रूप से एकसाथ मौजूद ना हो। ऐसे में फैमिली कम्युनिकेशन को बेहतर बनाने में सोशल मीडिया आपकी मदद कर सकती हैं। मसलन, आप व्हाट्स एप पर एक फैमिली गु्रप बना सकती हैं, जिसमें केवल आपके परिवार के सदस्य ही शामिल हों या फिर आप सोशल मीडिया पर भी एक साथ जुड़कर कुछ वक्त बिता सकते हैं। इस तरह जगह की दूरियां आपके आपसी रिश्तों में दूरी की वजह नहीं बनेगी।

Recommended Video

सुनें दूसरे की बात

 Family tips inside

अगर आप सच में फैमिली कम्युनिकेशन को बेहतर बनाना चाहती हैं तो यह बेहद जरूरी है कि आप सिर्फ अपनी बात ही ना करें, बल्कि सामने वाले व्यक्ति की बात भी उतना ही धैर्यपूर्वक सुनें। जब आप परिवार के सदस्यों की बातों को भी ध्यानपूर्वक सुनती हैं तो इससे आपको सभी का पक्ष समझने में मदद मिलती है और इससे रिश्तों में भी एक सकारात्मकता आती है। वहीं कम्युनिकेशन का यह तरीका अपनाने से फैमिली के अन्य सदस्य भी आपकी बातें उतना ही ध्यान से सुनते हैं, जिसके कारण आपके बीच का संवाद सार्थक बनता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।